पेट या पीठ के बल सोना है पसंद तो बरतें ये सावधानियां, जानें सोने की स्थिति कैसे बिगाड़ती है आपका स्वास्थ्य

क्या आपको एक ही मुद्रा में सोने की आदत है या फिर उसी में सोना पसंद करते हैं तो जान लें कुछ जरूरी बातें, मिलेगा फायदा। 

Jitendra Gupta
Written by: Jitendra GuptaPublished at: Jan 15, 2020Updated at: Jan 15, 2020
पेट या पीठ के बल सोना है पसंद तो बरतें ये सावधानियां, जानें सोने की स्थिति कैसे बिगाड़ती है आपका स्वास्थ्य

बहुत से लोगों को बिस्तर पर गिरते ही नींद आ जाती है तो कुछ को नींद के लिए तैयार होना पड़ता है। अक्सर हम सोने से पहले बत्तियां बंद कर देते हैं और खुद को सोने की तैयारी में व्यस्त कर लेते हैं। लेकिन क्या आपने कभी गौर किया है कि आप कैसे सोते हैं या कैसे सोना पसंद करते हैं। क्या आप अपनी पीठ, साइड या पेट के बल सोते हैं? हालांकि इसके पीछे कोई वैज्ञानिक तर्क नहीं है कि आपके सोने की अवस्था पीठ दर्द, खर्राटे लेना या पर्सनैलिटी से जुड़ी हुई है लेकिन ये चीजें आपको अक्सर रात के बीच में उठा सकती है। इस लेख में हम आपको सोने की अवस्था से जुड़ी कुछ मजेदार बातें बताने जा रहे हैं, जिन्हें जानना आपके लिए फायदेमंद साबित हो सकता है। 

sleeping position

पेट के बल सोना

क्या आप पेट के बल सोते हैं? अगर आपका जवाब हां है,  तो क्या आपको सोने में समस्या होती है? हो सकता है कि आपका सोने का तरीका आपकी मदद नहीं कर रहा हो। जब आप अपने पेट के बल सोते हैं तो आपके बेचैन और सही प्रकार से नींद न आने की संभावना अधिक होती है। यह आपकी गर्दन और आपकी पीठ के निचले हिस्से में तनाव पैदा कर सकती है, जिसके कारण आपको आधी रात में उठना भी पड़ सकता है। अगर आप इस तरीके से ही सोना पसंद करते हैं, तो आप अपनी गर्दन को आराम देने के लिए बहुत नरम तकिया का उपयोग कर सकते हैं।

पेट के बल और तकिए के चारों तरफ हाथ फैलाकर सोना

बता दें कि लगभग 7% आबादी इस तरह से सोती है। अगर आप पेट के बल तकिये के चारों ओर अपनी बाहों को फैलाकर सिर के बग़ल में रखकर सोते हैं तो आप मन में बात करने वाले लोगों में शामिल हैं। कुछ शोध में सामने आया है कि अगर यह आपकी पसंदीदा नींद की स्थिति है तो आप अपने मन की बात दूसरों से जल्दी कहने वाले लोगों में शामिल होते हैं। इसके अलावा आप आलोचना के लिए तैयार नहीं हो सकते हैं।

इसे भी पढ़ेंः क्या 30 के बाद नहीं बदलती पर्सनैलिटी? जानें उम्र बढ़ने पर कैसे आता है महिला-पुरुष की पर्सनैलिटी में बदलाव

पीठ के बल सोना

यह स्थिति कुछ लोगों के लिए पीठ के निचले हिस्से में दर्द का कारण बन सकती है। और अगर आपके पहले से ही पीठ दर्द की समस्या से परेशान हैं तो यह आपके दर्द को और बढ़ा सकती है। अगरआप खर्राटे लेते हैं या आपको स्लीप एपनिया है, तो यह उन समस्याओं को और गंभीर बनाती है। अगर आप इनमें से किसी एक समस्या से परेशान हैं और दूसरे तरीके से आपको आराम नहीं मिल पा रहा है तो अपने डॉक्टर से बात करें ताकि आपको मदद मिल सके।

पीठ के बल, सीधा सोना

यह स्थिति लगभग 8% आबादी को पसंद आती है। आप अपने हाथों को अपने शरीर के करीब रखकर सोते हैं बिल्कुल सावधान की मुद्रा में। कुछ शोध बताते हैं कि इस मुद्रा में सोने वाले लोग अधिक शांत होते हैं और दूसरों से ज्यादा घुलते-मिलते नहीं हैं। आप खुद से और दूसरों से भी बहुत उम्मीद रखते हैं।

sleeping position

पीठ के बल, दोनों हाथ फैलाकर सोना

5 फीसदी आबादी इस प्रकार से सोती है। इस स्थिति में आप अपनी पीठ के बल सोते हैं और आपके हाथ अपने सिर के करीब होते हैं। कुछ अध्ययनों के मुताबिक, इस स्थिति में सोने वाले लोग एक अच्छा श्रोता होते हैं और आकर्षण का केंद्र बनना पसंद नहीं करते।

इसे भी पढ़ेंः चावल, उबले हुए अंडे जैसे 5 फूड को माइक्रोवेव में दोबारा गर्म करना है खतरनाक, हो सकती हैं ये परेशानियां

एक तरफ मुद्रा में घुटनों को मोड़ते हुए सोना

40% से अधिक लोग इस साइड में पैरों को मोड़कर सोना पसंद करते हैं। यह महिलाओं के लिए सबसे आम स्थिति है। एक शोध के मुताबिक, पुरुषों की तुलना में दोगुनी महिलाएं इस स्थिति में सोना पसंद करती हैं। कुछ शोध बताते हैं कि ये स्थिति आपको गर्म, मैत्रीपूर्ण और संवेदनशील होने का भाव पैदा करती हैं।

एक तरफ सोते हुए हाथ सामने की ओर रखकर सोना

करीब 13 फीसदी लोग सोते वक्त अपने हाथों को सामने की ओर रखकर सोना पसंद करते हैं। अगर आप भी ऐसे ही सोते हैं तो कुछ अध्ययनों में पाया गया है कि आप खुले विचारों के होते हैं। इसके साथ ही आप एक बार तय करने के बाद अपने फैसले से जुड़े रहते हैं, जिद्दी भी होते हैं।

Read More Articles On Miscellaneous in Hindi

Disclaimer