क्या आपका बच्चा नहीं खाता पर्याप्त खाना? ऐसे सुधारें उसकी ये आदत

अगर आपका बच्चा घर का बना हेल्दी खाना नहीं खाता है या बहुत कम खाना खाता है, तो इन टिप्स से आप उसकी डाइट सुधार सकते हैं।

Anurag Anubhav
Written by: Anurag AnubhavPublished at: Jun 07, 2022Updated at: Jun 07, 2022
क्या आपका बच्चा नहीं खाता पर्याप्त खाना? ऐसे सुधारें उसकी ये आदत

अगर बच्चे घर का खाना नहीं खाते तो क्या करें? बच्चे अक्सर घर का खाना खाने में आनाकानी करते हैं। ज्यादातर बच्चे सुबह उठते ही पैकेटबंद जंक फूड्स जैसे- चिप्स, केक, ब्रेड, पेस्ट्री, चॉकलेट्स, टॉफीज आदि खाना शुरू कर देते हैं। घर का खाना खाने के बजाय बच्चे इंस्टैंट नूडल्स, पिज्जा, बर्गर, मोमोज, रोल्स जैसे फ्राइड और जंक फूड्स को खूब पसंद करते हैं। खाने-पीने से जुड़ी ये आदतें गलत मानी जाती हैं क्योंकि ये बच्चों की सेहत के साथ-साथ उनके शारीरिक-मानसिक विकास पर भी असर डालती हैं। आजकल बहुत कम उम्र में बच्चों में मोटापा, डायबिटीज, हाई ब्लड प्रेशर, आंखों की कमजोरी, लिवर में सूजन जैसी समस्याएं देखी जाने लगी हैं। इन सभी समस्याओं का एक बड़ा कारण आजकल का खानपान है। अगर आपके बच्चे को भी ऐसी बुरी आदतें हैं, तो हम आपको बता रहे हैं कुछ टिप्स, जो ये आदतें सुधारने में मदद कर सकती हैं।

बच्चे के खाने का टाइम फिक्स करें

अगर आप बच्चों के खाने का एक समय फिक्स कर देंगे तो उनको हर दिन उसी टाइम पर भूख लगेगी और खाना खाना उनकी आदत में शामिल हो जाएगा। लेकिन अगर उनके खाने का टाइम फिक्स नहीं है, तो वो दिनभर कुछ न कुछ खाते रहेंगे और फिर उन्हें खाने के टाइम भूख नहीं लगेगी। इसलिए बच्चों को हर दिन एक निश्चित समय के आसपास ही खाना खाने को दें।

इसे भी पढ़ें- घर का खाना नहीं खाता है आपका बच्चा? तो इन 5 तरीकों से खिलाएं जिद्दी बच्चों को हेल्दी फूड्स

कलरफुल बनाएं बच्चे के खाने की प्लेट

छोटे बच्चों को रंगों और आकृतियों का आकर्षण बहुत ज्यादा होता है। अगर आपका बच्चा खाना खाने को लेकर उत्साह नहीं दिखाता है, तो खाना सर्व करने के तरीके में थोड़ा बदलाव करें। बच्चों के खाने की प्लेट को अलग-अलग सब्जियों, फलों और अनाजों से थोड़ा कलरफुल बनाएं। इसके अलावा आप खाने को कुछ खास शेप देकर भी उनमें खाने के प्रति दिलचस्पी जगा सकते हैं।

how to make kids eat healthy

पूरा परिवार साथ में खाए खाना

अगर आपकी फैमिली में सब लोग अलग-अलग खाना खाते हैं, तो बच्चों को रोज खाना खिलाना मुश्किल हो सकता है। लेकिन अगर आप पूरी फैमिली साथ में बैठकर खाना खाते हैं तो इससे बच्चा बिना नखरे के ज्यादा खाना खाएगा और प्रतिदिन खाना खाएगा। दिन में अगर बच्चा स्कूल जाता है, तो कम से कम रात का खाना पूरे परिवार को साथ बैठकर खाना चाहिए।

इसे भी पढ़ें- भोजन के दौरान क्या आपका बच्चा भी खाता है सिर्फ एक-आधी रोटी? जानें एक मील में बच्चों को कितना खाना खिलाना चाहिए

रोज के खाने को बनाएं पौष्टिक

वैसे तो घर का खाना अक्सर हेल्दी ही होता है, लेकिन अगर आप चाहें तो रोज के खाने को और भी हेल्दी बना सकते हैं। जैसे आप दाल-सब्जियों में एक चम्मच देसी घी डाल दें। इसी तरह सब्जियां बनाते समय इसमें कड़ी पत्ता, दालचीनी पाउडर, काली मिर्च पाउडर, पुदीने की पत्तियां, सौंफ आदि मिला सकते हैं, जिससे खाना ज्यादा पौष्टिक हो जाएगा। आप रोटी के लिए आटा गूंथने या चावल पकाने के लिए दूध का इस्तेमाल कर सकते हैं, जिससे ये पौष्टिक हो जाएंगे। आप फलों और सब्जियों के रसों को भी कई तरह की डिशेज में इस्तेमाल कर सकते हैं।

नई-नई डिशेज करें ट्राई

बच्चे अक्सर एक जैसा खाना खाकर बोर हो जाते हैं, इसलिए उन्हें नई-नई डिशेज बनाकर खिलाएं। आजकल यूट्यूब पर बहुत सारे हेल्दी और टेस्टी फूड्स बनाने की रेसिपी आसानी से मिल जाएगी। आप बच्चों के लिए कुछ न कुछ नया बनाते रहेंगे, तो घर का खाना खाने में उनका मन लगेगा।

इन टिप्स को फॉलो करके आप बच्चों को रोज हेल्दी और पौष्टिक खाना आसानी से खिला सकते हैं। अगर आपका बच्चा घर का या बाहर का कोई भी खाना नहीं खाता और इसकी वजह से उसे कमजोरी या अन्य कोई समस्या हो रही है तो हो सकता है वो किसी ईटिंग डिसऑर्डर का शिकार हो। ऐसी स्थिति में आपको डॉक्टर से संपर्क करना चाहिए।

Disclaimer