डायबिटिक्‍स के लिए डाइट चार्ट

By  , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग
May 31, 2013
Comment

हेल्‍थ संबंधी जानकारी के लिए सब्‍सक्राइब करें

Like onlymyhealth on Facebook!

डायबिटीज चयापचय से संबंधित बीमारी है। इसमें कार्बोहाइड्रेट और ग्लूकोज का ऑक्सीकरण पूर्ण रूप से नहीं हो पाता है। इंसुलिन की कमी इसका मुख्‍य कारण है। इंसुलिन नामक हार्मोन पैन्‍क्रियाज की इन्स्लैट ऑफ लैगरहैस द्वारा निकलता है, जो ग्लूकोज का चयापचय करता है। रक्त में ग्लूकोज की मात्रा सामान्य से ज्यादा तथा सामान्य से कम होना दोनों ही स्थितिया घातक हो सकती हैं।

डायबिटिक्‍स के लिए पोषणयुक्‍त आहारडयाबिटीज के मरीज का आहार केवल पेट भरने के लिए ही नहीं होता, बल्कि उसके शरीर में ब्लड शुगर की मात्रा को संतुलित रखने में सहायक होता है। इसलिए डायबिटिक्‍स के लिए जरूरी है कि वह अपने खानपान पर हमेशा ध्यान रखे। आमतौर पर मरीज ब्लडशुगर की सामान्‍य रिपोर्ट देखकर लापरवाह हो जाते हैं और वह दोबार बढ़ जाता है। आइए हेल्‍दी डाइट चार्ट बनाने में हम आपकी मदद करते हैं।

 

[इसे भी पढ़ें : डायबिटीज का निदान]

 

डायबिटिक्‍स इस तरह बनायें अपना डाइट चार्ट -

सुबह 6 बजे - आधा चम्मच मैथीदाना पावडर पानी के साथ।  

सुबह 7 बजे - 1 कप बिना शक्कर की चाय साथ में 1-2 बिस्किट भी ले सकते हैं।

सुबह 8.30 बजे - 1 प्लेट उपमा या दलिया, आधी कटोरी अंकुरित अनाज, 100 एमएल मलाईरहित बिना शक्कर का दूध।

सुबह 10.30 बजे - 1 छोटा छिलके सहित फल केवल 50 ग्राम का या 1 कप पतली छाछ बिना शक्कर की या फिर नींबू पानी।

दोपहर का भोजन - 2 मिश्रित आटे की सादी रोटी, 1 कटोरी चावल, 1 कटोरी सादी दाल, 1 कटोरी मलाईरहित दही, आधा कप सोयाबीन या पनीर की सब्जी, आधा कप हरी पत्तेदार सब्‍जी और सलाद।

 

[इसे भी पढ़ें : डायबिटीज को नियंत्रित करने के लिए डाइट चार्ट]

 

दोपहर बार 4 बजे - 1 कप बिना शक्कर की चाय, साथ में टोस्‍ट या बिस्किट।

शाम 6 बजे  1 कप सूप ले सकते हैं।

डिनर - 2 रोटी, 1 कटोरी चावल, 1 कटोरी दाल, दही, पनीर की सब्‍जी और सलाद लीजिए।

रात को सोते से पहले - 1 कप बिना शक्कर का मलाई रहित दूध।


इसके अलावा जब बार-बार भूख सताये तो कच्ची सब्जियां, सलाद, काली चाय, सूप, पतली छाछ, नींबू पानी आद‍ि ले सकते हैं। गुड़, शक्कर, शहद, मिठाइया, मेवे आदि से परहेज करें। नियमित व्‍यायाम और शुगर लेवेल की जांच करें। डाइट चार्ट बनाने से पहले चिकित्‍सक से संपर्क अवश्‍य करें।

 

Read More Articles on Diabetes in Hindi

Write a Review Feedback
Is it Helpful Article?YES74 Votes 8240 Views 1 Comment
प्रतिक्रिया दें
disclaimer

इस जानकारी की सटिकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । इसकी नैतिक जि़म्‍मेदारी ओन्‍लीमाईहैल्‍थ की नहीं है । डिस्‍क्‍लेमर:ओन्‍लीमाईहैल्‍थ पर उपलब्‍ध सभी साम्रगी केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। हमारा उद्देश्‍य आपको रोचक और ज्ञानवर्धक जानकारी मुहैया कराना मात्र है। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है।

टिप्पणियाँ
  • nargis19 Jun 2013

    आपने बहुत अच्छी जानकारी दी है। मेरे पापा को डायबिटीज है। मैं उन्हें इसी डायट चार्ट के अनुसार खाना देती हूं। इससे उनकी सेहत बहत अच्छी रहती हैं। क्या आप बता सकते हैं कि मधुमेह के रोगियों को कैसे परहेज करना चाहिए। वे मीठे में क्या ले सकते हैं साथ कितनें दिनों पर मीठा खा सकते हैं।

संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर