बड़े काम की है सफ़ेद हल्दी, जानें इसके औषधीय गुण और फायदे के बारे में

आयुर्वेद में सफ़ेद हल्दी को असरदार औषधि माना जाता है, इसका इस्तेमाल सैकड़ों सालों से पारंपरिक चिकित्सा में किया जा रहा है

Prins Bahadur Singh
Written by: Prins Bahadur SinghPublished at: Apr 21, 2021Updated at: Apr 21, 2021
बड़े काम की है सफ़ेद हल्दी, जानें इसके औषधीय गुण और फायदे के बारे में

भारतीय रसोई में हल्दी (Haldi) का इस्तेमाल सैकड़ों सालों से किया जा रहा है। हल्दी (Curcuma Zedoaria)अनेक औषधीय गुणों से युक्त होती है और इसका उचित मात्रा में सेवन सेहत के लिए फायदेमंद होता है। आमतौर पर लोग पीले रंग वाली हल्दी के पाउडर आदि का इस्तेमाल भोजन बनाने और कई अन्य औषधीय कार्यों में करते हैं लेकिन क्या आपको पता है कि हल्दी की एक और प्रजाति है और इसका रंग सफ़ेद होता है? सफ़ेद हल्दी भी सामान्य पीली हल्दी की तरह ही अनेक औषधीय गुणों से युक्त होती है। सफ़ेद हल्दी (White Turmeric) को अम्बा हल्दी के नाम से भी जाना जाता है। दिखने में यह अदरक और हल्दी की तरह होती है और इसके पाउडर का उपयोग तमाम बीमारियों में आयुर्वेदिक तरीकों से किया जाता है। हल्दी में पाया जाने वाला करक्यूमिन इसे स्वास्थ्य के लिए बेहद शक्तिशाली बनाता है, इसके एंटीऑक्सिडेंट गुण सेहत के लिए बेहद फायदेमंद माने जाते हैं। आइये जानते हैं सफ़ेद हल्दी के औषधीय उपयोग और इसके फायदों के बारे में।

सफेद हल्दी के फायदे (Health Benefits of White Turmeric)

अम्बा हल्दी या सफ़ेद हल्दी कई मायनों में सामान्य पीली हल्दी से अलग होती है। इसका इस्तेमाल आयुर्वेदिक दवाओं के निर्माण में काफी सालों से किया जा रहा है। सफ़ेद हल्दी में कई रासायनिक तत्व जैसे स्टार्च, कर्क्यूमिन, शुगर, टियांन, स्टार्च, सैपोनिन, रेजिन, और फ्लेवोनोइड आदि प्रचुर मात्रा में पाए जाते हैं जो कि कई तरह की समस्याओं में बेहद फायदेमंद माने जाते है। मूल रूप से भारत और इंडोनेशिया में पाई जाने वाली सफ़ेद हल्दी के फायदों को देखते हुए अब यह विदेशों में भी उगाई जाती है। सफ़ेद हल्दी से होने वाले स्वास्थ्य लाभ कुछ इस प्रकार से हैं।

white turmeric

1. पाचन के लिए फायदेमंद (Boosts Digestive System)

सफ़ेद हल्दी से उपयोग से पेट की कई समस्याओं में फायदा मिलता है। पाचन तंत्र से जुड़ी तमाम समस्याओं में यह बेहद फायदेमंद होती है। सफ़ेद हल्दी का तेल और इसका पाउडर पेट दर्द से लेकर, अपच, मरोड़, पीट के कीड़े और दस्त आदि में भी फायदेमंद होता है। पेट के अल्सर में भी इसका औषधीय इस्तेमाल किया जाता है।

इसे भी पढ़ें: कच्ची हल्दी या हल्दी की गांठ है ज्यादा स्वास्थ्यकारी, जानें हल्दी पाउडर की जगह क्यों करें इनका इस्तेमाल

2. एंटी एलर्जिक (Anti Allergic)

सफ़ेद हल्दी या अम्बा हल्दी के तेल में एंटी एलर्जिक गुण पाए जाते हैं। इसमें मौजूद Curcuminoids एलर्जी से जुड़ी समस्याओं में बेहद उपयोगी माना जाता है।  इसके इस्तेमाल से स्किन से जुड़ी एलर्जी की समस्याओं को कम करने में सहायता मिलती है। हल्दी के एंटीऑक्सिडेंट गुण संक्रमण और एलर्जी से लड़ने में सहायक होते हैं।

3. सांस से जुड़ी समस्या में उपयोगी (Respiratory Problems)

सांस से जुड़ी समस्याओं में सफ़ेद हल्दी का इस्तेमाल सैकड़ों सालों से किया जाता है। आयुर्वेद के हिसाब से शरीर में कफ की अधिकता सांस से जुड़े रोगों को जन्म देती है। सर्दी, खांसी और दमा जैसी समस्याओं में सफ़ेद हल्दी का इस्तेमाल बेहद लाभकारी होता है।

4. सूजन और दर्द में फायदेमंद ( Relieves Inflammation and Pain)

सफ़ेद हल्दी में एंटी इंफ्लेमेटरी (Anti-Inflammatory) गुण होते है। इसका इस्तेमाल सूजन, घाव और स्किन से जुड़ी कई अन्य समस्याओं में भी किया जाता है। सफ़ेद हल्दी का इस्तेमाल पारंपरिक चिकित्सा में आंत से जुड़ी गंभीर बीमारियों में भी किया जाता है। फेफड़ों के लिए भी इसे काफी अच्छा माना गया है।

इसे भी पढ़ें: एक्सपर्ट से जानें रोजाना हल्दी वाला दूध पीने के 5 फायदे और 2 स्थितियां जिनमें नहीं पीना चाहिए गोल्डेन मिल्क

5. कैंसर से बचाव में फायदेमंद (Anti-cancer)

सफ़ेद हल्दी में एंटी कैंसर गुण होते हैं। सफ़ेद हल्दी कैंसर जैसी घातक बीमारियों के खतरे को कम करने में बेहद फायदेमंद माना जाता है। यह कैंसर के मेटास्टेस को एक अंग से दूसरे अंग में जाने से रोकने में प्रभावशाली होता है। सफ़ेद हल्दी में एंटीऑक्सिडेंट गुण पाए जाते हैं इसलिए इसे कैंसर जैसी बीमारियों को कम करने में फायदेमंद माना जाता है लेकिन इस बात को सिद्ध करने के लिए कोई ठोस शोध अभी मौजूद नही है।

white turmeric benefits

इसके अलावा सफ़ेद हल्दी के कई अन्य औषधीय लाभ होते हैं। सफ़ेद हल्दी के कुछ प्रमुख पारंपरिक उपयोग और स्वास्थ्य लाभ इस प्रकार से हैं।

  • सफ़ेद हल्दी के जड़ का उपयोग पेट की समस्या में किया जाता है।
  • मासिक धर्म से जुड़ी दिक्कतों और उल्टी की समस्या में इसका इस्तेमाल होता है।
  • सफ़ेद हल्दी मूत्र से जुड़ी बीमारियों में फायदेमंद मानी जाती है।
  • सर्दी, जुकाम और बुखार के उपचार में इसका पारंपरिक इस्तेमाल होता है।
  • सांस से जुड़ी समस्या और अस्थमा जैसे रोग में फायदेमंद माना जाता है।
  • पेट की चर्बी कम करने के लिए भी इसका इस्तेमाल होता है।
  • थाई भोजन को बनाने में भी इसका इस्तेमाल किया जाता है।

आयुर्वेद में कई ऐसे जड़ी-बूटी और औषधियां हैं जिनका इस्तेमाल सैकड़ों वर्षों से किया जा रहा है। सफ़ेद हल्दी में अनेक औषधीय गुण मौजूद होते है जिसकी वजह से यह एक असरदार आयुर्वेदिक औषधि मानी जाती है। किसी भी समस्या में इसका इस्तेमाल करने से पहले आयुर्वेदिक एक्सपर्ट की सलाह और मार्गदर्शन बेहद जरूरी है।

Read More Articles on Ayurveda in Hindi

Disclaimer