एप्सम सॉल्ट को पानी में डालकर नहाने से दूर होते हैं ये 6 रोग, बीमारी के हिसाब से जानें होने वाला फायदा

दिन भर की थकान और वर्कआउट के बाद मांसपेशियों में दर्द को दूर करने के लिए एप्सम सॉल्ट बहुत फायदेमंद है। जानें इसके अन्य फायदे।

Jitendra Gupta
Written by: Jitendra GuptaPublished at: Jan 21, 2020Updated at: Jan 22, 2020
एप्सम सॉल्ट को पानी में डालकर नहाने से दूर होते हैं ये 6 रोग, बीमारी के हिसाब से जानें होने वाला फायदा

एप्सम सॉल्ट (मैग्निशियम सल्फेट) को पानी में डालकर नहाने का सबसे बड़ा फायदा है दिन भर की लंबे काम और इंटेंस वर्कआउट के बाद मांसपेशियों में दर्द को दूर करना। कुछ विशेषज्ञों का मानना है कि इस सॉल्ट को हमारी त्वचा आसानी से अवशोषित कर लेती है, जिस कारण हमें दर्द महसूस नहीं होता। दरअसल मैग्निशियम सल्फेट दर्द को सहने वाले रिसेप्टर्स को ब्लॉक कर देता है, जिस कारण ऐसा होता है। हालांकि यह सच है कि मैग्नीशियम रिसेप्टर्स को ब्लॉक कर देता है, लेकिन यह स्पष्ट नहीं है क्या इसके पानी से नहाने उतना प्रभावी है, जितना की लोगों द्वारा समझा जाता है। इस लेख में हम जानेंगे कि कैसे एप्सम सॉलट का पानी आपको आराम देने का काम करता है और किन 6 रोगों को दूर करने में फायदेमंद है।

EPSOM SALT

अर्थराइटिस के दर्द को कर सकता है कम

एप्सम सॉल्ट जोड़ों के दर्द को कम करने में मदद करने के लिए एक सेक के रूप में इस्तेमाल किया जा सकता है। रुमेटाइड आर्थराइटिस से पीड़ित लोग,  जो अपने जोड़ों को एप्सम सॉल्ट वाले गर्म पानी से सेंकते हैं, वे सादे नमक वाले पीने से सेक लगाने वाले लोगों की तुलना में काफी बेहतर महसूस करते हैं। क्लीनिकल एंड एक्सपेरिमेंटल रुमेटोलॉजी में प्रकाशित एक अध्ययन के अनुसार, सादे नमक के पानी का उपयोग करने वाले एक समूह के जोड़ों के दर्द पर कोई प्रभाव नहीं पाया गया है। घर पर करने के लिए सबसे पहले एक गैलन पानी में दो कप एप्सम सॉल्ट को गर्म करें। उसके बाद या तो उस पानी से नहा लें या फिर प्रभावित हिस्से पर कपड़े को गीला करने के बाद सेंके। ऐसा करने से गठिया के दर्द को कम करने में मदद मिलेगी।

एक्जिमा को हल्का करता है एप्सम सॉल्ट के पानी से नहाना

नेशनल एक्जिमा एसोशिएशन ने सूखे, खुजली वाले पैच को शांत करने में मदद करने के लिए कई प्रकार के स्नान की सिफारिश की है, जिसमें एप्सम सॉल्ट भी शामिल है। ये स्किन पैच फिर चाहे एक्जिमा से हुए हों या फिर किसी कारणवश। आप एप्सम सॉल्ट के पानी से नहाकर इन्हें हल्का कर सकते हैं।

इसे भी पढ़ेंः पेट या पीठ के बल सोना है पसंद तो बरतें ये सावधानियां, जानें सोने की स्थिति कैसे बिगाड़ती है आपका स्वास्थ्य

EPSOM SALT

एक्सफोलिएंट के रूप में लाएं एप्सम सॉल्ट को प्रयोग

दूसरे दानेदार नमक की ही तरह एप्सम सॉल्ट भी एक अच्छा एक्सफोलिएंट (exfoliant) है, जो ड्राई स्किन से छुटकारा दिलाने में मदद करता है। एक चौथाई कप गोले के तेल में दो चम्मच एप्सम नमक मिलाएं और जहां ड्राई स्किन हैं वह स्क्रब के रूप में इसका प्रयोग करें। आप चाहे तो इसे अपने होंठों से लेकर एड़ियों पर भी प्रयोग कर सकते हैं।

Buy Online: Organix Mantra Epsom Bath Salt For Muscle Relief, Relieves Aches & Pains, 1Kg  & MRP.265.00/- only.

घुट्टी के रूप में काम करता है एप्सम सॉल्ट

दिन का ज्यादातर वक्त बाथरूम में गुजरता है? पेट साफ नहीं पाने की स्थिति में एप्सम सॉल्ट पीना एक प्रकार से घुट्टी का प्रभाव छोड़ता है। एक लीटर पानी में कम से कम दो या फिर छह चम्मच तक एप्सम सॉल्ट मिलाएं। स्वाद को बेहतर बनाने के लिए इसमें नींबू भी मिला सकते हैं।

इसे भी पढ़ेंः क्या 30 के बाद नहीं बदलती पर्सनैलिटी? जानें उम्र बढ़ने पर कैसे आता है महिला-पुरुष की पर्सनैलिटी में बदलाव

साइनस को खोलने के लिए एप्सम सॉल्ट का प्रयोग करें

एप्सम सॉल्ट को पानी में डालकर उबलने दें। जब पानी पूरी तरह से उबल जाए तो उसकी भाप लें। ऐसा करने से साइनस खुलता है। छाती में जमा बलगम को निकालने के लिए आप रोसमैरी या फिर नीलगिरी भी मिला सकते हैं। इस बात का ध्यान जरूर रखें कि ऐसा करते वक्त भाप से उचित दूरी बनाएं रखें क्योंकि ऐसा करते हुए कभी-कभार आप साइनस की समस्या को और बढ़ा लेते हैं।

सोरायसिस को कम करने में मदद करता एप्सम सॉल्ट से नहाना

नेशनल सोरायसिस एसोशिएशन के मुताबिक, दर्दभरे और खुजलीदार प्लाक से निपटने में एप्सम सॉल्ट को एक प्राकृतिक नुस्खे के रूप में माना जाता है। हां इस बात का ध्यान जरूर रखें कि नहाने के बाद स्किन को मॉइस्चराइज़ करें क्योंकि सॉल्ट बहुत सूख सकता है और सूखी त्वचा सोरायसिस को और बदतर बना सकती है।

Read More Articles On Miscellaneous in Hindi

Disclaimer