अब 12-14 साल के बच्चों को भी लगेगी कोरोना की वैक्सीन, बुजुर्गों के लिए बूस्टर डोज पर भी बड़ा फैसला

वैक्सीनेशन को लेकर सरकार का नया फैसला सामने आया है, अब 12 से 14 साल की उम्र के बच्चों को भी वैक्सीन और 60 साल के बुजुर्गों को बूस्टर डोज दिया जायेगा।

Prins Bahadur Singh
Written by: Prins Bahadur SinghPublished at: Mar 15, 2022Updated at: Mar 15, 2022
अब 12-14 साल के बच्चों को भी लगेगी कोरोना की वैक्सीन, बुजुर्गों के लिए बूस्टर डोज पर भी बड़ा फैसला

देश में कोरोना की तीसरी लहर खत्म हो चुकी है और रोजाना सामने आने वाले मामलों की संख्या भी 2 हजार से 3 हजार के बीच में है। देश में कोरोना संक्रमण के खिलाफ सरकार द्वारा वैक्सीनेशन प्रोग्राम चलाया जा रहा है। अब तक देश में 14 साल से अधिक उम्र वाले बच्चों को ही कोरोना की वैक्सीन लगाई जा रही थी। लेकिन अब देश में 16 मार्च से 12 से 14 साल की उम्र के बच्चों को भी कोरोना वैक्सीन का डोज दिया जायेगा। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा यह जानकारी साझा की गयी है। स्वास्थ्य मंत्री मनसुख मांडविया ने भी ट्वीट कर ये जानकारी दी है। ऐसे समय में जब चीन समेत दुनिया के कई देशों में कोरोना के मामले खतरनाक स्थिति में बने हुए हैं, भारत सरकार द्वारा 12 से 14 साल की उम्र के बच्चों को कोरोना वैक्सीन का डोज देने का फैसला बहुत जरूरी माना जा रहा है।

12-14 साल के बच्चों को लगाई जाएगी ये वैक्सीन (Corona Vaccine For Children In India)

Corona-Vaccine-For-Children

केंद्र सरकार के स्वास्थ्य मंत्रालय द्वारा जारी सूचना के मुताबिक देश में 16 मार्च से 12 साल से 14 साल की उम्र के बच्चों को कोरोना वैक्सीन की डोज लगाई जाएगी। 12-14 साल के बच्चों को बायोलॉजिकल-ई कंपनी की कॉर्बेवैक्स वैक्सीन लगाई जाएगी। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने ये जानकारी साझा की है। इससे पहले भारत में डीजीसीआई ने इस वैक्सीन के इस्तेमाल की मंजूरी दी थी। देश में 14 साल की उम्र से ऊपर के सभी पात्र लोगों को कोरोना वैक्सीन की डोज लगाई जा रही थी लेकिन अब सरकार ने ये फैसला लिया है की 12 से 14 की उम्र के बच्चों को भी कोरोना वैक्सीन का डोज दिया जायेगा। देशभर में अब स्कूल और कॉलेज भी खुल गए हैं ऐसे में बच्चों 12 से 14 साल के बच्चों को वैक्सीन लगाने का फैसला बहुत अहम माना जा रहा है।

60 साल से अधिक उम्र वाले लोगों के लिए बूस्टर डोज (Covid Vaccine Booster Dose Update)

सरकार ने ये फैसला लिया है की 16 मार्च से कोरोना की बूस्टर डोज भी 60 साल से ज्यादा उम्र वाले सभी बुजुर्गों को दी जाएगी। बूस्टर डोज यानि प्रिकॉशन डोज अभी तक फ्रंटलाइन वर्कर और अधिक गंभीर मरीजों को ही दी जा रही थी। अब सरकार ने यह फैसला लिया है की 60 से ज्यादा उम्र वाले सबी बुजुर्ग लोगों को कोरोना वैक्सीन की प्रिकॉशन डोज दी जाएगी। अब तक 60 साल की उम्र वाले ऐसे मरीजों को बूस्टर डोज दी जा रही थी जो किसी गंभीर बीमारी से पीड़ित थे।

इसे भी पढ़ें : 12-18 साल के बच्चों को अब लगेगी 'कोर्बेवैक्स' वैक्सीन, जानें इस वैक्सीन के बारे में

सरकार द्वारा जारी जानकारी के मुताबिक पहले से चल रहे वैक्सीनेशन प्रोग्राम की तरह की 12 से 14 साल के बच्चों का भी वैक्सीनेशन किया जायेगा। बच्चों के लिए वैक्सीन और बुजुर्गों के लिए बूस्टर डोज सरकार की तरफ से लगाई जाएगी इसलिए आपको किसी भी तरह का कोई शुल्क नहीं देना है। जानकारी के मुताबिक 16 मार्च से सबसे पहले ऐसे बच्चों को वैक्सीनेशन में प्राथमिकता दी जा सकती है जो किसी गंभीर बीमारी से पीड़ित हैं या हाई रिस्क वाले हैं। 12 से 14 साल के बच्चों को लगने वाली कॉर्बेवैक्स वैक्सीन पूरी तरह से सुरक्षित और प्रभावी है। कॉर्बेवैक्स वैक्सीन को 2 से 8 डिग्री सेल्सियस तामपान में स्टोर किया जा सकता है और कोरोना के सभी वैरिएंट पर इसे प्रभावी माना जा रहा है।

(All Image Source - Freepik.com)

 
Disclaimer