लोबान तेल का करें इस्तेमाल, सर्दी-जुकाम से तुरंत मिलेगा आराम!

By  , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग
Dec 21, 2016
Comment

Subscribe for daily wellness inspiration

Like onlymyhealth on Facebook!

Quick Bites

  • सर्दियों में नाक बहना व जुकाम की समस्या होना आम बात है।  
  • लोबान तेल की मदद से कर सकते हैं सर्दी-जुकाम का इलाज।
  • लोबान तेल का इस्तेमाल अनेक चीजों के लिए कर सकते हैं।

सर्दियों में बहती नाक, लगातार छींकना और आंखों से पानी बहना एक आम समस्या है। हम सब इससे उबरने के लिए अक्सर दवाइयों का इस्तेमाल करते हैं और कई बार एक समस्या खत्म होते-होते दूसरी शुरू हो जाती है। लेकिन अब आप बिना गोलियों के इस्तेमाल के भी इन समस्याओं से छुटकारा पा सकते हैं।

लोबान तेल (Frankincense oil) एंटीसेप्टिक, एंटीबैक्‍टीरियल, एस्ट्रिंजेंट, पाचक, मूत्रवर्धक, वातहर आदि अनेक चिकित्सीय गुणों के लिए जाना जाता है। यह बोसवेलिया पेड़ के रस से बनता है जोकि अफ्रीकी और अरब क्षेत्रों में पाया जाता है। इसकी खुशबू नींबू और शहद से मिलती-जुलती है। अगरबत्ती, धूप और हवन सामग्री में भी लोबान का प्रयोग किया जाता है।

इसे भी पढ़ें: असरदार स्‍वास्‍थ्‍य लाभों से भरपूर होता है लोबान तेल



Frankincense-oil

लोबान तेल का इस्तेमाल, दिलाए सर्दी-जुकाम से राहत

अगर आप सर्दी-जुकाम से परेशान हैं तो लोबान तेल का इस्तेमाल करें। इसे हल्के हाथों से अपनी गर्दन पर मलें या जरूरत पड़े तो रात को कमरे में डिफ्यूजर में इसकी बूंदें मिलाकर सो जाएं। इससे सर्दी-जुकाम के साथ-साथ बलगम और सांस लेने की तकलीफ भी दूर हो जाएगी। आपको इसके इस्तेमाल से जल्द राहत मिलेगी।

अध्ययनों के अनुसार इस तेल में कई तरह के खतरनाक बैक्टीरिया, वायरस के साथ-साथ कैंसर से लड़ने के भी गुण पाए गए हैं। वैसे तो इस तेल का इस्तेमाल करने का कोई साइड इफेक्ट नहीं होता है। पर इस्तेमाल से पहले ये जरूर तय कर लें कि इसका अपकी त्वचा पर कोई बुरा असर न हो। इसे इस्तेमाल करने से पहले इसे अपनी त्वचा पर थोड़ा सा मलकर देखें अगर आपकी त्वचा पर इसका कोई बुरा प्रभाव न पड़े तो बेहिचक इसका इस्तेमाल करें।

यदि आप इसे आंतरिक रूप से इस्तेमाल करना चाहते हैं तो इसे खाने वाले तेल, नारियल तेल, शहद, पानी, दूध रहित या अम्लरहित पदार्थ में मिलाकर ले सकते हैं। लेकिन 6 साल से कम उम्र के बच्चों को आंतरिक तौर पर ये तेल नहीं देना चाहिए। बड़े बच्चों और युवाओं को भी आंतरिक रूप से इसका प्रयोग कम मात्रा में और अच्छे से घोलकर करना चाहिए।

इसे भी पढ़ें: सर्दी जुकाम में अच्‍छी नींद के लिए अपनायें ये 7 टिप्‍स


लोबान तेल का प्रयोग आप सर्दी-जुकाम के दौरान होने वाले बदन दर्द के लिए भी कर सकते हैं। इस तेल से अपनी गर्दन, कंधों और पीठ पर मालिश करें। ये आपकी त्वचा के अंदर समाकर आपके शरीर में डोपामाइन के प्रोडक्शन को बढ़ाएगा औऱ आपकी थकान दूर होगी। इस तेल को हाथों पर मलकर धीरे-धीरे सूंघने से तनाव और बेचैनी भी कम होती है। इसे सूंघने से ये भी पाया गया है कि इससे हार्ट रेट और हाई ब्लड प्रेशर पर भी काबू पाया जा सकता है। साथ ही इसे भौंहों के बीच में लगाकर आप मेडिटेशन भी कर सकते हैं। इससे आपको ध्यान करने में मदद मिलेगी। आप इसके प्रभाव को बढ़ाने के लिए अन्‍य आवश्‍यक तेलों को भी मिला सकते हैं।

लोबान तेल का इस्तेमाल कई अन्य चीजों के लिए भी कर सकते हैं:

•सर्दी-जुकाम और बदन-दर्द भगाए
•हार्ट रेट और हाई ब्लड प्रेशर घटाए
•बिना दवाइयों के बीमारियों से छुटकारा
•शरीर में डोपामाइन के प्रोडक्शन को बढ़ाए
•तनाव और बेचैनी भी करे कम।

 

Image Source: Organic Facts&Herbs Realm

Read More Articles on Home Remedies in Hindi

Write Comment Read ReviewDisclaimer Feedback
Is it Helpful Article?YES1599 Views 0 Comment
संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर