Doctor Verified

गंभीर बीमार‍ियों से बचने के ल‍िए 7 से 8 घंटे की नींद लें: अमेरिकन हार्ट एसोसिएशन

अमेर‍िकन हार्ट एसोस‍िएशन ने नई गाइडलाइन्‍स जारी की हैं, ज‍िसके मुताबि‍क गंभीर बीमार‍ियों से बचने के ल‍िए 7 से 8 घंटे की नींद जरूरी होती है। 

 
Yashaswi Mathur
Written by: Yashaswi MathurPublished at: Jul 26, 2022Updated at: Jul 26, 2022
गंभीर बीमार‍ियों से बचने के ल‍िए 7 से 8 घंटे की नींद लें: अमेरिकन हार्ट एसोसिएशन

अमेर‍िकन हार्ट एसोस‍िएशन ने नई गाइडलाइन्‍स जारी की हैं ज‍िनमें अच्‍छी नींद के फायदों के बारे में बताया गया है। एसोस‍िएशन की ओर से जारी की गई नई गाइडलाइन्‍स कहती हैं क‍ि अगर आप 7 से 8 घंटे की नींद लें, तो गंभीर बीमार‍ियों के खतरे से बच सकते हैं। क्‍या वाकई पर्याप्‍त नींद लेकर आप बीमार‍ियों से बच सकते हैं? इस व‍िषय को व‍िस्‍तार से समझने के ल‍िए हमने मुंबई के एशियन हार्ट इंस्टीट्यूट के सीनियर इंटरवेंशनल कार्डियोलॉजिस्ट Dr Tilak Suvarna से बात की।    

sleep problem in hindi  

7 से 8 घंटे की नींद जरूर लें  

अच्‍छी नींद न लेने के कारण शरीर में सूजन (swelling) बढ़ जाती है। अगर आप अच्‍छी नींद न लें, तो शरीर की इम्‍यून‍िटी घट जाती है। नींद न लेने के कारण मोटापा, टाइप 2 डायब‍िटीज, हाइपरटेंशन का खतरा बढ़ता है। अमेर‍िकन हार्ट एसोस‍िएशन (american heart association) के मुताब‍िक आपको 7 से 8 घंटों की नींद लेनी चाह‍िए। एसोस‍िएशन के मुताब‍िक, कोव‍िड (covid) के दौरान लोगों को सोने में परेशानी का सामना करना पड़ा। लेकिन अब लोगों को फ‍िर से नींद पर ध्‍यान देना चाह‍िए। अच्‍छी नींद लेने से मेटाबॉल‍िज्‍म मजबूत रहेगा। मेटाबॉल‍िज्‍म मजबूत रहने से वजन घटाने में मदद म‍िलती है। अच्‍छी नींद लेने से नर्वस स‍िस्‍टम अच्‍छी तरह काम करता है। अच्‍छी नींद लेने से हार्ट रेट नॉर्मल रहता है। बीपी कंट्रोल रहता है। जो लोग नींद पूरी नहीं करते उन्‍हें न‍िम्‍न परेशार‍ियां हो सकती हैं-    

1. डायब‍िटीज- Diabetes

ज‍िन लोगों की नींद पूरी नहीं होती उनमें डायब‍िटीज के लक्षण (diabetes symptoms) नजर आ सकते हैं। हमारे शरीर में इंसुलि‍न हार्मोन शुगर को कंट्रोल करने का काम करती है। इस हार्मोन की कमी से डायब‍िटीज की बीमारी हो सकती है ज‍िसका एक कारण नींद न पूरी होना भी है। 

इसे भी पढ़ें- अच्छी नींद के लिए सोने से पहले करें ये 7 काम, सुबह उठेंगे फ्रेश और एनर्जेटिक       

2. मोटापा- Obesity

कम सोने के कारण मोटापे की श‍िकायत बढ़ सकती है। जो लोग नींद पूरी करके नहीं उठते उनमें ईट‍िंग ड‍िसऑर्डर (eating disorder), वजन बढ़ने के लक्षण नजर आ सकते हैं।    

3. हाइपरटेंशन- Hypertention 

जो लोग केवल 4 से 5 घंटे की नींद लेते हैं, उनमें बीपी बढ़ने की आशंका ज्‍यादा होती है। अच्‍छी नींद लेने से स्‍ट्रेस हार्मोन भी कम होते हैं और आप ड‍िप्रेशन के लक्षणों (Depression symptoms) से बच सकते हैं।  

4. स्लीप एपनिया- Sleep Apnea

स्लीप एपनिया का मतलब है सोते समय सांस लेने में रुकावट का सामना करना। सांस लेने में परेशानी की द‍िक्‍कत उन लोगों को ज्‍यादा होती है ज‍िनकी नींद नहीं पूरी होती। 

5. हार्ट की बीमारी- Heart Disease

जो लोग अपनी नींद पूरी नहीं करते उनमें हार्ट की बीमार‍ियों का खतरा बढ़ जाता है। ऐसे लोगों को हार्ट फ‍ेल‍ियर, स्‍ट्राेक, अन‍ियम‍ित हार्ट रेट और हार्ट अटैक (heart attack) आद‍ि बीमार‍ियों का सामना करना पड़ता है।       

हेल्‍दी डाइट लें- Healthy Diet  

कई लोग ये श‍िकायत करते हैं क‍ि उन्‍हें अच्‍छी नींद नहीं आती। इसका कारण आपकी डाइट (diet) भी हो सकती है। अगर आप ज्‍यादा जंक फूड या ऑयली खाने का सेवन करते हैं, तो आपकी नींद खराब हो सकती है। आपको अपनी डाइट में फाइबर र‍िच फूड्स (fiber rich foods), प्रोटीन आद‍ि को शाम‍िल करना चाह‍िए।  

अगर आपको अन‍िद्रा की समस्‍या है, तो डॉक्‍टर से सलाह लें थेरेपी और हेल्‍दी लाइफस्‍टाइल की मदद से नींद न आने की समस्‍या को दूर क‍िया जा सकता है।

Disclaimer