Gluten Free Breakfast: ग्लूटेन फ्री ब्रेकफास्ट के लिए अपनाएं ये खास तरीके, जानें क्यों है ये जरूरी

अगर आप भी अपने लिए ग्लूटेन फ्री ब्रेकफास्ट को अपनाना चाहते हैं तो इन तरीकों से तैयार करें अपनी डाइट।

Vishal Singh
Written by: Vishal SinghUpdated at: Sep 14, 2020 16:17 IST
Gluten Free Breakfast: ग्लूटेन फ्री ब्रेकफास्ट के लिए अपनाएं ये खास तरीके, जानें क्यों है ये जरूरी

इन दिनों ग्लूटेन फ्री डाइट विकल्पों की कमी नहीं है, बल्कि ऐसे कई विकल्प हमारे पास है जो पूरी तरह से ग्लूटेन फ्री है। जैसे ब्रोकोली और केल पिज्जा क्रस्ट, फूलगोभी, ब्राउन चावल पास्ता आदि। लेकिन फिर भी, जब आप ग्लूटेन फ्री डाइट ले रहे हैं तो आपको बाकि कई चीजों का सेवन बंद करना होगा। आपको बता दें कि ग्लूटेन फ्री वो डाइट होती है जिसमें गेहूं में जो प्रोटीन पाया जाता है उसे ग्लूटेन कहा जाता है। जैसे आटा, सूजी, ब्रेड और बेकरी प्रोडक्ट्स इन सब चीजों का सेवन बंद करना होता है जब हम ग्लूटेन फ्री डाइट लेते हैं। 

डॉक्टर प्रीति नंदा जो एक मेडिस्कूल हेल्थ सर्विस की डाइटिशियन हैं वो बताती हैं कि पर्यावरण की स्थिति और बढ़ती एलर्जी के कारण ग्लूटेन सेंस्टिविटी बढ़ रही है। इसके कारण हम ग्लूटेन को अवशोषित नहीं कर पा रहे। डॉक्टर प्रीति बताती हैं कि इस दौरान आपको डाइट में चावल, बाजरा, ज्वार और कुट्टू का आटा जैसी चीजों को शामिल करना चाहिए जो आपको फायदा पहुंचाती है। 

gluten free

बनाना ओट पैनकेक (Banana Oat Pancakes)

पेनकेक्स के साथ नाश्ता करना एक पसंदीदा विकल्प हो सकता है वो भी हर किसी के लिए। अगर आप ग्लूटेन-फ्री डाइट पर है, तो आप पैनकेक को अपनी ब्रेकफास्ट वाली डाइट में शामिल कर सकते हैं। यह ग्लूटेन फ्री डाइट आपको किसी भी एलर्जी से बचाने का काम करेगी और आपके स्वास्थ्य के लिए भी अच्छी होगी। 

ओट्स विद नट्स एंड फ्रूट्स (Oats With Nuts And Fruit)

ओट्स पूरी तरीके से ग्लूटेन फ्री होते हैं, लेकिन इसको लेने से पहले आपको ये ध्यान रखना जरूरी होगा कि वो ग्लूटेन फ्री ओट्स हो। इसको आप नट्स और फलों के साथ ले सकते हैं। आप ओट्स को बादाम दूध के साथ जामुन को शामिल कर सकते हैं। आपको बता दें कि अखरोट एंटीऑक्सिडेंट, ओमेगा -3 और हृदय-स्वस्थ वसा में समृद्ध है और वहीं, ताजा जामुन एंटीऑक्सिडेंट से भरपूर होता है। अगर आप ओट् को थोड़ा मीठा करना पसंद करते हैं तो आप इसमें शहद भी डाल सकते हैं। 

इसे भी पढ़ें: ये 5 खाद्य पदार्थ बढ़ती उम्र के साथ कम नहीं होने देंगे आंखों की रोशनी , बीमारियों से भी रखेंगे दूर

ग्रीन स्मूदी (Green Smoothie)

अपने नाश्ते को स्मूदी का रूप देने के लिए आपके पास ये विकल्प सबसे बेहतरीन है। लेकिन सभी स्मूदी एक तरह से नहीं बनाई जाती हैं। अगर आप अपने लिए फल की स्मूदी बनाते हैं तो ये आपके शर्करा का स्तर बढ़ सकता है और आपके ग्लूकोज के स्तर को बढ़ा सकती है। इसीलिए अदरक और हेल्दी फैट्स के साथ शुगर-फ्री ग्रीन स्मूदी जो पूरी तरह से ग्लूटेन-फ्री है इसका सेवन फायदेमंद है। अपने ब्लेंडर में पालक, पुदीना, एवोकैडो, ताजा कीमा बनाया हुआ अदरक, नारियल का दूध या सामान्य दूध नींबू का रस और लिक्विड वेनिला की कुछ बूंदें डाल ले और अच्छी तरह से मिक्स कर लें। ये आपके लिए ग्रीन स्मूदी के रूप में फायदेमंद साबित होगी। 

इसे भी पढ़ें: ब्‍लड शुगर कंट्रोल करने से लेकर इम्‍युनिटी बूस्‍टर है स्‍ट्रॉबेरी टी, जानें इसकी आसान रेसेपी

दालचीनी टोस्ट मफिन (Cinnamon Toast Muffins)

दालचीनी रोल स्वादिष्ट होते हैं, लेकिन वे आमतौर पर मक्खन से भरे होते हैं और किसी के भी स्वास्थ्य को खराब कर सकते हैं। ये मफिन उसी गर्म स्वाद की पेशकश करते हैं - बिना चीनी के। वे शाकाहारी, ग्लूटेन फ्री हैं। इसके साथ ही यह मफिन के लिए प्रोटीन-पैक सिलकन टोफू का इस्तेमाल करते हैं जो भारी महसूस किए बिना आपका पेट भरते हैं।

Read More Article On Healthy Diet In Hindi 

Disclaimer