लौंग के फायदे और नुकसान, न्यूट्रीशनिस्ट से जानें इसके बारे में

लौंग का लेय हो या उसकी गिरी, दोनों ही सेहत के लिए बेहद उपयोगी है। आइये एक्सपर्ट से जानते हैं इसके फायदे और नुकसान...

Garima Garg
Written by: Garima GargPublished at: Dec 22, 2020Updated at: Dec 22, 2020
लौंग के फायदे और नुकसान, न्यूट्रीशनिस्ट से जानें इसके बारे में

लौंग का इस्तेमाल ना केवल भारतीय खाने में किया जाता है बल्कि इसका प्रयोग धार्मिक पूजा आदि में भी करते हैं। यह न केवल खाने में महक लाती है बल्कि इसके अंदर पाए जाने वाले पौष्टिक गुण सेहत के लिए भी बेहद अच्छे हैं। इसके अंदर एंटीवायरल, एंटीसेप्टिक, एंटी इन्फ्लेमेटरी, एंटीऑक्सीडेंट आदि गुण भरपूर मात्रा में होते है। वहीं इसमें सोडियम, फॉस्फोरस, मैग्नीशियम, आयोडीन, विटामिन के, सी, ओमेगा 3 फैटी एसिड, कैल्शियम, मैग्नीशियम, पोटेशियम आदि भरपूर मात्रा में पाया जाता है। हम आज इस लेख के माध्यम से आपके बताएंगे कि लौंग के तेल, पाउडर और गिरी के क्या-क्या फायदे होते हैं। साथ ही अगर इसका अधिक मात्रा में सेवन कर लिया जाए तो सेहत को क्या नुकसान का सामना करना पड़ सकता है। पढ़ते हैं आगे... 

clove uses

तनाव हो जाएगा दूर

जो लोग अत्यधिक तनाव में ग्रस्त रहते हैं उनके लिए लौंग की चाय बेहद असरकारी है। बता दें कि शरीर का तनाव मांसपेशियों में भी तनाव ला सकता है। ऐसे में लौंग के अंदर युगेनोल पाया जाता है जिससे मांसपेशियों के तनाव को दूर किया जा सकता है। ऐसे में आप लौंग से बनी चाय का सेवन कर सकते हैं। इसके अलावा लौंग के तेल की कुछ बूंदे पानी में मिलाकर स्नान कर सकते हैं, इससे भी तनाव दूर हो जाएगा। 

लौंग से पाचन शक्ति हो बढ़िया

बता दें कि लौंग के सेवन से पेट की अन्य समस्याएं जैसे गैस बनने की समस्या, पेट फूलना, ब्लाटिंग आदि समस्याएं दूर हो जाती है। इसके अलावा यदि आप लौंग का सेवन करते हैं तो पाचन तंत्र के अंदर एंजाइम के उत्पादन में वृद्धि होती है और पाचन क्रिया के कार्य में सुधार भी आता है। बता दें कि लौंग के सेवन से दस्त, पेट में गैस, उल्टी, गैस्ट्रिक आदि समस्या दूर होती है। इसके अलावा लौंग का तेल पेट में आई सूजन और पेट में बैक्टीरिया को दूर रखता है। ऐसे में आप लौंग का सेवन पाचन शक्ति के सुधार के लिए कर सकते हैं। साथ ही खाना खाने के बाद लौंग को माउथ फ्रेशनर के रूप में भी इस्तेमाल कर सकते हैं।

जोड़ों के दर्द में को करें दूर

बता दें कि लॉन्ग के अंदर एंटीइन्फ्लेमेटरी और एनाल्जेसिक गुण होते हैं, जिससे जोड़ों का दर्द, मांसपेशियों का दर्द, गठिया का दर्द आदि दूर हो सकते हैं। इसके अंदर पाए जाने वाले कैल्शियम, ओमेगा 3 फैटी एसिड आदि हड्डियों को मजबूती देते हैं। साथ ही इसके सेवन से हड्डियों में ताकत आती है। वहीं अगर लौंग का तेल जोड़ों में लगाया जाए तो सूजन तुरंत चली जाती है। इसके लिए आप लौंग के तेल में जैतून का तेल मिलाएं और दिन में कई बार मालिश करें। आराम मिलेगा।

इसे भी पढ़ें- सौंफ खाने के फायदे और नुकसान, एक्सपर्ट से जानें जानकारी

clove uses 

सिर के दर्द को करें कम

यदि आप माइग्रेन की समस्या से परेशान रहते हैं या आपको जल्दी तनाव हो जाता है तो लौंग का तेल आपको छुटकारा दिला सकता है। बता दें कि लौंग के तेल के अंदर एंटी इन्फ्लेमेटरी गुण पाए जाते हैं, जिससे सिर को ना केवल ठंडा महसूस होता है बल्कि यह तनाव दिलाने में मददगार है। इसके लिए आप लौंग की तेल की कुछ बूंदे एक रुमाल या कपड़े में डालें और अपने माथे पर 15 मिनट के लिए रख लें ऐसा करने से दिमाग की नसें खुल जाएंगी और दर्द में आराम मिलेगा।

जी मिचलाने की समस्या को करें दूर

कुछ लोगों को उल्टी, उबकन, जी मचलाने जैसा समस्या होती है। ऐसे में लौंग का सेवन किया जा सकता है और इस समस्या से छुटकारा पाया जा सकता है। साथ ही गर्भावस्था में यदि इस तरह की परेशानी सामने आए तो डॉक्टर भी लौंग के तेल की कुछ बूंदों को कपड़े में डालकर सूंघने की सलाह देते हैं। और वे कहते हैं कि उनकी कलियों को चबाने से यह समस्या दूर हो जाती है। इसके अलावा लौंग के पाउडर में शहद मिलाएं और खाएं। इससे भी यह समस्या दूर हो जाती है।

इसे भी पढ़ें- एसिडिटी की समस्या से हैं परेशान? जानें एसिडिटी होने पर क्या खाएं और क्या ना खाएं

 मुंह से आने वाली दुर्गंध को करे दूर

लौंग के अंदर दुर्गंध को मारने के गुण पाए जाते हैं। साथ ही यह मुंह में बैक्टीरिया को भी हटाता है। ऐसे में आप जीभ, गले की सफाई आदि लौंग के माध्यम से कर सकते हैं। आप लौंग के कुछ टुकड़े चबाएं। आप महसूस करेंगे कि मुंह की बदबू जा चुकी है। आप ठंडी लौंग की चाय से भी कुल्ला कर सकते हैं इससे भी समस्या दूर हो जाती है।

मुहांसों को करें कम

बता दें कि की लौंग के अंदर ब्लैक हेड्स, व्हाइट हेड्स आदि से संबंधित समस्या को दूर करने के गुण पाए जाते हैं। इसके अलावा जिन लोगों के त्वचा में मुंहासे के बाद निशान रह जाते हैं उन्हें भी कम करने में लौंग बेहद कारगर है। इसके लिए लौंग का तेल और नारियल के तेल एक साथ मिलाएं और रूई की मदद से त्वचा पर लगाएं। बता दें कि इस धीरे असर होता है। ऐसे में मिश्रण को तब तक लगाएं जब तक चेहरे के निशान दूर ना हो जाए।

क्या है लौंग की तासीर?

बता दें कि लौंग गर्म प्रवृत्ति का होता है। ऐसे में सर्दियों में इसका सेवन सेहत के लिए अच्छा है साथ इसके अनेक परिणाम सामने आ सकते हैं। लेकिन एक्सपर्ट गर्मी में इसका सेवन कम करें तो सेहक के लिए तो कोई दुष्परिणाम सामने नहीं आते हैं। 

लौंग से होने वाले सेहत को नुकसान

जैसे कि हमने पहले भी बताया कि यदि कोई जड़ी बूटी फायदा देती है तो वह शरीर को नुकसान भी पहुंचा सकती है। ऐसे में लौंग का अधिक मात्रा में सेवन करने से शरीर को नकारात्मक प्रभाव मिल सकता है।

  • लौंग का अधिक सेवन गुर्दों और आंतों को नुकसान पहुंचा सकता है।
  • लौंग का अधिक मात्रा में सेवन किया जाए तो शरीर में जलन भी हो सकती है।
  • मिटा दें कि लोंग से खून पतला होता है इसीलिए बिल्डिंग का खतरा बढ़ सकता है।
  • लौंग के ज्यादा सेवन से त्वचा में एलर्जी भी हो सकती है। 
  • गर्भवती महिला को इसका सेवन एक्सपर्ट की सलाह पर करना चाहिए। वरना शिशु को परेशानी का सामना करना पड़ सकता है।

नोट- एक्सपर्ट कहते हैं कि अगर लौंग का सेवन उचित मात्रा में किया जाए तो शरीर को हर प्रकार से स्वस्थ रखने में कारगर है। इसके दुष्परिणामों से डरने की कोई जरूरत नहीं है ऐसे में आप तीन या चार लौंग का सेवन 1 दिन में कर सकते हैं।

Read More Articles in healthy diet in hindi

Disclaimer