वायरल हेपेटाइटिस क्या है? जानें इसके लक्षण और बचाव के तरीके

Viral Hepatitis : हेपेटाइटिस एक गंभीर बीमारी है। यह एक व्यक्ति से दूसरे व्यक्ति में फैल सकती है। जानें वायरल हेपेटाइटिस के बारे में-

Anju Rawat
Written by: Anju RawatPublished at: Jul 26, 2021Updated at: Jul 26, 2021
वायरल हेपेटाइटिस क्या है? जानें इसके लक्षण और बचाव के तरीके

क्या आप हेपेटाइटिस के बारे में जानते हैं? देश भर में कराेड़ाें लाेग इस बीमारी से पीड़ित हैं। हेपेटाइटिस एक संक्रमण है,  जाे खून के माध्यम से लिवर में प्रवेश करता है। इसके बाद यह वायरस कई तरह की बीमारियाें काे जन्म देता है। इसमें लिवर फेलियर सबसे प्रमुख है। हेपेटाइटिस के वायरस पांच तरह के हाेते हैं। हेपेटाइटिस ए, बी, सी, डी और ई। इससे संक्रमित व्यक्ति का समय पर इलाज बहुत जरूर हाेता है, इलाज में देरी मरीज की मौत का कारण भी बन सकता है। नानावती मैक्स सुपर स्पेशियलिटी अस्पताल के  सलाहकार, गैस्ट्रोएंटरोलॉजी और हेपेटोलॉजी  डॉक्टर पुरुषोत्तम वशिष्ठ,  (Dr. Purushottam Vashistha, Consultant, Gastroenterology and Hepatology, Nanavati Max Super Speciality Hospital) से जानते हैं वायरल हेपेटाइटिस के बारे में-

hepatitis

1. हेपेटाइटिस ए- Hepatitis A Virus (HAV)

2. हेपेटाइटिस बी-Hepatitis B Virus (HBV)

3. हेपेटाइटिस सी- Hepatitis C Virus (HCV)

4. हेपेटाइटिस डी-Hepatitis D Virus (HDV) 

5. हेपेटाइटिस ई- hepatitis E virus (HEV)

डॉक्टर पुरुषोत्तम वशिष्ठ बताते हैं कि हेपेटाइटिस ए और हेपेटाइटिस ई संक्रमित व्यक्ति के मल से, दूषित भोजन और पानी से फैलते हैं। अधपका मांस या मछली का सेवन भी हेपेटाइटिस ई का कारण माना जाता है। यह संक्रमण खाने-पीने से शरीर के अंदर जाता है और लिवर काे प्रभावित करता है। हेपेटाइटिस लिवर का एक खतरनाक राेग है।

इसके अलावा हेपेटाइटिस बी, हेपेटाइटिस सी और हेपेटाइटिस डी संक्रमित रक्त से फैलते हैं। हेपेटाइटिस बी और हेपेटाइटिस डी असुरक्षित यौन संबंध या नशीली दवाओं की सुइयों को शेयर करने के दौरान अन्य शारीरिक तरल पदार्थों से भी फैल सकता है।

इसे भी पढ़ें - World Hepatitis Day 2020: लिवर का खतरनाक रोग है हेपेटाइटिस, जानें इसके लक्षण, कारण और बचाव के बारे में

हेपेटाइटिस ए के लक्षण - Hepatitis A Virus Symptoms (HAV)

  • जाेड़ाें में दर्द
  • पीलिया (आंखाें और त्वचा का रंग पीला हाेना, मूत्र का रंग पीला)
  • नींद की कमी
  • चक्कर आना
  • पेट दर्द
  • भूख में कमी
  • जी मिचलाना
  • थकान और बुखार

हेपेटाइटिस ए का संक्रमण खाने-पीने की चीजाें के माध्यम से फैलता है, इसलिए इसके फैलने की अधिक संभावना रहती है। यह वायरस मुंह के माध्यम से शरीर के अंदर प्रवेश करता है और लिवर काे प्रभावित करता है। इसका समय पर इलाज बहुत जरूरी हाेता है।

hepatitis

हेपेटाइटिस बी के लक्षण - Hepatitis B Virus Symptoms (HBV)

  • अत्यधिक थकान लगना
  • पेट में दर्द
  • उल्टी महसूस हाेना
  • त्वचा और आंखाें का रंग पीला
  • लाल, गहरे रंग का पेशाब 
  • सिरदर्द और बुखार
  • शरीर में खुजली हाेना
  • जी मिचलाना

हेपेटाइटिस बी एक गंभीर बीमारी है। यह धीरे-धीरे लिवर का संक्रमित करता है।  हेपेटाइटिस बी लिवर कैंसर का भी कारण बन सकता है। इतना ही नहीं हेपेटाइटिस बी से पीड़ित व्यक्ति काे लिवर सिराेसिस का जाेखिम भी अधिक रहा है। इस स्थिति में कई बार मरीज का लिवर ट्रांसप्लांट कराने की जरूरत पड़ती है। 

हेपेटाइटिस सी के लक्षण - Hepatitis C Virus Symptoms (HCV)

  • मांसपेशियाें और जाेड़ाें में दर्द
  • बुखार
  • पेट में दर्द हाेना
  • त्वचा पर खुजली
  • त्वचा और आंखाें का रंग पीला हाेना
  • गहरे रंग का पेशाब
  • थकान महसूस हाेना
  • मतली
  • भूख न लगना

हेपेटाइटिस सी भी हेपेटाइटिस बी की तरह ही एक गंभीर बीमारी है। हेपेटाइटिस सी भी लिवर काे प्रभावित करता है और कैंसर का कारण बनता है। हेपेटाइटिस सी के लक्षणाें काे बिल्कुल भी नजरअंदाज न करें।  यह रक्त संक्रमण से फैलता है, इसलिए अगर आपके आस-पास काेई हेपेटाइटिस सी से पीड़ित हाे, ताे उसके रक्त के संपर्क में आने से बचें। 

इसे भी पढ़ें - दुनिया में 32.5 करोड़ से ज्यादा लोग हैं हेपाटाइटिस रोग के शिकार, जानें लिवर की इस बीमारी से बचाव के 5 तरीके

हेपेटाइटिस डी के लक्षण - Hepatitis D Virus Symptoms (HDV)

  • पीलिया
  • थकान
  • शरीर में दर्द
  • उल्टी
  • भूख में कमी

हेपेटाइटिस ई के लक्षण - Hepatitis E Virus Symptoms (HEV)

  • हल्का बुखार
  • कम भूख लगना
  • चक्कर और उल्टी आना
  • पेट में ऊपरी हिस्से में हल्का दर्द
  • कमजाेरी और थकान
  • पीलिया

हेपेटाइटिस ई भी हेपेटाइटिस ए की तरह की खाने-पीने के माध्यम से फैलती है। यह हेपेटाइटिस ए से अधिक गंभीर हाेती है। 

हेपेटाइटिस से बचाव के तरीके (Prevention Tips for Hepatitis)

  • हेपेटाइटिस से बचने के लिए हमेशा साफ पानी और स्वच्छ भाेजन ही करें। हेपेटाइटिस से बचाव बहुत जरूरी है।
  • धूम्रपान और शराब से पूरी तरह से दूरी बनाकर रखें।
  • हल्का और कम मिर्च-मसालेदार भाेजन करना।
  • संक्रमित व्यक्ति के संपर्क में आने से बचें। अगर संक्रमित व्यक्ति रक्त काे छूने पर तुरंत हाथाें काे सेनेटाइज करें।
  • फास्ट फूड, प्राेसेस्ड फूड और ऑयली फूड से दूरी बनाकर रखें।
  • नियमित रूप से याेगा और एक्सरसाइज करें।
  • पाेषक तत्वाें से भरपूर भाेजन खाएं।

हेपेटाइटिस किसी काे भी अपनी चपेट में ले सकता है। ऐसे में आपकाे अधिक सर्तक हाेने की जरूरत हाेती है। हेपेटाइटिस का लक्षण दिखते ही तुरंत डॉक्टर से संपर्क करें और अपना इलाज करवाएं। साथ ही लिवर पर असर करने वाली चीजाें से दूरी बनाकर रखें।

Read More Articles on Other Diseases in Hindi

Disclaimer