कान के पीछे दर्द होने पर अपनाएं ये 5 घरेलू उपाय, मिलेगा आराम

What to do When Pain is Behind Ears in Hindi: कान के पीछे दर्द होने के कई कारण हो सकते हैं। जानें, कान के पीछे दर्द हो तो क्या करें?

Anju Rawat
Written by: Anju RawatUpdated at: Oct 30, 2022 13:54 IST
कान के पीछे दर्द होने पर अपनाएं ये 5 घरेलू उपाय, मिलेगा आराम

What to do When Pain is Behind Ears in Hindi:  कान में दर्द होना एक सामान्य समस्या होती है। लेकिन कानों का दर्द व्यक्ति की दिनचर्या को बुरी तरह से प्रभावित कर सकता है। कई बार कानों का दर्द इतना बढ़ जाता है कि इसका असर बाहर तक पड़ने लगता है। इस स्थिति में कान के पीछे वाले हिस्से में भी दर्द होने लगता है। कान के पीछे होने वाला दर्द गंभीर हो सकता है। यह किसी इंफेक्शन, सर्दी-जुकाम या फिर कान में किसी कीड़े की घुसने की वजह से हो सकता है। अगर आपको कुछ दिनों से लगातार कान के पीछे वाले हिस्से में दर्द हो रहा है, तो इस स्थिति को नजरअंदाज बिल्कुल न करें। वैसे तो कान में दर्द होने पर डॉक्टर से इलाज करवाना जरूरी होता है। लेकिन आप चाहें तो कुछ घरेलू उपायों को भी आजमा सकते हैं। तो चलिए जानते हैं, कान के पीछे दर्द हो तो क्या करें? (What to do When Pain is Behind Ears in Hindi) लेकिन ये घरेलू उपाय तभी असरदार साबित हो सकते हैं, जब ये कान में होने वाले किसी इंफेक्शन या समस्या की वजह से होता है। अगर कान के पीछे होने वाले दर्द का कारण अलग है, तो ये उपाय कारगर नहीं हो सकते हैं।

कान के पीछे दर्द हो तो क्या करें?- What to do When Pain is Behind Ears in Hindi

garlic for ear pain

1. लहसुन

लहसुन कान और कान के पीछे होने वाले दर्द का एक बेहतरीन घरेलू उपचार हो सकता है। अगर आपके कान के पीछे दर्द हो रहा है, तो आप लहसुन का उपयोग कर सकते हैं। इसके लिए आप लहसुन की 2-3 कलियां लें। इन कलियों को सरसों के तेल में गर्म कर लें। अब इस तेल को गुनगुना होने दें और फिर छान लें। अब इस मिश्रण के 1-2 बूंद कान में डालें। इससे आपको कान के पीछे होने वाले दर्द में आराम मिल सकता है। 

इसे भी पढ़ें- कान में दर्द का घरेलू उपाय : कान में दर्द होने पर घर पर मौजूद इन 11 चीजों का करें इस्तेमाल

2. तुलसी

अगर आपको कान में इंफेक्शन हो रहा है, इसकी वजह से कान के पीछे वाले हिस्से में दर्द महसूस हो रहा है तो आप तुलसी का उपयोग कर सकते हैं। इसके लिए आप तुलसी की कुछ पत्तियां लें। इन पत्तियों का रस निकाल लें। अब इस रस की 1-2 बूंद कान में डालें। तुलसी कान में होने वाले संक्रमण को काफी हद तक ठीक कर सकता है और दर्द में भी आराम दिला सकता है। 

3. नीम

नीम की पत्तियों में एंटीसेप्टिक गुण पाए जाते हैं। अगर आपके कान के पीछे संक्रमण की वजह से दर्द हो रहा है, तो नीम काफी असरदार घरेलू उपाय के तौर पर कारगर साबित हो सकता है। इसके लिए आप नीम की पत्तियों का रस निकाल लें। नीम की पत्तियों के रस को कान में डालें। इससे कान के दर्द में काफी आराम मिलेगा।

4. अदरक 

अदरक सेहत के लिए काफी फायदेमंद होता है। साथ ही इसका उपयोग कई समस्याओं का इलाज करने के लिए भी किया जाता है। संक्रमण की वजह से कान के पीछे होने वाले दर्द को ठीक करने के लिए भी अदरक का उपयोग किया जा सकता है। इसके लिए आप अदरक का रस निकाल लें। अब इस रस को कान में डालें। दिन में दो बार कान में अदरक का रस डालने से आपको काफी लाभ मिल सकता है। 

इसे भी पढ़ें- कान में दर्द होने पर इस्तेमाल करें सरसों का तेल और लहसुन, मिलेगी राहत

5. प्याज

प्याज भी कान के पीछे होने वाले दर्द को ठीक करने में उपयोगी साबित हो सकता है। इसके लिए आप प्याज का रस निकालें। इस हल्का गर्म कर लें। अब कान में प्याज के रस की 2 से 3 बूंद डालें। आप दिन में 2-3 बार इस प्याज के रस को डाल सकते हैं। 

अगर इंफेक्शन की वजह से आपको कान के पीछे दर्द होता है, तो आप इन उपायों को आजमा सकते हैं। लेकिन अगर आपको किसी अन्य कारण की वजह से कान के पीछे दर्द होता है, तो इस स्थिति में डॉक्टर से संपर्क करना बहुत जरूरी होता है।

Disclaimer