क्या डायबिटीज में किशमिश खा सकते हैं? एक्सपर्ट से जानें इसे खाने के फायदे और सही तरीका

डायबिटीज के मरीज किशमिश खाने से अक्सर बचते हैं पर क्या ये सच में उतना ही नुकसानदेह है। आइए एक्सपर्ट से जानते हैं किशमिश के फायदे। 

 
Pallavi Kumari
Written by: Pallavi KumariUpdated at: Jan 24, 2022 14:45 IST
क्या डायबिटीज में किशमिश खा सकते हैं? एक्सपर्ट से जानें इसे खाने के फायदे और सही तरीका

3rd Edition of HealthCare Heroes Awards 2023

डायबिटीज के मरीजों को कुछ भी खाने से पहले सौ बार सोचना पड़ता है। ऐसा इसलिए कि बिना सोचे समझे कुछ भी खाना डायबिटीज में शुगर बढ़ाने का काम करता है। ऐसे में डायबिटीज के मरीजों को उन चीजों का चुनाव करना पड़ता है जिनमें शुगर की मात्रा कम हो और जिनका ग्लाइसेमिक इंडेक्स लो हो। इसके अलावा डायबिटीज में हर चीज को खाने की टाइमिंग भी बहुत मायने रखती है क्योंकि आप कौन सी चीज कब खाते हैं इसका आपके शुगर पर भी असर होता है। लेकिन कई ऐसी खाने की चीजे हैं जिसे लेकर डायबिटीज के मरीजों के मन प्रश्न उठते रहते हैं कि क्या इसे खाएं या ना खाएं? ऐसी ही एक चीज है किशमिश (raisins),जिसका स्वाद मीठा होता है और डायबिटीज के मरीज इसे ये सोच कर नहीं खाते कि इससे आपका शुगर बढ़ सकता है। लेकिन क्या सच में डायबिटीज में किशमिश (raisins in diabetes) खा सकते हैं? 

Insidebloodsugar

डायबिटीज के मरीज किशमिश खा सकते हैं-Are raisins good for diabetics? 

ज्योति भट्ट (Jyoti Bhatt, Senior Dietitian) वरिष्ठ आहार विशेषज्ञ कहती हैं कि डायबिटीज वाले लोग क्या खा सकते हैं और क्या नहीं इसके बारे में कई भ्रांतियां हैं। किशमिश मध्यम जीआई वाला फूड है, लेकिन इसमें शुगर का होना, डायबिटीज में शुगर लेवल को बढ़ा सकता है। किशमिश में फ्रुक्टोज 30% होता है और ग्लूकोज कुल पोषक तत्वों का 28% है। वहीं, एक कप किशमिश की बात करें तो, इसमें 115 ग्राम कार्बोहाइड्रेट होता है, जो कि ऊर्जा का एक विशाल स्रोत होता है। इसलिए हम आमतौर पर मधुमेह के रोगियों को किशमिश खाने की सलाह नहीं देते हैं।

इसे भी पढ़ें : डायबिटीज में मीठा खाने का मन करे तो खाएं ये 7 चीजें, एक्सपर्ट से जानें क्यों नहीं बढ़ता इनसे ब्लड शुगर

डायबिटीज के लिए किशमिश 

वहीं, लखनऊ डाइट क्लीनिक की डाइटिशियन अश्वनी कुमार करती हैं कि किशमिश आहार फाइबर से भरपूर होती है जो आपके ब्लड शुगर के स्तर को नियंत्रित करने में मदद भी कर सकता है, खास कर कि अगर आपको कब्ज की समस्या रहती है। इसका हाई फाइबर कब्ज की समस्या को दूर कर सकता है और लंबी अवधि के लिए भरा हुआ महसूस कराता है और यह सुनिश्चित करता है किआप स्नैकिंग से बचें। यह भोजन के बाद आपके ग्लाइसेमिक नियंत्रण को नियंत्रित करने में भी मदद करता है। पर ध्यान रहे कि आपको इसे सही तरीके से और सही मात्रा में खाना है। नहीं तो, इसका सीधा सेवन ब्लड शुगर बढ़ा सकता है। 

किशमिश खाने के तरीके

किशमिश सादा खाने में भी अच्छी होती है। लेकिन अगर आप उन्हें अपने भोजन या नाश्ते में शामिल करना चाहते हैं, तो इन तरीकों से खा सकते हैं। जैसे कि

सलाद

किशमिश आपके सलाद में मिठास भर देती है। इन्हें पत्तेदार साग, कुरकुरे नट्स के साथ मिलाएं और अपनी पसंद की कोई भी सब्जी में डाल कर खाएं।

दलिया में

मुट्ठी भर किशमिश के एक कटोरी दलिया में मिलाएं और खाएं। 

Inside1kishmish

किशमिश का सेवन कब करें?

किशमिश को आप दिन में कभी भी खा सकते हैं। लेकिन कुछ खास तरीके से इस खाने के ज्यादा फायदे हैं। 

  • -सुबह भीगे हुए किशमिश का सेवन करें।
  • -लंच से पहले इन्हें अपने मिड-डे स्नैक के रूप में खाएं।

इसे भी पढ़ें : डायबिटीज रोगियों के लिए बिना चीनी की चाय पीना भी हो सकता है नुकसानदायक, एक्सपर्ट से जानें कारण

किशमिश फाइबर कोरोनरी हृदय रोग का जोखिम को कम करता है। इसी तरह इसके फाइबर के सेवन से स्ट्रोक, ब्लड प्रेशर और कोलेस्ट्रॉल के खतरे को कम किया जा सकता है। वास्तव में, किशमिश में ब्लड प्रेशर को कम करने की क्षमता भी होती है। टाइप 2 डायबिटीज मेलिटस के रोगियों में और अन्य कार्डियोवैस्कुलर जोखिम वाले लोगों में किशमिश का सेवन एक स्नैक्स की तरह बहुत ही फायदेमंद है। इसके अलावा डायबिटीज के मरीज कब्ज को दूर करने के लिए कई प्रकार से किशमिश का सेवन कर सकते हैं। जैसे कि वो इसका पानी पी सकते हैं जो कि पेट साफ कर देता है। इसके अलावा ध्यान देने वाली बात ये भी है कि जिन लोगों में डायबिटीज में सही तरीके से मैनेज नहीं हो पाता है उनके लिए किशमिश ज्यादा मात्रा में खाना फायदेमंद भी नहीं है।  

all images credit: freepik

Disclaimer