दूसरों से ज्यादा परेशान करती है आपको कोई भी बात? इस मानसिक हलचल को शांत करने के लिए करें ये 3 काम

मानसिक बीमारियों की शुरुआत को अक्सर लोग पहचान नहीं पाते। ऐसे में अगर आप भी जरूरत से ज्यादा सोचते हैं, तो इस आदत पर काबू पाएं।

Pallavi Kumari
Written by: Pallavi KumariPublished at: Oct 08, 2020Updated at: Oct 08, 2020
दूसरों से ज्यादा परेशान करती है आपको कोई भी बात? इस मानसिक हलचल को शांत करने के लिए करें ये 3 काम

भागदौड़ और तनाव से भरी जिंदगी आज कल हर किसी के जीवन का हिस्सा बन गई है। पर अगर आप इस स्ट्रेस को मैनेज करना नहीं सीखेंगे, तो ये आपको मानसिक बीमारियों का शिकार बना देगी। जी हां,  इन दिनों जिस तरह से मानसिक बीमारियां बढ़ रही हैं, उनमें सबसे बड़ा हाथ तनाव और नींद की कमी का है। ये दोनों आपके मस्तिष्क के साथ खेल सकती हैं और इसे हमेशा एक ऑन मोड में धकेल सकती है। यानी कि आप सोएं या जागे आपका दिमाग चलता ही (overthinking)रहेगा। ऐसे लोग छोटी सी बात को लेकर भी बहुत सोचते हैं और चिंता और घबराहट में रहते हैं। वहीं ये सिर्फ आपके मन को ही परेशान नहीं करता है बल्कि आपके शरीर पर भी इसका बुरा प्रभाव पड़ता है। ऐसे मस्तिष्क वाले व्यक्तियों को भूख न लगने, मोटापा और पाचनतंत्र से जुड़ी परेशानियां होती हैं। 

insidecontrolyourthoughts

अगर आप भी इन तमाम परेशानियों को महसूस कर रहे हैं या आपको लगता है कि आप दूसरों की तुलना में हर चीज को लेकर ज्यादा सोचते हैं, तो आपको अपने इस मानसिक स्थिति को ठीक करना चाहिए। इसके लिए आप अपने डॉक्टर से बात कर सकते हैं औसर उनकी मदद ले सकते हैं। पर कोशिश करें कि इस परेशानी को शुरुआत से ही मैनेज करना सीखें। यानी कि अगर आपको ऐसी कोई भी आदत लग रही है, तो आपको खुद पर काबू करने की कोशिश (How to Stop Worrying and Enjoy Life)करनी चाहिए। वहीं आज हम आपको ऐसे तीन टिप्स बताएंगे, जिसकी मदद से आप अपने चिंता पर तुरंत लगाम लगा सकते हैं।

1.माइंडफुल वॉक करें

हार्वर्ड हेल्थ पब्लिशिंग के अनुसार, माइंडफुल वॉक लेना एक ही समय में व्यायाम और आराम दोनों का एक शानदार तरीका है जब आप चलते हैं और लयबद्ध तरीके से सांस लेते हैं, तो आपको अपने शरीर की संवेदनाओं के बारे में जागरूक होने का मौका मिलता है। घूमना आपके आस-पास के स्थलों और गंधों के प्रति आपकी जागरूकता का विस्तार करता,  जिस दौरान दिमाग की स्थिति बदल जाती है और आप जो सोच रहे होते हैं उन चीजों को भूल जाते हैं। इस तरह वो बात हल्की हो जाती है और आपका दिमाग नई स्थिति में आ जाता है।

इसे भी पढ़ें: Healthy Morning: इन तरीकों से अपनी सुबह को बनाएं हेल्दी, यहां दिए टिप्स आएंगे काम

2. गाने सुनें

अगर आप आपको ज्यादा सोचने की आदत हो रही है और आपने मन में कोई भी बात घर कर जाती है, तो आपको गाना सुनने की कोशिश करनी चाहिए। जैसे कि आपको कोई बात बहुत बुरी लगी हो या आप बहुत गुस्से में हो, तो आपको तुरंत ही अपना मूड बदलने के लिए हेड फोन लगाकर गाना सुनना चाहिए। वहीं इस दौरान आप कुछ क्रिएटिव काम को करने की भी कोशिश कर सकते हैं। जैसे कि गाना सुनते हुआ आप खाना बना सकते हैं या फिर गार्डनिंग कर सकते हैं।

insidebenefitsofmusic

3. कलरिंग बुक में कलर करें

रंगों का आपके दिमाग पर अक्सर एक व्यापक असर होता है। जर्नल ऑफ द अमेरिकन आर्ट थेरेपी एसोसिएशन द्वारा प्रकाशित एक शोध के अनुसार, कलरिंग आपके चिंता को कम करने के लिए फायदेमंद है। वहीं ये आपके मानसिक स्थियों को भी दर्शाती हैं, जैसे कि भड़काऊ रंग गुस्से को और शांत रंग शांति को। दरअसल जब हम रंग लेते हैं तो हमें अपने मस्तिष्क के तार्किक बाएं गोलार्ध (मोटर नर्व) और रचनात्मकता, दोनों का उपयोग करना पड़ता है। ये गतिविधि आपकी चिंता भूला देती है और इस तरह आप अपने दुख और उन विचारों को भूल जाते हैं।

इसे भी पढ़ें: मन के खालीपन को दूर करने के लिए परिवार और रिश्तों का साथ ज़रूरी, रिश्तों में ऐसे बढ़ाएं मिठास

ये तीन चीजें भले ही आपको इतनी कारगर न लगती हो, पर जब कभी आपको ज्यादा चिंता हो तो आपको इन्हें ट्राई करके देखना चाहिए। आप इन कामों को करने के बाद महसूस करेंगे कि आपका दिमाग हल्का हो गया है और आप अब उस गति या उस भाव से उन बातों को नहीं सोच रहे हैं, जिस भाव से आप पहले सोच रहे थे। इस तरह शुरुआत से ही ज्यादा सोचने की आदत पर लगाम लगा कर आप अपने मानसिक स्वास्थ्य को ठीक रख सकते हैं।

Read more articles on Mind-Body in Hindi

Disclaimer