क्या शाम को योग करना चाहिए? जानें एक्सपर्ट की राय

शाम में योग करने के कई फायदे है। इससे आपको दिनभर की थकान के बाद अच्छी नींद आती है और दिमाग भी शांत रहता है। 

Dipti Kumari
Written by: Dipti KumariPublished at: Jun 17, 2022Updated at: Jun 17, 2022
क्या शाम को योग करना चाहिए? जानें एक्सपर्ट की राय

योग विज्ञान के अनुसार दिन को चार भागों में बांटा गया है- ब्रह्म मुहूर्त, सूर्योदय, दोपहर और सूर्यास्त। वैसे तो शारीरिक और मानसिक आवश्‍यकताओं के आधार पर योग के लिए अलग-अलग समय चुना जाता है और सुबह का समय हर किसी के लिए बेहतर माना गया है। लेकिन आप शाम के समय भी योग का अभ्यास कर सकते हैं। सुबह के बजाय अगर आप शाम को योग करते हैं तो आप पाएंगे कि आसनों को करते वक्त इतनी दिक्कत नहीं होती जितना कि सुबह। दरअसल इसकी वजह यह है कि पूरे दिन हम कई तरह की एक्टिविटीज करते रहते हैं, जिसे आप एक तरह से वॉर्मअप कह सकते हैं। वॉर्मअप के बाद योग हो या किसी भी तरह का दूसरा व्यायाम उन्हें करना बहुत ही आसान हो जाता है और चोट लगने की आंशका भी कम हो जाती है। योग की मदद से आपको मानसिक शांति मिलती है। शाम के समय योग करने से आपको फिजिकल फिटनेस के साथ-साथ मेंटल पीस भी मिलता है। इसकी सबसे अच्छी बात ये है कि आपको रात के समय अच्छी नींद आती है। इससे शरीर अच्छे से डिटॉक्सीफाई हो जाता है। कुछ खास तरह के व्यायाम शाम के समय करने से आपकी बॉडी अच्छे  से स्ट्रेच हो जाती है। शाम के समय योग करने के फायदे के बारे में जानने के लिए हमने बात की योगा एक्सपर्ट प्रियंका सिंह से। 

शाम को करें ये योगासन (Yoga at Evening)

1. अधोमुखासन 

अधोमुखासन का अभ्यास करने से आपको सिरदर्द और पैरों में दर्द की समस्या नहीं होती है। इससे आपके शरीर में फुर्तीलापन बना रहता है। यह आपके पाचन तंत्र को सही रखता है और पेट की समस्याओं को कम करता है। इससे आपको रात में अच्छी नींद आती है और थकान दूर हो सकती है। कंधे और हैमस्ट्रिंग को मजबूत करने के लिए आपको अधोमुखासन का अभ्यास जरूर करना चाहिए। 

yoga-evening

2. पश्चिमोत्तानासन

पश्चिमोत्तानासन को आप आसानी से शाम के समय कर सकते हैं। इससे हड्डियों में लचीलापन आता है और पेट की मांसपेशियां मजबूत होती है। पेट की चर्बी भी कम होती है और पाचन तंत्र सही रहता है। यह अनिद्रा और तनाव को दूर करने में भी आपकी मदद कर सकता है। इससे आपकी पीठ और रीढ़ की हड्डी भी मजबूत होती है। इसे आप शाम को ऑफिस या काम करके कर सकते हैं। 

3. उत्तानासन

उत्तानासन से हमारे शरीर का इम्यून सिस्टम मजबूत होता है। इस आसन से पीठ, हिप्स, पिंडली और टखनों को अच्छे से स्ट्रेच करने में मदद मिलती है। इससे दिमाग को शांत करने और तनाव से राहत पाने में मदद मिलती है। इससे पीठ दर्द से राहत मिलती है। 

4. त्रिकोणासन

इस आसन के अभ्यास से गर्दन, पीठ, कमर और पैर के दर्द से आराम मिल सकता है। शरीर का संतुलन बनाने के लिए ये योग काफी फायदेमंद हो सकता है। इससे आपका पाचन तंत्र ठीक हो सकता है। अपच और एसिडिटी से छुटकारा पाने के लिए भी आप इस योग का अभ्यास कर सकते हैं। इससे अतिरिक्त पेट की चर्बी और मोटापा दूर हो सकता है। साथ ही नींद भी अच्छी आती है। 

yoga-evening

5. अर्धमत्येंद्रासन

अर्धमत्येंद्रासन की मदद से आप अपने स्पाइन को फ्लेक्सिबव बना सकते हैं। यह आपको मसल्स को स्ट्रेच करने, कमर दर्द की अकड़न और ब्लड सर्कुलेशन को भी बढ़ाने में मदद करता है। इससे आप अपने डायबिटीज और हाई ब्लड प्रेशर की समस्या को कंट्रोल कर सकते हैं। इससे तनाव और चिंता भी कम हो सकती है। 

इसे भी पढ़ें- रोजाना योग करने से शरीर, मन और मस्तिष्क को मिलते हैं ये 6 फायदे

इन बातों का रखें ध्यान 

1. व्यायाम करने के समय और भोजन के समय में अंतर होना चाहिए। खाना खाने के बाद कम से कम एक घंटे तक योग न करें तो बेहतर।  इससे पेट दर्द के साथ डाइजेशन से जुड़ी समस्याएं आपको परेशान कर सकती हैं। योग करने के कम से कम एक घंटे बाद ही कुछ खाएं। 

2. योग सुबह करें या शाम, खुद को कूल डाउन करना उतना ही जरूरी है, जितना वॉर्मअप करना जरूरी होता है। इसके लिए योग करने के बाद आप गहरी सांसें ले सकते हैं।

3. अगर आप शाम के वक्त योग करते हैं, तो 3 से 5 बजे का टाइम एकदम परफेक्ट होता है क्योंकि अगर आप रात का समय योग के लिए चुनते हैं और उसके तुरंत बाद सो जाते हैं तो इसका किसी भी तरह से शरीर को फायदा नहीं मिलता है।

4. खाने की ही तरह पानी पीने का भी नियम है। आधे या एक घंटे पहले पानी पी लें। योग के तुरंत पहले या बीच में बहुत सारा पानी पीने से कई तरह की दिक्कतें आ सकती हैं। बहुत ज्यादा प्यास लगने पर दो से तीन घूंट पानी पीने में कोई नुकसान नहीं होता लेकिन अधिक पानी न पिएं। 

 (All Image Sources- Priyanka Singh)
Disclaimer