वर्क फ्रॉम होम में सिर दर्द से हैं परेशान? ये 5 आयुर्वेदिक उपाय आपके सिर दर्द को कर देंगे गायब

सिर दर्द के लिए दवा लेने से पहले आपको इन आयुर्वेदिक उपचारों की मदद लेनी चाहिए। आइए जानते हैं इनके बारे में।

Pallavi Kumari
Written by: Pallavi KumariUpdated at: Oct 27, 2020 17:35 IST
वर्क फ्रॉम होम में सिर दर्द से हैं परेशान? ये 5 आयुर्वेदिक उपाय आपके सिर दर्द को कर देंगे गायब

3rd Edition of HealthCare Heroes Awards 2023

कोरोनावायरस के कारण बहुत से लोग परेशान हैं और वर्क फ्रॉम होम कर रहे हैं। वर्क फ्रॉम होम सिर्फ लोगों को एक अनहेल्दी लाइफस्टाइल में ही नहीं ढकेल रहा, बल्कि मानसिक बिमारियों का भी शिकार बना रहा है। वहीं ये ऑटम सीजन भी मौसमी बीमारियों का एक बड़ा कारण है, जिसमें सर्दी, खांसी, साइनस कंजेशन, जुकाम, फीवर और अन्य एलर्जी के कारण सिरदर्द का कारण बनता है। साथ ही कई बार कंप्यूटर पर घंटों का काम करने और स्ट्रेस के कारण भी लोगों को सिर दर्द की परेशानी होती है। पर आयुर्वेद इस मौसम में होने वाले सिर दर्द को किसी और ढंग से भी देखता है। आयुर्वेद में विशेषकर इस मौसम में होने वाले सिर दर्द को कफज सिर्द दर्द (Kapha headache)कहते हैं। इसी सिर दर्द को कम करने के उपायों को लेकर ऑनली माई हेल्थ' ने डॉ. नीलेश निगम से बात की, जो कि एक आयुर्वेदिक डॉक्टर हैं और नवम आयुर्वेद पंचकर्म एवं कल्याण केंद्र, लखनऊ के निदेशक और मुख्य सलाहकार भी हैं।

insideheadacheremedy

सिर दर्द को कम करने के आयुर्वेदिक उपाय  (Ayurvedic Treatment of Headache)

सोंठ की चाय

सोंठ एक शक्तिशाली जड़ी बूटी है जो माइग्रेन के उपचार में मदद कर सकती है। यह अक्सर आयुर्वेदिक उपचारों में पाचन, श्वसन और संचार कार्यों को बढ़ावा देने के लिए उपयोग किया जाता है, लेकिन यह मतली से लड़ने, दर्द को कम करने और शरीर को डिटॉक्सीफाई करने के लिए भी इस्तेमाल किया जा सकता है। वहीं सोंठ में एंटीऑक्सिडेंट और एंटी इंफ्लेमेटरी गुण भी हैं, जो स्ट्रेस रिलीज करने में आपकी मदद कर सकता है। तो जब भी आपको सिर दर्द हो सोंठ की चाय बनाएं और पिएं।

नीलगिरी के तेल का इस्तेमाल करें

अगर आपको सुबह-सुबह सिर में बहुत तेज दर्द होता है, तो आपको नीलगिरी के तेल का भांप ले सकते हैं। इसके लिए गर्म पानी की एक कटोरी में नीलगिरी के तेल की एक बूंद डालें, अपने सिर को तौलिए से ढक लें और इसका तेज भाप को अंदर लें। आप चाहें, तो इसमें विक्स भी डाल सकते हैं, जो कि जुकाम होने पर आपको गहराई से राहत प्रदान करेगा।

इसे भी पढ़ें : घर में जरूर लगाएं अजवाइन का पौधा, इन 6 बीमारियों से मिलेगा छुटकारा

हार्ड स्मेल या लाइट से बचें

इत्र और सफाई उत्पादों की स्ट्रोंग स्मेल या कहिए गंध कुछ व्यक्तियों को सिरदर्द विकसित करने का कारण बन सकते हैं। वहीं लाइट की कमी में काम करना या तेज लाइट में काम करना भी सिर दर्द का कारण बनते हैं।  इस अतिसंवेदनशीलता को ऑस्मोफोबिया कहा जाता है और क्रोनिक माइग्रेनवाले लोगों में आम है। अगर आपको लगता है कि आप गंध के प्रति संवेदनशील हैं, इत्र, सिगरेट के धुएं को स्मेल करने और तेज लाइट या कम लाइट में काम करने से बचें।

insidebathingwithcoldwater

योग करें

योग का अभ्यास तनाव को दूर करने और दर्द को कम करने का सबसे आसान तरीका हो सकता है। योग करने से आपके सिरदर्द की तीव्रता और आवृत्ति को कम करने में मदद मिल सकती है। इसके लिए आप काम के बीच से उठ कर बीच-बीच में हल्के एरोबिक एक्सरसाइज करने की कोशिश करें। ये आपको सिर दर्द में आराम दिलाने में मदद करेगी।

इसे भी पढ़ें : कच्ची हल्दी या हल्दी की गांठ है ज्यादा स्वास्थ्यकारी, जानें हल्दी पाउडर की जगह क्यों करें इनका इस्तेमाल

ठंडे पानी से नहा लें

अगर आप लगातार सिर दर्द महसूस कर रहे हैं, और आपको इससे आराम नहीं मिल पा रहा है, तो आपको ठंडे पानी से नहा लेना चाहिए। कई बार ठंडे पानी से नहाना आपको स्ट्रेसफ्री महसूस करवा सकता है। तो अगर आप लगातार काम कर रहें हैं और सिर दर्द से परेशान हैं, तो जा कर ठंडे पानी से नहा लें।

अगर आप भी वर्क फ्रॉम होम के दौरान सिर दर्द से परेशान हैं, तो आपको इन घरेलू नुस्खों को अपनाने की कोशिश करनी चाहिए। ये आपको सिर दर्द से आराम महसूस करवाने में मदद करेंगे। वहीं काम के दौरान कोशिश करें कि आप अपनी आंखों को आराम दें और दोपहर में हल्की सी नींद भी लें।

Read more articles on Ayurveda in Hindi

Disclaimer