Doctor Verified

सर्दियों में सताती है शरीर की खुजली, तो अपनाएं ये 5 आयुर्वेद‍िक उपाय

Itching Treatment in Hindi: सर्दियों में रूखी त्‍वचा के कारण बढ़ जाती है खुजली, जानें खुजली दूर करने के आसान आयुर्वेद‍िक उपाय।

Yashaswi Mathur
Written by: Yashaswi MathurUpdated at: Dec 09, 2022 12:19 IST
सर्दियों में सताती है शरीर की खुजली, तो अपनाएं ये 5 आयुर्वेद‍िक उपाय

सर्दि‍यों के मौसम में शरीर में खुजली की समस्‍या बढ़ जाती है। मौसम में नमी की कमी के कारण त्‍वचा रूखी होती है। रूखी त्‍वचा में खुजली, रैशेज, रेडनेस आद‍ि के लक्षण नजर आने लगते हैं। खुजली शरीर के क‍िसी एक भाग या पूरे शरीर में हो सकती है। शरीर में होने वाली खुजली को दूर करने के ल‍िए आयुर्वेद‍िक उपायों की मदद ले सकते हैं। आयुर्वेद की मानें, तो ज‍िन लोगों में पित्त दोष होता है, वो स्‍क‍िन ड‍िसऑर्डर के ज्‍यादा श‍िकार होते हैं। कई आयुर्वेद‍िक जड़ी-बूट‍ियां हैं ज‍िनकी मदद से सर्द‍ियों में त्‍वचा के संक्रमण या खुजली की समस्‍या से छुटकारा पा सकते हैं। ऐसे ही 5 उपायों को आगे लेख में जानेंगे। इस व‍िषय पर बेहतर जानकारी के ल‍िए हमने लखनऊ के व‍िकास नगर में स्‍थित प्रांजल आयुर्वेद‍िक क्‍लीन‍िक के डॉ मनीष स‍िंह से बात की।

itching treatment in hindi

1. लहसुन से करें खुजली का इलाज

  • लहसुन में एंटीएलर्ज‍िक और एंटीइंफ्लेमेटरी गुण मौजूद होते हैं।
  • लहसुन के इस्‍तेमाल से त्‍वचा में खुजली और सूजन को दूर क‍िया जा सकता है।  
  • लहसुन का इलाज करने के ल‍िए लहसुन की कल‍ियों को छोटा-छोटा काट लें।
  • इन कल‍ियों को जैतून के तेल के साथ गरम कर लें।
  • तेल को रातभर के ल‍िए छोड़ दें।
  • अगली सुबह, तेल को खुजली वाले प्रभाव‍ित स्‍थान पर लगाएं।
  • 20 से 30 म‍िनट के लि‍ए तेल को लगाकर छोड़ दें।  

इसे भी पढ़ें- Causes of Itching: इन 11 कारणों से हो सकती है शरीर में खुजली, जानें लक्षण और बचाव      

2. तुलसी का प्रयोग करें

आयुर्वेद में तुलसी का खास महत्‍व है। तुलसी में एंटीबैक्‍टीर‍ियल और एंटीफंगल गुण मौजूद होते हैं। तुलसी की मदद से खुजली की समस्‍या को दूर कर सकते हैं। शरीर में खुजली हो रही है, तो एक बाल्‍टी गुनगुने पानी में मुट्ठी भर तुलसी की पत्तियां को डालें। इस पानी से स्नान लेने से आप संक्रमण को जल्‍दी खत्‍म कर सकते हैं। तुलसी में मौजूद एंटीमाइक्रोब‍ियल गुणों की मदद से संक्रमण शरीर में फैलने से भी बच जाता है।

3. मेथी के बीज से करें खुजली का इलाज

मेथी के बीजों को रात में भि‍गोकर रख दें। सुबह मेथी के दानों को थोड़े पानी के साथ म‍िलाकर गाढ़ा पेस्‍ट तैयार करें। पेस्‍ट को खुजली वाले ह‍िस्‍से में लगा दें। फ‍िर त्‍वचा को साफ पानी से धो लें। मेथी के बीजों में एंटीइंफ्लेमेटरी गुण होते हैं। एक्‍ज‍िमा जैसे रोग में आराम के ल‍िए भी मेथी के बीजों का इस्‍तेमाल कर सकते हैं।    

4. त‍िल के तेल का इस्‍तेमाल करें

त‍िल के तेल की मदद से खुजली का इलाज कर सकते हैं। खुजली वाले स्‍थान पर त‍िल का तेल लगा लें। हल्‍के हाथों से माल‍िश करें। त‍िल के तेल से त्‍वचा को नमी म‍िलती है और रूखी त्‍वचा की समस्‍या दूर होती है। त‍िल के तेल को बादाम या नार‍ियल के तेल के साथ म‍िलाकर त्‍वचा पर लगा सकते हैं।    

5. नीम से करें खुजली का इलाज

नीम की मदद से त्‍वचा की कई समस्‍याओं का इलाज क‍िया जाता है ज‍िनमें से एक खुजली भी है। खुजली की समस्‍या दूर करने के ल‍िए नीम की पत्तियों का पेस्‍ट बना लें। इस पेस्‍ट को संक्रमण वाली जगह पर लगा लें। आधे घंटे बाद त्‍वचा को साफ पानी से धो लें।नीम में मौजूद एंटीबैक्‍टीर‍ियल गुण, संक्रमण को दूर करने में मदद करेंगे।  

Ayurvedic Treatment of Itching: खुजली का आयुर्वेद‍िक इलाज करना चाहते हैं, तो नीम, तुलसी, मेथी के बीज, ति‍ल का तेल और लहसुन आद‍ि का इस्‍तेमाल कर सकते हैं।    

Disclaimer