साइंस ने भी माना सिंगल रहना है स्वास्थ्य के लिए ज्यादा फायदेमंद, जानें कैसे?

सिंगल लोग अधिक मिलनसार होते हैं, बेहतर तरीके से अपने कनेक्शन बनाते हैं और विवाहित जोड़ों की तुलना में उनके निकटतम लोगों के नेटवर्क अच्छे होते हैं।

Pallavi Kumari
Written by: Pallavi KumariPublished at: Feb 13, 2020
साइंस ने भी माना सिंगल रहना है स्वास्थ्य के लिए ज्यादा फायदेमंद, जानें कैसे?

वैलेंटाइन डे आने के साथ हर तरफ प्यार के हूी चर्चे होते हैं। इस लोकप्रिय संस्कृति ने हमें विश्वास दिलाया है कि प्यार कितना जरूरी है। पर हाल ही में आए एक शोध की मानें, तो सिंगल रहना आपके मानसिक स्वास्थ्य के लिए अच्छा है। इसलिए अगर आप प्यार में नहीं है, तो आपको चिंतित होने की जरूरत नहीं है। विज्ञान की मानें, तो सिंगल होने के कई मानसिक और शारीरिक स्वास्थ्य लाभ हैं। विशेषज्ञों का कहना है कि कुछ लोग अकेले होने से डरते हैं। उन्हें लगता है कि उनके साथ ऐसा होना सबसे बुरा संभव है। तो, किसी के साथ होने का विचार उन्हें राहत देता है। पर ये उनकी आदत में शुमार हो जाता है और स्वास्थ्य के लिए नुकसानदायक है।

Inside_singlebenefits

क्या कहता है शोध?

जीवन में आपके द्वारा बनाए गए रिश्ते और दोस्ती आपके स्वास्थ्य पर महत्वपूर्ण प्रभाव डालते हैं। शोध की मानें, तो प्रतिबद्ध रिश्तों में व्यक्ति अधिक खुश होते हैं पर अगर चीजें बदलने लगे तो व्यक्ति परेशान हो जाता है। संयुक्त राज्य में व्यक्तियों की संख्या जो 1950 के दशक से सिंगल हैं, जो काफी बढ़ी हैं। अमेरिकी जनगणना ब्यूरो के डेटा में कहा गया है कि 2016 में 110.6 मिलियन अमेरिकी वयस्क अकेले थे और ज्यादा खुश थे। जिन्होंने जल्दबाजी की उनमें आगे चलकर अलगाव की स्थिति उत्पन्न हो गई। कैरियर के लक्ष्यों को पूरा करने के कारण लगभग 40-50 प्रतिशत लोगों में तलाक दर, सिंगल पेरेंट्स, और अलगाव मेंवृद्धि हुई है। वहीं इसके कई फायदे हैं।

Inside_singletips

इसे भी पढ़ें: Valentine Day 2020: वैलेंटाइन डे पर लॉन्ग डिस्टेंस रिलेशनशिप वाले कपल्स न हो निराश, ऐसे बनाएं अपने दिन को खास

स्वास्थ्य के लिए कैसे अच्छा है सिंगल रहना?

बॉडी मास इंडेक्स (बीएमआई) एक माप है जो यह निर्धारित करता है कि आपका वजन किलोग्राम में अपने वजन को मीटर वर्ग में अपनी ऊंचाई से विभाजित करके स्वस्थ है या नहीं। रोग नियंत्रण और रोकथाम केंद्र (सीडीसी) के अनुसार, 18.524.9 का बीएमआई एक स्वस्थ वजन स्थिति माना जाता है। स्विट्जरलैंड में बेसल विश्वविद्यालय और जर्मनी में मैक्स प्लैंक इंस्टीट्यूट फॉर ह्यूमन डेवलपमेंट द्वारा किए गए शोध में पाया गया कि हालांकि शादीशुदा जोड़े एकल लोगों की तुलना में बेहतर भोजन करते हैं, वे कम खेलते हैं और स्ट्रेस से उनका वजन बढ़ने लगता है।

इसे भी पढ़ें: Promise Day 2020: इस प्रॉमिस डे को बनाएं खास, पार्टनर के साथ-साथ खुद से भी करें ये 4 वादे

औसत ऊंचाई वाले पुरुषों और महिलाओं के अध्ययन ने विवाहित और एकल लोगों के बीच एक बीएमआई अंतर की खोज की, जो लगभग 2 किलोग्राम के बराबर है। यह देखते हुए कि एक उच्च बीएमआई हृदय रोग, टाइप 2 मधुमेह, सांस लेने की समस्याओं, पित्त पथरी और कुछ कैंसर जैसे रोगों के लिए आपके जोखिम को बढ़ाता हैष। ऐसे में सिंगल लोगों के बीएमआई को निश्चित रूप से बाकी लोगों से बेहतर हैं। साथ ही सिंगल रहना मनोवैज्ञानिक विकास को बढ़ाता है और उत्पादकता और रचनात्मकता को भी बढ़ावा देता है।

Read more articles on Health-News in Hindi

Disclaimer