Expert

भोजन के दौरान क्या आपका बच्चा भी खाता है सिर्फ एक-आधी रोटी? जानें एक मील में बच्चों को कितना खाना खिलाना चाहिए

How Many Roti Children Should Eat In Hindi: बहुत से बच्चे भोजन के दौरान सिर्फ एक-आधी रोटी खाते हैं, इस बात को लेकर पेरेंट्स काफी परेशान रहते हैं।

 
Vineet Kumar
Written by: Vineet KumarPublished at: Jun 05, 2022Updated at: Jun 05, 2022
भोजन के दौरान क्या आपका बच्चा भी खाता है सिर्फ एक-आधी रोटी? जानें एक मील में बच्चों को कितना खाना खिलाना चाहिए

अक्सर पेरेंट्स इस बात को लेकर काफी परेशान रहते हैं कि उनका बच्चा ठीक से खाना नहीं खाता है। वह बस भोजन के दौरान एक-आधी रोटी खाता है। पेरेंट्स इस बात को लेकर काफी चिंतित रहते हैं कि अगर बच्चा ठीक से रोटी नहीं खाएगा तो उसको जरूरी पोषण कैसे मिलेगा? हम में से ज्यादातर पेरेंट्स सोचते हैं कि बच्चे को रोटी खिलानी ही सबकुछ है। एक आम धारणा है कि बच्चा जितना ज्यादा रोटी खाएगा उतना उसकी सेहत के लिए अच्छा होगा। साथ ही कुछ बच्चों की आदत होती है कि वे रोटी तो ठीक से खा लेते हैं लेकिन सब्जी बहुत कम खाते हैं।

कुछ पेरेंट्स बच्चे को जबरदस्ती रोटी और सब्जी खिलाने की कोशिश करते हैं, यहां तक कि वे इसके लिए उन्हें डांट तक लगा देते हैंं। लेकिन क्या ऐसा करना सही है? हर उम्र में हमारे शरीर के लिए पोषक तत्वों की जरूरत निश्चित होती है। इसलिए बच्चों को उनकी उम्र के हिसाब से खाना खिलाना चाहिए। इस लेख में हम बाल रोग विशेषज्ञ (MD Pediatrics) से जानेंगे एक मील में बच्चे को कितनी रोटी खानी चाहिए (How Many Roti Children Should Eat In Hindi)।

How Many Roti Should Children Eat

एक मील में बच्चों को कितना खाना खिलाना चाहिए (How Many Roti Children Should Eat In Hindi)

डॉ. सांची बताती हैं कि पेरेंट्स अक्सर ये सवाल पूछते हैं कि "मेरे बच्चे को रोटी खाना पसंद नहीं है, मुझे क्या करना चाहिए? या "मेरे बच्चे या प्रीस्कूलर को कितनी रोटियां खानी चाहिए?" या मेरा बच्चा केवल रोटी लेता है, लेकिन कोई दाल या सब्जी नहीं है। क्या यह ठीक है?" बहुत से लोग मानते हैं कि आपकी भूख कितनी अच्छी है या आप कितने "मजबूत" हैं, यह इस बात पर निर्भर करता है कि आप कितनी रोटियां खाते हैं। लेकिन क्या सिर्फ रोटी खाना काफी है? आइए इसे बेहतर तरीके से समझते हैं।

डॉ. सांची के अनुसार रोटी कार्बोहाइड्रेट का अच्छा स्रोत है, इस बात से इनकार नहीं किया जा सकता है। साथ ही हमारे शरीर की ऊर्जा के लिए दैनिक आवश्यकता में 50 60% तक कार्बोहाइड्रेट शामिल हैं। लेकिन कई अन्य चीजें भी हैं जो न सिर्फ बच्चों के लिए बल्कि हम सभी के दैनिक आहार में होना जरूरी हैं। मैक्रोन्यूट्रिएंट्स जैसे प्रोटीन और फैट, साथ ही अन्य माइक्रोन्यूट्रिएंट्स का भी आहार में शामिल होना जरूरी है। 

क्या रोटी पर्याप्त प्रोटीन प्रदान करती है?

बहुत से लोग पर्याप्त मात्रा में प्रोटीन के महत्व को कम आंकते हैं। अगर आपको लगता है कि दाल की एक कटोरी आपके बच्चे के दिन की प्रोटीन की जरूरत को पूरा करने वाली है, तो आप गलत हैं। प्रोटीन की दैनिक आवश्यकता शरीर के कुल वजन के प्रति किलोग्राम के अनुसार 0.8 मिलीग्राम से 1.2 मिलीग्राम के बीच होती है। इसका सीधा सा मतलब है कि अगर आपका वजन 50 किलो है, तो आपको रोजाना 50 ग्राम प्रोटीन लेने की जरूरत है।

इसे भी पढें: बेबी के लिए शूज खरीदते समय इन बातों का रखें ध्यान

क्या रोटी से सभी विटामिन और मिनरल मिलते हैं

जी नहीं, ज्यादा रोटी खाने से आपके बच्चे को सभी जरूरी पोषक तत्व नहीं मिल सकते हैं। आपको रोटी के अलावा बच्चे के आहार में रंग-बिरंगी सब्जियां और विभिन्न प्रकार के फलों को शामिल करने की भी जरूरत है। जो फाइबर, विभिन्न विटामिन और आवश्यक मिनरल प्रदान करते हैं, साथ ही कुछ तो प्रोटीन और कार्बोहाइड्रेट भी प्रदान करते हैं।

 
 
 
View this post on Instagram

A post shared by Dr. Sanchi Rastogi (@the_kidsdoctor)

क्या रोटी हेल्दी फैट प्रदान करती है?

बहुत से लोग सोचते हैं कि फैट खाने से वजन बढ़ता है, लेकिन यह एक गलत धारणा है। शरीर में कई महत्वपूर्ण जैव रासायनिक प्रतिक्रियाओं जैसे अधिवृक्क हार्मोन, सेक्स हार्मोन, मस्तिष्क के माइलिन म्यान, न्यूरोट्रांसमीटर आदि के लिए आपके शरीर को वसा की अच्छी मात्रा (20-25%) की आवश्यकता होती है। फैट दो प्रकार के होते हैं सैचुरेटेड फैट और अनसैचुरेटेड फैट।  जबकि सैचुरेटेड फैट्स स्वास्थ्य के लिए अच्छे नहीं हैं, लेकिन फैट्स सेहत के लिए फायदेमंद होते हैं। इसलिए आपको अपने बच्चे के आहार में नट्स और ड्राई फ्रूट्स, बीज, एवोकैडो, अंडे, कुछ तेल आदि खिलाने पर ध्यान देना चाहिए।

इसे भी पढें: बच्चा पहली बार जा रहा है कॉलेज? जानें उसे कैसे करें मानस‍िक तौर पर तैयार

एक्सपर्ट क्या सलाह देते हैं

डॉ. सांची के अनुसार कोई एक आदर्श भोजन नहीं है। हमें अपने बच्चे को सेहतमंद रखने, उनकी बेहतर वृद्धि और विकास के रोटी के साथ ही कई अन्य खाद्य पदार्थ खिलाने पर भी ध्यान देना चाहिए। अगर आपका बच्चा रोटी कम खाता है तो इसमें चिंता की कोई बात नहीं है, लेकिन कोशिश करें कि वे नट्स, ड्राई फ्रूट्स, बीज, फल-सब्जियां, मीट, दाल आदि जरूर खिलाएं। अच्छी तरह से संतुलित आहार खाना महत्वपूर्ण है जिसमें 50-60% कार्बोहाइड्रेट, 20-25% प्रोटीन, 20% -25 वसा, फाइबर, ट्रेस मिनरल और विटामिन शामिल हों।

All Image Source: Freepik.com

Disclaimer