आपके लिए 'रनिंग' बेहतर एक्‍सरसाइज है या नहीं? इसे समझने के लिए पहले जानिए अपनी बॉडी टाइप

Morning Running Exercise: दौड़ना फायदेमंद है, ये हम सभी जानते हैं। लेकिन रनिंग शुरू करने से पहले कुछ बातों का ध्‍यान रखना जरूरी होता है।

Atul Modi
Written by: Atul ModiUpdated at: Mar 18, 2020 09:22 IST
आपके लिए 'रनिंग' बेहतर एक्‍सरसाइज है या नहीं? इसे समझने के लिए पहले जानिए अपनी बॉडी टाइप

तथ्यों की बात करें तो, दौड़ना सबसे प्रभावी व्यायामों में से एक माना जाता है, जो आपके हृदय के लिए बेहतर है। इसके लिए आपको किसी उपकरण की जरूरत नहीं है, बस आपको अपने शूज के लेस बांधने हैं। लेकिन क्या इसका मतलब यह है कि इस फिटनेस सेशन कोई भी अपना सकता है? यह जरुरी नहीं। अगर रनिंग किसी के लिए फायदेमंद है तो जरूरी नहीं है कि वह आपके लिए भी सही है विकल्‍प होगा। 

दिन की अच्‍छी शुरुआत के लिए, यह फिटनेस रूटीन स्वाभाविक रूप से आपके लिए मजेदार हो सकती है। लेकिन उचित सावधानियों के बिना ऐसा करना आपके लिए नुकसान दायक हो सकता है। तो, यदि आप अपने फिटनेस सेशन में दौड़ को शामिल करना चाहते हैं, तो आपको किन बातों का ध्‍यान रखना चाहिए? यहां हम आपको बता रहे हैं।

आपके शरीर का प्रकार क्या है?

body-type

रनिंग शुरू करने से पहले जिन मुख्य कारकों पर विचार किया जाना चाहिए, उनमें से एक आपके शरीर का प्रकार है। दुनिया के सबसे अच्छे धावकों के शरीर पतले, पुष्ट और हल्के मांस वाले होते हैं। दौड़ने में बहुत ताकत की जरूरत होती है, क्योंकि जब आप दौड़ते हैं, तो जिस बल के साथ आप जमीन पर उतरते हैं वह आपके शरीर के वजन से लगभग तीन गुना अधिक होता है। इसलिए, आपके शरीर के प्रकार को जानना महत्वपूर्ण हो जाता है।

वैज्ञानिक रूप से, शरीर के प्रकारों को एक्टोमोर्फ, मेसोमोर्फ और एंडोमोर्फ कहा जाता है। इन शरीर के प्रकारों में निम्नलिखित लक्षण हैं:

एक्टोमॉर्फ: एक व्यक्ति जो दुबला और लंबा है और उसे वजन बढ़ाने में कठिनाई होती है।

एंडोमोर्फ: एंडोमॉर्फ बॉडी टाइप का व्यक्ति हैवी, हाई बॉडी फैट, अक्सर नाशपाती के आकार का होता है, जिसमें बॉडी फैट को स्टोर करने की उच्च प्रवृत्ति होती है।

मेसोमॉर्फ: इस प्रकार के व्यक्ति का शरीर मांसपेशियों से अच्छी तरह से निर्मित होता है और इसमें हाई मेटाबॉलिज्‍म और प्रतिक्रियाशील मांसपेशी कोशिकाएं होती हैं।

इसे भी पढ़ें: 'बट' की चर्बी को तेजी से खत्‍म करते हैं ये 4 व्‍यायाम, मिलता है सही शेप

बड़े शरीर के प्रकार वाले लोग

बड़े शरीर का मतलब यह नहीं है कि एक बड़ा शरीर प्रकार अनिवार्य रूप से एक मेसोमोर्फ है। कुछ बड़े शरीर प्रकार हैं जो एक्टोमोर्फ और एंडोमोर्फ लक्षण के होते हैं और कुछ एक्टोमोर्फ और मेसोमोर्फ लक्षण का एक संयोजन हो सकते हैं, ये धावक बनने के लिए सबसे अच्छा संयोजन माना जाता है। चूंकि एक्टोमोर्फ सबसे कम वजन वाले होते हैं और मेसोमोर्फ सबसे मजबूत शरीर वाले होते हैं, यह संयोजन चलने (Walking) के लिए सबसे अच्छा है।

छोटे शरीर के प्रकार वाले लोग

यदि आप उन लोगों में से एक हैं, जिनके शरीर छोटे और पतले हैं, तो आप सबसे अच्छे दूरी के धावक बन सकते हैं। इससे कोई फर्क नहीं पड़ता कि आपके अंग की लंबाई क्या है; दौड़ने के दौरान आपके द्वारा लगाई जाने वाली ताकत क्या मायने रखती है। कई अध्ययनों ने साबित किया है कि छोटे धावक लम्बे धावक की तुलना में बेहतर दूरी के धावक बनते हैं! जहां लंबे और बड़े पैर शरीर को आगे उठाना और धक्का देना मुश्किल बनाते हैं, कम वजन के साथ छोटे शरीर वाले लंबी गति को अधिक गति के साथ कवर करने में मदद करते हैं।

running

मोटे शरीर वाले लोग

जैसे कि रनिंग के दौरान लैंडिंग को अधिक ताकत और बल की आवश्यकता होती है, अक्‍सर ऐसा होता है कि, अधिक वजन वाले लोग दौड़ते समय बहुत जल्दी थक जाते हैं। चूंकि उनके पास एंडोमॉर्फ के लक्षण हैं, इसलिए उनके शरीर का प्रकार बड़ा है और उनमें अधिक वसा है। लेकिन अच्छी बात यह है कि, मोटे शरीर के प्रकार वाले लोग भी दौड़ सकते हैं। हालांकि आपको निम्‍न बातों का ध्‍यान रखना चाहिए। 

1. यदि आप रनिंग की शुरुआत कर रहे हैं, एक डॉक्टर या एक विशेषज्ञ से परामर्श के बिना कभी न करें। आपको उचित निर्देश जैसे जूते के प्रकार, चलने के लिए उपयुक्त सतह और आपको कितना चलना चाहिए, इसकी जानकारी एक्‍सपर्ट दे सकते हैं।

2. अधिक वजन वाले व्यक्ति के लिए दौड़ना चुनौतीपूर्ण हो सकता है। अतिरिक्त वजन के कारण आपके लिए चलना भी मुश्किल हो सकता है। इसलिए, इससे पहले कि आप अपने फिटनेस सेशन में दौड़ना शामिल करने के बारे में सोचने से पहले टहलना और फिर तेज चलना शुरू करें। एक बार जब आपका स्‍टेमिना बढ़ जाए तो दौड़ना शुरू कर सकते हैं। 

3. आपके अधिक वजन के कारण, दौड़ने से आपको शरीर में दर्द और चोट लग सकती है। इसके अलावा, आप जल्‍दी थकान महसूस कर सकते हैं, आपकी हृदय गति बढ़ सकती है। इसलिए, रनिंग शुरू करने से पहले, अपनी पल्स दर की जांच करना न भूलें। दौड़ने से पहले अपने डॉक्टर से मिलें और सही पल्स रेट पता करें।

इसे भी पढ़ें: रोजाना 1 घंटे की एक्‍सरसाइज के बाद भी आपको जरूर करने चाहिए ये 5 काम, सेहतमंद रहने के लिए है जरूरी

running

रनिंग से जुड़े कुछ महत्‍वपूर्ण तथ्‍य

  • दौड़ने से पहले अधिक भोजन खाने से बचें। यदि आपको भूख लगती है, तो कुछ हल्का खाएं जो पचाने में आसान हो। भारी भोजन करने के बाद कम से कम तीन घंटे तक दौड़ने से बचें।
  • पानी जरूर पीएं। बाहर निकलने से पहले कम से कम आधा लीटर पानी पिएं। अपने शरीर डिहाइड्रेट होने से बचाएं। 
  • दौड़ने से पहले हल्‍का वार्मअप जरूरी है, जिससे शरीर गर्म हो जाए। 
  • एक सहज और आसान तरीके से अपने रनिंग की शुरुआत करें। तुरंत तेज गति से न दौड़ें, धीरे-धीरे अपनी गति बढ़ाएं।
  • आपका शरीर जो कहता है, उसे सुनें। यदि आप महसूस करते हैं, तो आराम करें और जब आराम मिल जाए तो फिर से रनिंग शुरू करें।
  • आपको ये भी जानने की जरूरत है कि आपको कितना चलना चाहिए। किसी विशेषज्ञ से परामर्श लें।
  • कठोर सतह पर दौड़ने से बचें क्योंकि इससे आपके घुटनों में चोट लग सकती है। 
  • रनिंग के बाद थोड़ी देर आराम करें, यह आपको दर्द और अनचाहे शरीर में ऐंठन से बचने में मदद करेगा।

Read More Articles On Exercise & Fitness In Hindi

Disclaimer