अचानक से डाइट बदलना कर सकता है आपको बीमार, शोध में हुआ खुलासा

अध्ययन के अनुसार जो बार-बार आहार बदलना या अचानक हानिकारक हो सकता है क्योंकि हमारा इन बदलावों को आसानी से संभाल नहीं पाता है।

Pallavi Kumari
Written by: Pallavi KumariUpdated at: Feb 25, 2020 08:07 IST
अचानक से डाइट बदलना कर सकता है आपको बीमार, शोध में हुआ खुलासा

वजन कम करने या डायबिटीज या फिर खुद को फिट रखने के लिए बार-बार डाइट बदलना आपके लिए खतरनाक हो सकता है। ऐसा हम नहीं, बल्कि हाल हूी में आई एक स्टडी बता रही है। दरअसल एक स्टडी की मानें, तो एक रिस्ट्रिक्टेड डाइट फॉलो करने के बाद अचानक से कंप्लीट डाइट पर स्विच करने से व्यक्ति की उम्र कम हो सकती है। वहीं इसका शरीर पर नकारात्मक स्वास्थ्य प्रभाव भी पड़ सकते हैं। फ्रूट-फ्लाइस (fruit flies)नामक एक अध्ययन के अनुसार बार-बार आहार बदलना या अचानक से स्विच करना शरीर के लिए हानिकारक हो सकता है। ऐसा इसलिए क्योंकि बदलते आहार के साथ शरीर के हर अंग का काम प्रभावित होता है और इस तरह का अचानक बदलाव हमें बीमार बनाता है।

inside_differenttypeofdiet

क्या कहता है शोध

ब्रिटेन में शेफील्ड विश्वविद्यालय के शोधकर्ताओं ने, आहार का उम्र बढ़ने और उम्र से संबंधित बीमारी की शुरुआत के मामले में मनुष्यों को लाभान्वित कर सकते हैं में नई अंतर्दृष्टि प्रदान की है। साइंस एडवांसेस नामक जर्नल में प्रकाशित अध्ययन में, उन्होंने फलों में रहने वाले मक्खियों (ड्रोसोफिलिया मेलानोगास्टर) को प्रतिबंधित आहार खिलाया और फिर उन्हें एक समृद्ध आहार में लौटा दिया। इससे पता चला कि एक प्रतिबंधित भोजन खाने के बाद एक समृद्ध आहार पर स्विच करने से जीवन प्रत्याशा कम हो सकती है और नकारात्मक स्वास्थ्य प्रभाव पड़ सकते हैं। 

inside_baddietplans

इसे भी पढ़ें: डायबिटीज आयुर्वेदिक डिटॉक्स डाइट क्या है

मक्खियों पर किया गया है शोध

वैज्ञानिकों ने पाया कि ऐसा करने पर मक्खियों की मरने की संभावना अधिक हो जाती है। वहीं मक्खियां पहले की तुलना में कम अंडे देती थीं, जिन्होंने अपना पूरा जीवन एक समृद्ध आहार पर बिताया और उनका आहार बदल दिया गया। अध्ययन लेखकों का मानना है कि आहार प्रतिबंध मक्खियों को एक पूर्ण आहार के लिए बीमार बना सकता है। वहीं इनसानों की बात करें, तो मौजूदा सिद्धांत से मनुषयों में कुपोषण और जानवरों में जीवित रहने की रणनीति को लेकर चीजें बदल सकती हैं।

इस सिद्धांत में, वैज्ञानिकों ने सुझाव दिया कि मनुष्य और जानवर कम भोजन की उपलब्धता के समय में शरीर को बनाए रखने और मरम्मत करने में निवेश करते हैं, ऐसे समय का इंतजार करते हैं जब भोजन की उपलब्धता फिर से बढ़ जाती है। ऐसे में आहार प्रतिबंध के बजाय मरम्मत और रखरखाव तंत्र में वृद्धि, यह वास्तव में एक समृद्ध आहार के हानिकारक प्रभावों से बच सकता है। वैज्ञानिकों के अनुसार नई व्याख्या हमें यह समझने में मदद कर सकती है कि आहार का स्वास्थ्य पर क्यों और कैसे गहरा प्रभाव हो सकता है।

इसे भी पढ़ें : वजन को नियंत्रित रखता है मेडिटेरेनियन डाइट!

शोध के निष्कर्ष में यह भी बताते हैं कि कुछ स्थितियों में बार-बार आहार बदलना या अचानक स्वास्थ्य के लिए हानिकारक हो सकता है। शेफ़ील्ड विश्वविद्यालय के सह-लेखक एंड्रयू मैक्रेकेन की मानें तो अभी इसे लेकर और शोध करने की जरूरत है। वे शोध को लेकर कहते हैं कि हमारे परिणामों ने अब हमें एक और अधिक परिष्कृत स्पष्टीकरण की ओर इशारा किया है कि यह क्यों होता है और भविष्य के अनुसंधान का ध्यान पूरी तरह से स्थानांतरित करने की क्षमता है। यानी कि इस विषय पर अभी और शोध करने की जरूरत है।

Read more articles on Health-News in Hindi

Disclaimer