निगलने में परेशानी, सफेद या लाल दाग हो सकते हैं जीभ कैंसर के लक्षण

By  , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग
Oct 15, 2013
Comment

Subscribe for daily wellness inspiration

Like onlymyhealth on Facebook!

Quick Bites

  • जीभ का कैंसर मुंह के कैंसर का ही एक हिस्‍सा है।
  • इसके ज्‍यादा फैलने पर इसे ओरल कैंसर कहते हैं।
  • जीभ पर सफेद या लाल दाग, गले में खराश होना।
  • निगलने में दर्द, खून बहना, आदि इसके लक्षण हैं।

जीभ का कैंसर मुंह के कैंसर का ही एक हिस्‍सा है। जीभ कैंसर के लक्षण भी मुंह के कैंसर से मिलते-जुलते हैं। जीभ का कैंसर एक घातक ट्यूमर है जो जीभ के अलगे हिस्‍से या गले में मौजूद जीभ में होता है। जब कैंसर जीभ के अगले हिस्‍से में फैलता है तब यह ओरल कैंसर की श्रेणी में आता है और जब यह जीभ के आधार यानी बेस पर होता है तब यह ओरोफैरिंगल कैंसर की श्रेणी में आता है। इसी आ‍धार पर कैंसर के लक्षण भी अलग-अलग होते हैं।

Symptoms of Tongue Cancer कैंसर कोशिकाओं के अनियंत्रित विकास के कारण होता है। हमारा शरीर विभिन्‍न प्रकार की कोशिकाओं से बना है और उसी आधार पर कैंसर भी कई प्रकार के होते हैं। लेकिन यदि कैंसर को इसके लक्षणों के आधार पर शुरूआती अवस्‍था में इसका निदान हो जाये तो इसका उपचार संभव है। आइए हम आपको जीभ कैंसर के लक्षण बताते हैं।

 

जीभ कैंसर के लक्षण

  • जीभ पर सफेद या लाल रंग का दाग होना, यह दाग केवल जीभ में ही होता है अन्‍य हिस्‍सों में नहीं।
  • गले में खराश होना भी जीभ कैंसर का लक्षण है।
  • जीभ पर एक पीड़ादायक धब्‍बे पड़ना, इसे अल्‍सर भी कहते हैं।
  • जीभ कैंसर होने पर निगलने में दर्द होता है।
  • मुंह का सुन्‍न हो जाना भी जीभ कैंसर का लक्षण है।
  • जीभ से खून बहना, इस खून की वजह चोट नहीं है।
  • जीभ के अलावा कान में भी दर्द होना जो कि दुर्लभ है।
  • इसका असर आवाज पर भी पड़ता है, व्‍यक्ति आवाज भी बदल जाती है।
  • बदबूदार सांसें, जीभ के कैंसर में सांसों से बदबू आने लगती है।
  • मुंह ज्‍यादा खुलता नहीं, मुंह खोलने में भी दिक्‍कत होती है।
  • जीभ कैंसर के कारण बहुत तेजी से वजन घटने लगता है।



यदि आपको जीभ कैंसर के ये लक्षण दिखें तो तुरंत चिकित्‍सक से संपर्क कीजिए, नहीं तो यह मुंह के अन्‍य हिस्‍सों जैसे - मसूड़े, जबड़े और गले में फैल सकते हैं। यदि इसके लक्षणों के आधार पर शुरूआती स्‍टेज में इसकी पहचान हो जाये तो इसका उपचार हो सकता है। लेकिन जैसे-जैसे यह फैलता जोयगा और भी घातक हो जायेगा। इसके कारण आदमी की मौत भी हो सकती है।

जीभ कैंसर के लिए काफी हद तक धूम्रपान, तंबाकू आदि जिम्‍मेदार हैं। ज्‍यादा एल्‍कोहल लेने से जीभ के कैंसर का खतरा बढ़ता है। जीभ कैंसर की चिकित्‍सा सर्जरी, रेडियोथेरेपी और कीमोथेरेपी के जरिए होती है। जीभ कैंसर के इलाज के लिए एक बार में एक ही उपचार का सहारा लिया जा सकता है। इन सबसे में सर्जरी को सबसे बेहतर इलाज माना जा सकता है।

यदि जीभ कैंसर पूरे जीभ में फैल जाता है तब चिकित्‍सक सर्जरी के द्वारा जीभ निकाल देते हैं। लेकिन इससे पहले चिकित्‍सक कैंसर के इस प्रकार के इलाज के लिए रेडियोथेरेपी और कीमोथेरेपी की सलाह देंगे।

 

 

Read More Articles On Oral Cancer In Hindi

Write Comment Read ReviewDisclaimer Feedback
Is it Helpful Article?YES109 Votes 23228 Views 1 Comment
संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर