बगलों (आर्मपिट) में क्यों आते हैं बाल? जानें ये बाल होने क्यों जरूरी हैं और किन समस्याओं से बचाते हैं

आप अक्सर आर्मपिट (कांख) के बालों से परेशान होते हैं और शेव कर लेते हैं। लेकिन क्या आप जानते हैं कि प्राकृतिक रूप से ये बाल कितने महत्वपूर्ण होते हैं।

Monika Agarwal
Written by: Monika AgarwalUpdated at: Nov 07, 2021 00:00 IST
बगलों (आर्मपिट) में क्यों आते हैं बाल? जानें ये बाल होने क्यों जरूरी हैं और किन समस्याओं से बचाते हैं

हमें अपनी बगलों में बाल पसंद है या नहीं यह हमारा निजी विषय है। लेकिन सबसे जरूरी जानना तो यह है कि हमारी बगलों में बाल क्यों उगते हैं और यह किस तरह से हमारी त्वचा के लिए महत्वपूर्ण हैं। शरीर के कुछ हिस्सों पर बालों के होने की अपनी एक विशेषता है। यह बाल बाहर के गंद को हमारे शरीर के अंदर जाने से रोकते हैं। उदाहरण के तौर पर हम नाक के बाल ले सकते हैं। लेकिन हर भाग के बालों का यही काम नहीं होता है। किशोरावस्था में शरीर पर बाल आने शुरू हो जाते हैं। 12 वर्ष की आयु में लड़कियों में और 11 से 14 वर्ष की आयु में लड़कों में पिट्यूटरी ग्लैंड में एंड्रोजन नामक हार्मोन के सक्रिय होने से बाल आने शुरू होते हैं। दरअसल जब शरीर में सेक्स हार्मोन बनना शुरू होता है तो अपोक्राइन पसीने की ग्रंथियां एक्टिव हो जाती हैं और इन अपोक्राइन ग्रंथियों के एक्टिव होने से हमारी कांख यानी बगल में बालों की ग्रोथ शुरू हो जाती है। भले ही हम इन बालों को हटा देते हों लेकिन कुदरती तौर पर यह निम्न बातों के लिए महत्व रखते हैं।

1. बगल के बाल फेरोमोंस के लिए बेहतर होते हैं

फेरोमोन्स वह हार्मोन होते हैं जो आपके शरीर की प्राकृतिक स्मेल से और अधिक तेज होते हैं और इनसे सेक्सुअल आकर्षण में भी मदद मिलती है। जब आपके आर्मपिट के बालों में पसीना आता है तो यह हार्मोन और अधिक मजबूत होता है। इससे आप दोनों पार्टनर के बीच सेक्सुअल अट्रैक्शन और अधिक बढ़ जाता है। स्टडीज के मुताबिक जब हम हमारे पार्टनर की प्राकृतिक स्मेल सूंघते हैं तो इससे हमारा स्ट्रेस भी कम होता है।

इसे भी पढ़ें : झड़ते बालों (हेयर फॉल) से छुटकारा पाना है तो आज से अपनाएं ये 7 आदतें, जल्द दूर होगी समस्या

2. बगल के बाल फ्रिक्शन कम करने में होते हैं मददगार

जब आप कोई हाई इंटेंस गतिविधि करते हैं तो आपके शरीर में रगड़ (फ्रिक्शन) पैदा होती है। अगर यह रगड़ अधिक हो तो आपकी स्किन जल भी सकती है। इसलिए जब भी आप भागते हैं या एक्सरसाइज करते हैं तो आर्मपिट के बालों में पसीना आता है। जिस कारण यह फ्रिक्शन कम होता है और आपकी स्किन में अधिक गर्मी पैदा होने से बच सकती है।

underarms hair

3. बगल के बाल कई समस्याओं से बचाते हैं

आपके आर्मपिट हेयर आपको काफी सारी स्थितियों से बचा सकते हैं। जिनमें आर्मपिट पिंपल आना और अंदरूनी बाल आना शामिल है। अगर आप स्किन पर होने वाली इरीटेशन और बर्न से बचना चाहते हैं तो आर्मपिट हेयर शेव न करें। इससे आप रेजर द्वारा होने वाले कट आदि से भी बच सकेंगे।

इसे भी पढ़ें : क्या आप करते हैं अंडरआर्म्स (कांख) की सही साफ-सफाई? इन 5 तरीकों से करें इसकी सही देखभाल

अगर आप बगल के बाल शेव करते हैं तो इससे क्या क्या लाभ मिल सकते हैं?

आपको पसीना कम आएगा

अगर आपकी अंडर आर्म्स में अधिक पसीना आता है तो संभव है आप काफी कम शेव करते होंगे। अगर आपके बालों की ग्रोथ अधिक होगी तो पसीना भी अधिक आएगा और साथ ही स्मेल भी अधिक ही आएगी। पसीने से बचने के लिए आपको आर्मपिट शेव करनी चाहिए।

आपके शरीर से स्मेल कम आएगी

अगर आप अपने आर्मपिट के बाल शेव करेंगे तो आपको उस भाग में पसीना कम आएगा जिससे स्मेल भी कम आती है। इससे आपके पूरे शरीर में बॉडी ओडर (बदबू) काफी कम हो सकती है। इससे भी आपको चैन की सांस आ सकती है साथ में आपका अधिक परफ्यूम का खर्चा भी बच सकता है।

अगर आपके शरीर में प्राकृतिक रूप से बगल के बाल नहीं आ रहे हैं तो यह हो सकते हैं कारण

अगर आप के अंडर आर्म हेयर की ग्रोथ काफी कम है या बाल उग ही नही रहे हैं तो इसका अर्थ हो सकता है कि आप किसी तरह की शारीरिक स्थिति से गुजर रहे हो। इन स्थितियों में डायबिटीज, किडनी की बीमारी, अस्थमा और थायराइड जैसी बीमारियां शामिल हैं। इनके लिए भी आप एक बार चेक अप जरूर करवाएं।

इसे भी पढ़ें : बगल में गांठ (आर्मपिट लम्प) का कारण और बचाव के उपाय

आर्मपिट और आपके शरीर पर सारी जगह ही बालों का आना काफी आवश्यक है। यह आपको विभिन्न तरह की गंदगी से बचा सकते हैं और आपके शरीर को अंदर से साफ रखने में भी मददगार हैं।

Disclaimer