केले के तने के भी होते हैं कई आश्चर्यजनक लाभ

By  , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग
Sep 17, 2015
Comment

हेल्‍थ संबंधी जानकारी के लिए सब्‍सक्राइब करें

Like onlymyhealth on Facebook!

Quick Bites

  • केले के सेवन के ही नहीं बल्कि इसके तने के भी काफी फायदे हैं।
  • लोग आम तौर पर डंठल की बाहरी परत को छीलकर निकाल देते हैं।
  • बनाना स्टेम का बिना मोटा होने के डर के सेवन कर सकते हैं।
  • इसे बटरमिल्स और सेब के रस के साथ भी पिया जा सकता है।

केले के सेवन के कई सारे स्वास्थ्य लाभ होते हैं, इसके बारे में आप जानते भी हैं, लेकिन क्‍या आप जानते हैं केले के तने भी काफी फायदेमंद होते हैं। केले का तना, जिसे "बनाना स्टेम" भी कहा जाता है। इसमें कई पोषक तत्व होते हैं जो कि एक स्वस्थ शरीर के लिए महत्वपूर्ण है। चलिये आज आपको बनाना स्टेम और इससे होने वाले कमाल के स्वास्थ्य लाभों के बारे में बताते हैं। साथ ही बताते हैं कई तरह के बनाना स्टेम जूस बनाने के तरीके। 

बनाना स्टेम और इसके फायदे

थाइलेंड व भारत जैसे देशों में लोग भोजन के किसी भी भाग को बर्बाद नहीं करते हैं। इसलिये वे न सिर्फ केले को खाते हैं बल्कि इसे तने व फूल को भी भोजन में इस्तेमाल करते हैं। यदि वनस्पति-विज्ञान की भाषा में बात करें तो बनाना स्टेम को किसी स्टेम की तरह नहीं बल्कि फूल के डंठल की तरह माना जाता है। इसके फूल का डंठल कुछ इस तरह बढ़ता है कि केले के पूरे पेड़ को ही सपोर्ट करता है।

 

Benefits Of Banana Stems in Hindi

 

लोग आम तौर पर डंठल की बाहरी परत को छीलकर निकाल देते हैं, लेकि इसके भीतर काफी सारा फाइबर और खानें योग्य पदार्थ होता है। कई उष्णकटिबंधीय देशों में लोग इसे करी और तले हुए स्नैक्स में इस्तेमाल करते हैं। क्योंकि इसमें हमारे शरीर के लिए पर्याप्त फाइबर होता है, बनाना स्टेम का सेवन कब्ज और अल्सर को रोकने में सहायक होता है। इसे जूस बनाकर भी सेवन किया जा सकता है।

बनाना स्टेम जूस के फायदे

  • बनाना स्टेम में एक ऐसा फाइबर होता है जो शरीर से अतिरिक्त वसा को नष्ट करने में कारगर होता है।
  • बनाना स्टेम जूस में मौजूद फाइबर, शुगर रिलीज की प्रक्रिया को धीमा करता है तथा कोशिकाओं में जमा वसा को तोड़ता है। इस प्रकार आपको ऊर्जा की सतत आपूर्ति पाने में मदद मिलती है। तो, अगर आप कसरत करने से पहले बनाना स्टेम जूस पीते हैं तो ये आपको ऊर्जा देता है और प्रभावी तरीके से वजन कन करने में भी मदद करता है।
  • जैसा कि हम पहले ही बात कर चुके हैं कि बनाना स्टेम जूस में बहुत कम कैलोरी होती हैं, आप इसका बिना मोटा होने के डर के सेवन कर सकते हैं।
  • सामान्यतौर पर एक दिन में 25 ग्राम तक फाइबर लेने की सलाह दी जाती है, लेकिन वजन कम करने के लिये एक दिन में 30 से 40 ग्राम तक फाइबर भी ला जा सकती है, और इसके लिये बनाना स्टेम जूस आदर्श विकल्प है।
  • आयुर्वेद के अनुसार बनाना स्टेम जूस किडनी स्टोन से पीड़ित लोगों के लिये काफी फादेमंद होता है। बनाना स्टेम जूस का मूत्रवर्धक गुण किडनी स्टोन का आकार करने में प्रभावी होता है।


बनाना स्टेम बनाते समय ठीक से इसे चौप कर लें। इससे आप मसालेदार सब्जी भी बना सकते हैं और इसका जूस भी बनाया जा सकता है। इसे बटरमिल्स और सेब के रस के साथ भी पिया जा सकता है। इसका जूस बनाने के लिये एक घंटे के लिए बनाना स्टेम को पानी में भीगो दें और फिर इसका रस निकालें। इसे सेब के जूस के साथ मिलाकर कुछ आइस क्यूब डालें और फिर पियें या सर्व करें।


Fact source - 7daygmdiet

Image Source - Getty Images

Write a Review Feedback
Is it Helpful Article?YES33 Votes 7915 Views 0 Comment
प्रतिक्रिया दें
disclaimer

इस जानकारी की सटिकता, समयबद्धता और वास्‍तविकता सुनिश्‍चित करने का हर सम्‍भव प्रयास किया गया है । इसकी नैतिक जि़म्‍मेदारी ओन्‍लीमाईहैल्‍थ की नहीं है । डिस्‍क्‍लेमर:ओन्‍लीमाईहैल्‍थ पर उपलब्‍ध सभी साम्रगी केवल पाठकों की जानकारी और ज्ञानवर्धन के लिए दी गई है। हमारा आपसे विनम्र निवेदन है कि किसी भी उपाय को आजमाने से पहले अपने चिकित्‍सक से अवश्‍य संपर्क करें। हमारा उद्देश्‍य आपको रोचक और ज्ञानवर्धक जानकारी मुहैया कराना मात्र है। आपका चिकित्‍सक आपकी सेहत के बारे में बेहतर जानता है और उसकी सलाह का कोई विकल्‍प नहीं है।

संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर