आलिया भट्ट ने मां बनने की खबर देकर सभी को चौंकाया, शेयर की रणबीर कपूर के साथ ये प्यारी तस्वीर

Alia Bhatt Ranbir Kapoor Pregnancy News: आलिया भट्ट ने खुद अपनी प्रेग्नेंसी की खबर को अपने फैंस के साथ शेयर किया है। 

Ashu Kumar Das
Written by: Ashu Kumar DasPublished at: Jun 27, 2022Updated at: Jun 27, 2022
आलिया भट्ट ने मां बनने की खबर देकर सभी को चौंकाया, शेयर की रणबीर कपूर के साथ ये प्यारी तस्वीर

बॉलीवुड एक्ट्रेस आलिया भट्ट जल्द ही गुड न्यूज देने वाली हैं। आलिया ने अपने इंस्टाग्राम हैंडल से कुछ तस्वीरें शेयर की हैं और बताया है कि वो प्रेगनेंट हैं और जल्द ही बच्चे को जन्म (Alia Bhatt share Pregnancy news) देने वाली हैं। आलिया ने अपने अल्ट्रासाउंड अपॉइंटमेंट करवाते हुए एक तस्वीर शेयर की है। इस तस्वीर को शेयर करते हुए आलिया ने कैप्शन में लिखा है, "हमारा बच्चा ….. जल्द ही आ रहा है।" आलिया 29 साल की उम्र में मां बनने वाली हैं। आलिया की तरह अगर आप भी प्रेग्नेंट हैं तो आपको कुछ चीजों का ध्यान रखना होगा। डॉक्टरों का कहना है कि प्रेगनेंसी में महिलाओं को खानपान, एक्सरसाइज और आसपास के माहौल समेत कई चीजों पर ध्यान देना चाहिए। हेल्थ एक्सपर्ट्स का कहना है कि इस समय महिलाओं को अपनी डाइट में कार्बोहाइड्रेट, प्रोटीन और गुड फैट जैसे सभी न्यूट्रिशन शामिल करने चाहिए। तो आइए जानते हैं प्रेगनेंसी में महिलाओं को क्या खाना चाहिए और किन चीजों से परहेज करनी चाहिए।

प्रेगनेंसी में क्या खाना चाहिए?

डॉक्टरों और घर के बड़े-बुजुर्गों के अनुसार प्रेगनेंसी में महिलाओं को ऐसा खाना चाहिए जिसमें विटामिन B12, आयरन, ओमेगा 3, कैल्शियम, फोलेट जैसी चीजें शामिल हों। इन चीजों का सेवन करने से मां और गर्भ में पलने वाले बच्चे पर पॉजिटिव इफेक्ट पड़ता है और दोनों हेल्दी रहते हैं।

इसे भी पढ़ेंः क्या डिलीवरी के आखिरी दिनों में घी या मक्खन खाना सही है? जानें एक्सपर्ट की राय

नारियल पानी है जरूरी

अंतरराष्ट्रीय स्तर पर प्रमाणित प्रसव और गर्भावस्था स्वास्थ्य शिक्षक लक्ष्मी कार्तिकेयन का कहना है कि प्रेगनेंसी के शुरुआती महीनों में महिलाओं को मॉर्निंग सिकनेस जैसे ही चक्कर आना, उल्टी जैसी समस्याएं हो सकती हैं। इस स्थिति में नारियल पीना का सेवन बहुत फायदेमंद माना जाता है। इसमें क्लोराइड इलेक्ट्रोलाइट पाया जाता है जो प्रेगनेंसी के दौरान महिलाओं के शरीर में होने वाली पानी की कमी को पूरा करता है। लक्ष्मी का कहना है कि प्रेग्नेंट महिलाओं को दिन में एक बार नारियल पानी का सेवन जरूर करना चाहिए। यह प्रेगनेंसी में होने वाली कब्ज, पेट दर्द और पेट साफ न होने की समस्या से भी छुटकारा दिलाता है।

alia bhatt is pregnant & expecting first child

अनार का जूस

वुमन हेल्थ एक्सपर्ट डॉ. रोंडा का कहना है कि प्रेगनेंसी में महिलाओं के शरीर में खून की कमी हो जाती है। ऐसे में उन्हें अनार के जूस का सेवन करना चाहिए। डॉ. रोंडा के अनुसार, प्रेग्नेंट महिलाएं रोजाना अगर 240 मिलीलीटर यानी की 8 औंस अनार का जूस पिएं तो इससे गर्भ में पलने वाले बच्चे का सही विकास होता है। साथ ही मां के शरीर की कमजोरी को भी दूर रखने में मदद मिलती है। अनार के जूस में पर्याप्त मात्रा में विटामिन, फॉलिक एसिड और खनिज तत्व पाए जाते हैं जो प्रेगनेंसी में महिलाओं को बीमारियों से लड़ने की शक्ति प्रदान करते हैं।

alia bhatt preganancy news

हरी पत्तेदार सब्जियां

प्रेगनेंसी के शुरुआती दौर में गर्भ में पलने वाले बच्चे का सही तरीके से विकास हो सके इसके लिए आपको खाने में विटामिन (Vitamin), प्रोटीन (Protein) और फैट को शामिल करना जरूरी होती है। इसके लिए आप खाने में पालक, पत्ता गोभी, ब्रोकली और बीन्स जैसी हरी पत्तेदार सब्जियों को शामिल कर सकती हैं। एक रिसर्च के मुताबिक पालक में आयरन तत्व पाए जाते हैं जो प्रेगनेंसी के दौरान महिला के शरीर में होने वाली खून की कमी हो दूर कर सकते हैं। इसके अलावा बीन्स और ब्रोकली जैसी सब्जियों में प्रोटीन और कैल्शियम अधिक होता है, जो मां और बच्चे दोनों के लिए फायदेमंद माना जाता है।

इसे भी पढ़ेंः ब्रेस्ट कैंसर के इलाज के बाद क्या मैं प्रेगनेंट हो सकती हूं? जानें एक्सपर्ट से

फल भी हैं जरूरी

फल कई तरह के पोषक तत्वों का खजाना माना जाता है। डॉक्टर प्रेगनेंसी महिलाओं को दिन में कम से कम एक सेब, दो केले और थोड़े से पानी वाले फलों का सेवन करने की सलाह देते हैं। प्रेगनेंसी में फलों का सेवन करने से गर्भ में पलने वाले बच्चे का सही तरीके से शारीरिक और मानसिक विकास हो सकता है। डॉक्टरों के अनुसार प्रेगनेंसी के शुरुआती महीनों में सेब, तरबूज, संतरा जैसे फलों का सेवन फायदेमंद है। हालांकि इस दौरान पपीता, अनानास, अंगूर जैसे खट्टे फलों से परहेज करना चाहिए। कुछ मामलों में खट्टे फलों का सेवन करने से मां और बच्चे की सेहत पर नेगेटिव इफेक्ट पड़ सकता है।

प्रेगनेंसी महिलाओं के लिए सबसे नाजुक दौर माना जाता है। इस दौरान खाने -पीने में किसी भी चीज को शामिल करने से पहले अपने डॉक्टर की सलाह अवश्य लें। हर महिला का शरीर अलग होता है और उसी के हिसाब में गर्भ में पलने वाले शिशु का विकास होता है, ऐसे में डॉक्टर स्थितियों को देखकर डाइट प्लान बनाते हैं।

Disclaimer