गर्मी में अपच, बदहजमी, गैस जैसी पेट की समस्याओं से जल्द आराम के लिए करें इन 8 हर्ब्स का इस्तेमाल

गर्मी में पेट से जुड़ी कई तरह की परेशानी हो सकती है। इन परेशानियों से  राहत पाने के लिए आप आयुर्वेदिक हर्ब्स का इस्तेमाल कर सकते हैं।

 

Kishori Mishra
Written by: Kishori MishraPublished at: Mar 26, 2022Updated at: Mar 26, 2022
गर्मी में अपच, बदहजमी, गैस जैसी पेट की समस्याओं से जल्द आराम के लिए करें इन 8 हर्ब्स का इस्तेमाल

गर्मी ने जोरों-शोरों से दस्तक दे दी है। अप्रैल से लेकर जुलाई तक काफी ज्यादा गर्मी होती है। जिसका सीधा असर आपके स्वास्थ्य पर भी पड़ता है। धूप और लू के चलते लोग कई तरह की समस्याओं के शिकार होने लगते हैं। इन समस्याओं में पेट से जुड़ी परेशानी काफी अहम है। जी हां, गर्मी या फिर लू लगने पर पेट में गैस, उल्टी, पेट फूलना, मुंह में खट्टा पानी आना, खाना खाने के बाद खट्टी डकार, छाती फूलना और कब्ज जैसी परेशानी बनी रहती है। इन परेशानियों को कम करने के लिए आप कुछ आयुर्वेदिक नुस्खों का सहारा ले सकते हैं। हमारे आसपास कुछ ऐसी आयुर्वेदिक जड़ी-बूटियां मौजूद होती हैं, जो गर्मी में होने वाली इन समस्याओं को दूर करने में प्रभावी हो सकती हैं। आइए जानते हैं इसके बारे में विस्तार से- 

1. तुलसी की पत्तियां

तुलसी की पत्तियां हमारे शरीर में क्लींजिग एजेंट के रूप में कार्य करती हैं। हजारों सालों से आयुर्वेद में तुलसी का इस्तेमाल औषधी के रूप में किया जाता है। इसका इस्तेमाल गर्मी में शरीर को ठंडक पहुंचाने के लिए किया जा सकता है। अगर आप नियमित रूप से तुलसी से तैयार हर्बल टी का सेवन करेत हैं, तो यह पेट की परेशानियों को दूर कर सकता है। साथ ही गर्मी में होने वाली स्ट्रेस को भी रिलीज कर सकता है। 

इसे भी पढ़ें - गर्मी की तेज धूप से बाल हो सकते हैं डैमेज, इन आसान टिप्स से करें बालों को सुरक्षित

2. ब्राह्मी है लाभकारी

आयुर्वे में ब्राह्मी का इस्तेमाल कई तरह की शारीरिक परेशानियों को दूर करने के लिए किया जाता है। पेट से जुड़ी परेशानी और मानसिक समस्याओं को दूर करने के लिए आप इसका इस्तेमाल कर सकते हैं। यह आपकी तंत्रिका तंत्र को शांत करके गर्मी के दौरान होने वाली घरबराहट को कम करता है। साथ ही पेट को ठंडा करने में भी असरदार है। 

3. अश्वगंधा का करें इस्तेमाल

शारीरिक उर्जा को बढ़ाने के लिए कई आयुर्वेदिक एक्सपर्ट अश्वगंधा का सेवन करने की सलाह देते हैं। यह एक ऐसी आयुर्वेदिक जड़ी-बूटी है, जो शरीर में ब्लड शुगर को कंट्रोल कर सकता है। साथ ही यह पेट फूलना, बदहजमी, गैस इत्यादि को कम कर सकता है। साथ ही गर्मी के दौरान होने वाली मानसिक समस्याओं को भी दूर कर सकता है। 

4. मंजिष्ठा है फायदेमंद

मंजिष्ठा के इस्तेमाल से शरीर के विषाक्त पदार्थों को बाहर किया जा सकता है। इस आयुर्वेदिक जड़ी बूटी के  सेवन से पेट को ठंडक मिलती है। साथ ही यह गर्मी के दौरान होने वाली पेट से जुड़ी परेशानियों को कम करने में लाभकारी हो सकता है। इसमें मौजूद एंटी-इंफ्लेमेटरी गुण पेट फूलना, गैस, बदहजमी को कम कर सकता है।

6. पुदीने की पत्तियों का करें सेवन

पुदीने की पत्तियों का इस्तेमाल भी आप पेट को ठंडा करने के लिए कर सकते हैं। गर्मी में अधिकतर लोग पुदीने की पत्ती का सेवन करते हैं, इससे पेट में गैस, ब्लोटिंग, सीने में जलन इत्यादि को कम किया जा सकता है। यह वात, पित्त और कफ दोष को दूर कर सकता है। इसका सेवन आप चटनी के रूप में या फिर किसी भी तरह के डिश में एड करके कर सकते हैं। 

7. अमजोद भी है असरदार 

गर्मी के दौरान पेट में गैस की परेशानी होने पर अमजोद का इस्तेमाल किया जा सकता है। यह एक ऐसी जड़ी-बूटी है, जो शरीर को डिटॉक्सिफाई करता है। साथ ही इससे शरीर में हो रही अन्य परेशानी भी दूर होती है। अमजोद की पत्तियों को खाना पकाने के दौरान इस्तेमाल किया जा सकता है। साथ ही इसका जूस भी आपके लिए लाभकारी है। 

8. कैमोमाइल टी पाचन को करे दुरुस्त

गर्मी के सीजन में कैमोमाइट टी आपके लिए एक बेहतर विकल्प हो सकता है। इससे गैस्ट्रिक की परेशानी दूर होती है। साथ ही यह गैसेट्राइटिस के दौरान होने वाली सूजन को कम कर सकता है। पाचन संबंधी समस्या को दूर करने के लिए कैमोमाइल टी का नियमित रूप से सेवन करना लाभकारी है। 

इसे भी पढ़ें - धूप से स्किन पर दाने, खुजली और रैशेज हैं एलर्जी का संकेत, जानें इसे दूर करने के घरेलू उपाय

बढ़ती गर्मी के दौरान पेट में होने वाली परेशानियों को दूर करने के लिए आप इन आयुर्वेदिक जड़ी-बूटियों का इस्तेमाल कर सकते हैं। हालांकि, ध्यान रखें कि अगर आपको पेट में गर्मी या फिर पाचन की परेशानी अधिक हो रही है, तो इस स्थिति में डॉक्टर से संपर्क जरूर करें।

Disclaimer