ग्‍लूटेन फ्री डाइट क्‍या है, वजन कम करने के लिए क्‍यों है असरदार

गेूंहू, जौ और राई से बने सभी फूड में ग्‍लूटेन मौजूद होता है। वजन बढ़ाने में ग्‍लूटेन का बहुत बड़ा रोल होता है। इसीलिए एक्‍पर्ट ग्‍लूटेन फ्री डाइट की सलाह देते हैं। 

Atul Modi
Written by: Atul ModiPublished at: Aug 30, 2018
ग्‍लूटेन फ्री डाइट क्‍या है, वजन कम करने के लिए क्‍यों है असरदार

आमतौर पर ग्‍लूटेन एक तरह का प्रोटीन होता है जो गेंहू में पाया जाता है। इसके अलावा उन सभी खाद्य पदार्थों में पाया जाता है जो गेंहू से निर्मित होते हैं। ग्‍लूटेन जौ और राई में भी प्रचुर मात्रा में होता है। गेूंहू, जौ और राई से बने सभी फूड में ग्‍लूटेन मौजूद होता है। वजन बढ़ाने में ग्‍लूटेन का बहुत बड़ा रोल होता है। इसीलिए एक्‍पर्ट ग्‍लूटेन फ्री डाइट की सलाह देते हैं। 

 

क्‍या है ग्‍लूटेन फ्री डाइट 

ग्‍लूटेन फ्री डाइट लेने का मतलब यह है कि हमें अपने रोजाना के आहार से ग्लूटेन नामक प्रोटीन के सेवन को बंद करना होगा, जिसका मुख्य स्रोत गेहूं, जौ और राई है। ग्लूटेन फ्री डाइट प्लान वजन कम करने के लिए फायदेमंद होता है। ग्लूटेन के सेवन को कम करना आपके स्वास्थ्य के लिए हानिकारक नहीं होता है। इस आहार योजना के तहत, आपको सब्जियों और फलों का उपभोग करना होगा, जो प्रोटीन का बेहतर विकल्‍प हो सकता है।  

क्‍यों ग्‍लूटेन है गैर जरूरी 

ग्लूटेन से बचना जरूरी है क्योंकि ग्लूटेन आपकी भूख को बढ़ाता है। यह लेप्टीन एक भूख-दबाने वाले मॉलेक्यूल को रोकता है, जो इसके रिसेप्टर से बाध्यकारी होता है। इस स्थिति को वजन बढ़ाने का प्राथमिक कारण माना जाता है। 

वजन घटाने में क्‍यों मददगार है ग्‍लूटेन फ्री डाइट 

जैसा कि हमने इस लेख में आपको पहले भी बताया है कि ग्‍लूटेन किस प्रकार से हमारे शरीर का वजन बढ़ाता है। लेकिन यदि आप अपने आहार से ग्‍लूटेन की मात्रा को बाहर कर दें और फाइबर युक्‍त चीजों का सेवन करें तो यह निश्‍चित रूप से आपके वजन को कम करता है। 

ग्‍लूटेन फ्री डाइट के अन्‍य लाभ 

यह ग्लूटेन की वजह से होने वाले नुकसान से आपकी छोटी आंत को आराम दिला सकता है और लक्षणों को खत्म करने में आपकी सहायता कर सकता है। नुकसान से राहत प्रक्रिया की गंभीरता के आधार पर इसमें कई महीनों तक का समय लग सकता है। आप अपने ग्लूटेन-फ्री डायट को अधिक गंभीरता से लेना चाहिए, तो आपको रिकवरी में जल्दी होती है।

इसे भी पढ़ें: इमोशनल ईटिंग हो सकती है मोटापे का कारण, ऐसे करें बचाव 

किसके लिए जरूरी है ग्‍लूटेन फ्री डाइट 

ग्लूटेन गेहूं, राई और जौ में मौजूद प्रोटीन है। सेलियक रोग वाले व्यक्ति थोड़ी-सी मात्रा में भी ग्लूटेन बर्दाश्त नहीं कर पाते। ऐसे लोगों को ग्लूटेन-फ्री डायट खानी चाहिए क्योंकि ग्लूटेन इन लोगों में एक तरह की इम्यून प्रतिक्रिया कराते हैं जो ऐसी एंटीबॉडिज़ का निर्माण करते हैं जो भोजन के अवशोषण के दौरान आंत में ग्लूटेन से छुटकारा पाने की कोशिश करती हैं।

ऐसे अन्य स्टोरीज के लिए डाउनलोड करें: ओनलीमायहेल्थ ऐप

Read More Articles On Diet & Nutrition In Hindi

Disclaimer