इन 5 तरह के लोगों को नहीं खानी चाहिए हरी मटर, होते हैं ये नुकसान

Green Peas Side Effects: हरी मटर का सेवन कुछ स्वास्थ्य समस्याएं में नुकसानदायक साबित हो सकता है। जानें कब और किसे हरी मटर नहीं खानी चाहिए -

Priya Mishra
Written by: Priya MishraUpdated at: Jan 14, 2023 12:30 IST
इन 5 तरह के लोगों को नहीं खानी चाहिए हरी मटर, होते हैं ये नुकसान

Hari Matar Kise Nahi Khani Chahiye: सर्दियों में हरी मटर का सेवन खूब किया जाता है। ठंड शुरू होते ही सब्जी, परांठे  और चाट-पकौड़े बनाने के लिए हरी मटर का प्रयोग किया जाता है। उत्तर प्रदेश के कुछ क्षेत्रों में हरी मटर को पीसकर निमोना भी तैयार किया जाता है। हरी मटर न सिर्फ खाने में स्वादिष्ट होती है, बल्कि सेहत के लिए भी फायदेमंद होती है। हरी मटर में विटामिन ए, ई, डी, सी, के, प्रोटीन, फाइबर और एंटीऑक्सीडेंट्स जैसे पोषक तत्व पाए जाते हैं। हरी मटर खाने से ब्लड शुगर और कोलेस्ट्रॉल नियंत्रित रहता है। सर्दियों में हरी मटर खाने से कई बीमारियों से बचाव होता है। लेकिन ज्यादा मटर खाने के कुछ नुकसान भी हैं। कुछ लोगों को हरी मटर का ज्यादा सेवन करने से परहेज करना चाहिए। इतना ही नहीं, कुछ स्वास्थ्य समस्याओं में हरी मटर का सेवन करने से रोगी की स्थिति बिगड़ सकती है। अब सवाल यह उठता है कि किन लोगों को हरी मटर का सेवन नहीं करना चाहिए? हरी मटर कब नहीं खानी चाहिए? इस लेख में हम आपको बता रहे हैं कि हरी मटर का सेवन कब और किन लोगों को नहीं करना चाहिए -  

हरी मटर किसे नहीं खानी चाहिए - Who Should Not Eat Green Peas In Hindi

पेट में गैस 

पेट में गैस या ब्लोटिंग होने पर हरी मटर का सेवन करने से बचना चाहिए। दरअसल, हरी मटर में कार्बोहायड्रेट की मात्रा ज्यादा होती है। वहीं इसमें मौजूद शुगर को हमारा पाचन तंत्र आसानी से नहीं पचा पाता है। ऐसे में, जब आप हरी मटर का ज्यादा सेवन करते हैं तो ये आसानी से नहीं पचती है। इससे पेट में गैस, कब्ज, सूजन और पेट फूलने जैसी समस्याएं हो सकती हैं। 

Green-Peas

किडनी से जुड़ी समस्याएं

किडनी से जुड़ी समस्याओं में हरी मटर का सेवन करने से परहेज करना चाहिए। हरी मटर में प्रोटीन की मात्रा अधिक होने की वजह से किडनी की फंक्शनिंग पर प्रभाव पड़ता है। ऐसे में, हरी मटर का ज्यादा सेवन करने से किडनी से संबंधित दिक्क्तें हो सकती हैं। यही वजह है कि किडनी के मरीजों को सीमित मात्रा में मटर का सेवन करने की सलाह दी जाती है।   

इसे भी पढ़ें: इन 4 समस्याओं में नहीं करना चाहिए फूलगोभी का सेवन, बढ़ सकती है परेशानी

मोटापा

अगर आप वजन घटाना चाहते हैं, तो आपको हरी मटर का सेवन सीमित मात्रा में करना चाहिए। हरी मटर में प्रोटीन और कार्बोहायड्रेट अधिक मात्रा में होता है। इसमें फाइबर भी मौजूद होता है, जो वजन कम करने में मदद करता है। लेकिन अगर इसका ज्यादा मात्रा में सेवन किया जाए तो यह वजन और बॉडी फैट को बढ़ा सकता है। 

हाई यूरिक एसिड

हाई यूरिक एसिड की समस्या में हरी मटर का सेवन करने से बचना चाहिए। हरी मटर में प्रोटीन, अमीनो एसिड, विटामिन डी और फाइबर की मात्रा अधिक होती है। ये पोषक तत्व हड्डियों को मजबूत बनाते हैं। लेकिन ज्यादा हरी मटर खाने से शरीर में यूरिक एसिड बढ़ने लगता है, जो जोड़ों में दर्द को बढ़ा सकता है। यह आगे चलकर अर्थराइटिस और गाउट की समस्या पैदा कर सकता है।

इसे भी पढ़ें: इन 5 समस्याओं में नहीं करना चाहिए संतरे का सेवन, बढ़ सकती है परेशानी

हरी मटर का सेवन स्वास्थ्य के लिए फायदेमंद है। लेकिन अगर आप किसी बीमारी या स्वास्थ्य समस्या का सामना कर रहे हैं, तो बेहतर है कि हरी मटर का सेवन करने से पहले डॉक्टर से परामर्श करें।

Disclaimer