Doctor Verified

एंजियोप्लास्टी (हार्ट में स्टेंट) के बाद जल्‍द र‍िकवरी के लिए छोड़ें ये 5 आदतें

Angioplasty in Hindi: एंज‍ियोप्‍लास्‍टी के बाद लाइफस्टाइल में बदलाव करने चा‍ह‍िए। कुछ अनहेल्‍दी आदतों के बारे में जानें ज‍िन्‍हें बदल लेना चाह‍िए।  

Yashaswi Mathur
Written by: Yashaswi MathurUpdated at: Dec 13, 2022 12:17 IST
एंजियोप्लास्टी (हार्ट में स्टेंट) के बाद जल्‍द र‍िकवरी के लिए छोड़ें ये 5 आदतें

Precautions After Angioplasty: द‍िल से जुड़ी बीमारी या हार्ट अटैक से पीड़‍ित व्‍यक्‍त‍ि के हार्ट में स्‍टेंट डाला जाता है ज‍िसे एंज‍ियोप्‍लास्‍टी कहते हैं। इस सर्जरी में संकरी धमन‍ियों को खोलने के ल‍िए स्‍टेंट इंसर्ट क‍िया जाता है। स्‍टेंट की मदद से धमन‍ियों का ब्‍लॉकेज खुल जाता है। स्‍टेंट डलने के बाद र‍िकवरी की प्रक्र‍िया महत्‍वपूर्ण होती है। स्‍टेंट डलने के बाद लापरवाही बरतने से संक्रमण या ब्‍लीड‍िंग जैसी समस्‍याएं हो सकती हैं। लापरवाही के चलते क‍िडनी फेल‍ि‍यर की आशंका भी बढ़ जाती है इसल‍िए हार्ट में स्‍टेंट डलने के बाद व‍िशेष सावधानी बरतने की जरूरत होती है। एंज‍ियोप्‍लास्‍टी के बाद हार्ट को हेल्‍दी रखने के ल‍िए कुछ अनहेल्‍दी आदतों को रूटीन से हटा देना चाह‍िए। इन आदतों के बारे में आगे बात करेंगे। इस व‍िषय पर बेहतर जानकारी के ल‍िए हमने लखनऊ के केयर इंस्‍टिट्यूट ऑफ लाइफ साइंसेज की एमडी फ‍िजिश‍ियन डॉ सीमा यादव से बात की। 

unhealthy food habits for heart patients

1. ज्‍यादा तेल-मसाले खाने की आदत 

हार्ट में स्‍टेंट डल जाने के बाद जान का जोख‍िम रोका नहीं जा सकता लेक‍िन जरूरी सावधान‍ियों की मदद से आप स्‍टेंट को सुरक्ष‍ित रख सकते हैं। कई लोग इस बात पर गौर नहीं करते क‍ि स्‍टेंट डल जाने के बाद शरीर को इम्‍यून‍िटी और पूर्ण सेहत का खास ख्‍याल रखने की जरूरत होती है। ऐसे मरीजों को ज्‍यादा तेल या म‍िर्च-मसाले भोजन को खाने से बचना चाह‍िए। संतुलि‍त आहार लें और हर द‍िन घर का बना ताजा खाना ही खाएं।   

इसे भी पढ़ें- एंजियोप्लास्टी के बाद शरीर में क्‍या बदलाव आते हैं? जानें स्‍टेंट के साथ कैसे जिएं हेल्‍दी लाइफ    

2. शरीर को एक्‍ट‍िव न रखना 

ऐसा नहीं है क‍ि हार्ट में स्‍टेंट डलने के बाद आपको पूरी तरह से बेड रेस्‍ट की जरूरत होती है। बल्‍क‍ि आपको शरीर को एक्‍ट‍िव रखना चाह‍िए। एक ही पोज‍िशन में ज्‍यादा देर रहना भी शरीर के ल‍िए ठीक नहीं है। हार्ट में स्‍टेंट डलने के बाद रोजाना वॉक‍ कर सकते हैं। इससे शरीर एक्‍ट‍िव भी रहेगा और हार्ट पर जोर भी नहीं पड़ेगा। ध्‍यान रखें क‍ि ज्‍यादा भारी वजन उठाना, सीढ़‍ियों का ज्‍यादा इस्‍तेमाल करने से बचना चाह‍िए।        

3. दवाओं का सेवन न करना 

एंज‍ियोप्‍लास्‍टी के बाद दवाओं का सेवन करना अहम होता है। अगर डॉक्‍टर की दी हुई दवाओं ब्‍में लापरवाही बरतेंगे, तो हार्ट के छल्‍ले बंद हो जाएंगे। दवाओं का सेवन न करने के कारण ब्‍लीड‍िंग की समस्‍या भी हो सकती है। 

4. लक्षणों को छुपाने की आदत 

स्‍टेंट के बाद व्‍यक्‍त‍ि को अपने सेहत के प्रत‍ि जरा सी भी लापरवाही भारी पड़ सकती है। एंज‍ियोप्‍लास्‍टी के बाद घाव का ख्‍याल रखने की जरूरत होती है। घाव के प्रत‍ि लापरवाही बरतने से ब्‍लीड‍िंग हो सकती है। अगर सर्जरी के बाद छाती में दर्द, बदहजमी, सांस लेने में तकलीफ या अन्‍य समस्‍या हो, तो डॉक्‍टर से तुरंत संपर्क करें। कई लोग डरते हैं और डॉक्‍टर के सामने अपनी श‍िकायत रखने से कतराते हैं लेक‍िन इसका बुरा खाम‍ियाजा मरीज को भुगतना पड़ सकता है इसल‍िए असामान्‍य लक्षणों के प्रत‍ि सर्तक रहें।   

5. आराम न करना

हार्ट में स्‍टेंट डलने के बाद शरीर को एक्‍ट‍िव रखना जरूरी है उसी तरह आराम करना भी आपकी द‍िनचर्या का ह‍िस्‍सा होना चाह‍िए। सर्जरी के तुरंत बाद आप अपना रोजगार शुरू कर सकते हैं। लेक‍िन ध्‍यान रखें क‍ि लगातार काम करने के बजाय बीच में आराम का समय भी न‍िकालें। इसके साथ ही काम के बीच हेल्‍दी स्‍नैक्‍स का ही सेवन करें। काम के बीच ज्‍यादा चाय या कॉफी का सेवन करने से बचें।      

Precautions After Angioplasty: सर्जरी के बाद शरीर पहले से नाजुक हो जाता है लेक‍िन ऊपर बताई आदतों को छोड़ देने से हार्ट को लंबे समय तक हेल्‍दी रख सकते हैं। 

Disclaimer