हमारे शरीर के लिए क्यों ज़रूरी है मैग्नीशियम? क्या है इसका प्रमुख स्रोत

हमारे शरीर के लिए मैग्निशियन बेहद जरूरी है। इसकी मात्रा को बढ़ाने के लिए केवल अपनी डाइट में कुछ बदलाव करने की जरूरत है। जानें आगे...

Garima Garg
Written by: Garima GargPublished at: Oct 06, 2020
हमारे शरीर के लिए क्यों ज़रूरी है मैग्नीशियम? क्या है इसका प्रमुख स्रोत

हमारे शरीर को हमेशा स्वस्थ व सक्रिय बनाने के लिए मिनरल्स एक अहम भूमिका निभाते हैं। इन मिनरल्स में मैग्नीशियम को भी गिना जाता है। इसकी भूमिका शरीर की संरचना में अहम होती है। यह न केवल हमें कई बीमारियों से बचाता है बल्कि इससे स्वास्थ्य भी बढ़िया रहता है। इस लेख के माध्यम से हम जानेंगे कि मैग्नीशियम हमारे शरीर को कैसे फायदा पहुंचाता है? इसके ज्यादा सेवन से हमारे शरीर को क्या-क्या नुकसान हो सकता है? मैग्नीशियम के प्रमुख स्त्रोत क्या है? पढ़ते हैं आगे...

MEGNISIUM

मैग्नीशियम कैसे पहुंचाता है फायदा

कैल्शियम और बोलियम की तरह मैग्नीशियम भी क्षारीय तत्व है। इससे संबंधित कई शोध सामने आते रहे हैं, जिनमें यह पाया गया है कि मैग्नीशियम शरीर में मौजूद एंजाइम के साथ मिलकर ग्लूकोस बनाने का काम करता है। इसके अलावा मैग्नीशियम इंसुलिन बनाने की प्रक्रिया को भी दुरुस्त रखता है। खास बात यह है कि मैग्नीशियम डायबिटीज के मरीजों के लिए बेहद लाभदायक है। जिन लोगों को टाइप 2 डायबिटीज का खतरा है अगर वे मैग्नीशियम का सेवन करें तो इसका खतरा कम हो जाता है हमारी याददाश्त को बढ़ाने के साथ-साथ हाई ब्लड प्रेशर, दिल की बीमारियां, तनाव, माइग्रेंस आदि जैसी समस्याओं को मैग्निशियम के माध्यम से दूर किया जा सकता है। सिर्फ इतना ही नहीं अगर मैग्नीशियम कैल्शियम के साथ मिल जाए तो यह शरीर की हड्डियों को भी मजबूत बना सकता है। ये प्रेगनेंट लेडी के लिए बहुत जरूरी है क्योंकि इससे गर्भस्थ शिशु का विकास तेजी से होता है।

मैग्नीशियम के प्रमुख स्रोत

मैग्नीशियम को अपनी डाइट में जोड़ना कोई मुश्किल काम नहीं है। थोड़ी से बदलाव से आप अपने शरीर में मैग्नीशियम की मात्रा को पूरा कर सकते हैं। अगर यहां बताए गए आहार को खानपान में नियमित रूप से शामिल किया जाए तो इससे शरीर को पर्याप्त मात्रा में मैग्नीशियम मिल जाता है और इसके लिए अलग से सप्लीमेंट लेने की जरूरत नहीं होती है।

इसे भी पढ़ें- क्या दिन में सिर्फ 1 टाइम खाना खाकर घटाया जा सकता है वजन? जानें कितना सुरक्षित या खतरनाक है ये तरीका

स्प्राउट्स-

स्प्राउट्स नाश्ते में खाया जाता है। अगर आप साबुत मूंग और चने को अंकुर करके खाए तो इससे मेटाबॉलिज्म की प्रक्रिया दुरुस्त रहती है।

हरी पत्तेदार सब्जियां-

हरी पत्तेदार सब्जियों से आयरन की कमी पूरी होती है। पर क्या आप जानते हैं मैग्नीशियम का भी बहुत अच्छा स्रोत है। इन सब्जियों से हीमोग्लोबिन का स्तर बढ़ जाता है और मांसपेशियों को मजबूती मिलती है।

बादाम 

चूंकी बादाम की तासीर गर्म होती है इसीलिए इनका सेवन सर्दियों में किया जाता है। यह मैग्नीशियम का एक अच्छा स्रोत है। अगर आप रोज पानी में भिगोए हुए पांच बदाम का सेवन करेंगे तो याद आए के साथ-साथ नर्वस सिस्टम से संबंधित बीमारियों से भी बचा जा सकता है।

Read More Aricles on Diet And Fitness in Hindi

Disclaimer