शरीर में बैड कोलेस्ट्रॉल बढ़ने पर दिखते हैं ये संकेत, तुरंत हो जाएं अलर्ट

गुड कोलेस्ट्रॉल सेहत के लिए बहुत अच्छा होता है, लेकिन शरीर में बैड कोलेस्ट्रॉल बढ़ जाए तो बीमारियों का खतरा कई गुणा बढ़ जाता है। 

Ashu Kumar Das
Written by: Ashu Kumar DasUpdated at: Nov 17, 2022 18:45 IST
शरीर में बैड कोलेस्ट्रॉल बढ़ने पर दिखते हैं ये संकेत, तुरंत हो जाएं अलर्ट

Bad cholesterol symptoms in hindi: आजकल की लाइफस्टाइल में लोगों को कई तरह की हेल्थ प्रॉब्लम हो रही है। इन्हीं हेल्थ प्रॉब्लम में से हैं हार्ट अटैक, स्ट्रोक और हार्ट फेलियर। हार्ट संबंधी समस्याएं शरीर में कोलेस्ट्रॉल का स्तर बढ़ने के कारण होती है। कोलेस्ट्रॉल को आम भाषा में समझा जाए तो ये एक मोम जैसा पदार्थ होता है जो लिवर में बनता है और शरीर के हर हिस्से में पाया जाता है। सेल्स को हेल्दी बनाने के लिए कोलेस्ट्रॉल की सबसे ज्यादा जरूरत होती है। हमारे शरीर में दो तरह का कोलेस्ट्रॉल पाया जाता है। पहला होता है गुड कोलेस्ट्रॉल और दूसरा होता है बैड कोलेस्ट्रॉल।

गुड कोलेस्ट्रॉल सेहत के लिए बहुत अच्छा होता है, लेकिन शरीर में बैड कोलेस्ट्रॉल बढ़ जाए तो बीमारियों का खतरा कई गुणा बढ़ जाता है। भारत में बढ़ रहे हार्ट संबंधी बीमारियों को देखते हुए आज इस लेख में हम आपको बताने जा रहे शरीर में बैड कोलेस्ट्रॉल का स्तर बढ़ने के लक्षणों के बारे में। 

Symptoms of increased cholesterol level in the body

इसे भी पढ़ेंः कच्ची सब्जियां खाने से सेहत को मिलते हैं ये 5 फायदे, जानें कौन सी सब्जी खाना है सुरक्षित

शरीर में कोलेस्ट्रॉल लेवल बढ़ने के लक्षण - Symptoms of increased cholesterol level in the body

कैलिफोर्निया विश्वविद्यालय सैन फ्रांसिस्को के सर्जरी डिपार्टमेंट द्वारा की गई एक रिसर्च के मुताबिक, शरीर में कोलेस्ट्रॉल का लेवल हाई होने पर निम्नलिखित लक्षण दिखाई देते हैंः

कैंप्स यानी की शरीर में ऐंठन होना

क्रैंप्स यानी की शरीर के किसी भी हिस्से में बार-बार ऐंठन होना। कई रिसर्च में ये बात सामने आई है कि शरीर में बैड कोलेस्ट्रॉल लेवल बढ़ने से पैर, जांघ, कूल्हे, पिंडलियों और पंजे में क्रैंप्स की समस्या का सामना करना पड़ सकता है। कई बार ये समस्या थोड़ी देर रहती है और ठीक हो जाती तो ये बैड कोलेस्ट्रॉल का लक्षण माना जाता है। 

मतली आना

कई बार लोगों को कुछ भी हल्का-फुल्का खाने के तुरंत बाद लोगों को मतली आने लग जाती है। अगर ये समस्या एक या दो दिन रहती है तो मौसमी हो सकती है, लेकिन बार-बार होती है तो ये शरीर में बैड कोलेस्ट्रॉल लेवल बढ़ाने का संकेत हो सकती है।

पसीना आना

कुछ मामलों में पसीना आना सेहत और स्किन के लिए अच्छा माना जाता है। लेकिन आपको नॉर्मल तापमान में बिना किसी फिजिकल एक्टिविटी या छोटी सी भी फिजिकल एक्टिविटी करने पर पसीना आता है तो ये शरीर में बैड कोलेस्ट्रॉल लेवल बढ़ने का संकेत हो सकता है। 

इसे भी पढ़ेंः Tejpatta Tea Benefits: सर्दियों में पिएं तेजपत्ता की चाय, सेहत को मिलेंगे कई फायदे

बैड कोलेस्ट्रॉल लेवल बढ़ने पर क्या करें?

ब्रिटिश हार्ट फ़ाउंडेशन के विशेषज्ञ कहते हैं, अगर जीवनशैली में बदलाव करने के साथ स्वस्थ आहार का सेवन किया जाए तो कोलेस्ट्रॉल के स्तर को बढ़ने से आसानी से रोका जा सकता है। इसके लिए कुछ बातों का विशेष ख्याल रखना आवश्यक है।

शराब और धूम्रपान से दूरी बना लें।

सप्ताह में कम से कम 150 मिनट व्यायाम करें।

रिफाइंड खाद्य पदार्थ, सेचुरेटेड फैट और अतिरिक्त शुगर के सेवन से बचें।

अपने आहार में दाल, बीन्स, नट्स, टोफू को आदि को शामिल करें।

 

 
Disclaimer

Tags