आर्टिफिशियल स्वीटनर से बढ़ता है टाइप-2 डायबिटिज का खतरा, जानें इन 3 नेचुरल स्वीटनर से नहीं होता कोई नुकसान

अगर आप भी टाइप-2 डायबिटिज के शिकार हैं तो आर्टिफिशियल स्वीटनर का त्याग कर आप नेचुरल स्वीटनर का इस्तेमाल कर सकते हैं। 

Vishal Singh
डायबिटीज़Written by: Vishal SinghPublished at: Dec 20, 2019Updated at: Dec 20, 2019
आर्टिफिशियल स्वीटनर से बढ़ता है टाइप-2 डायबिटिज का खतरा, जानें इन 3 नेचुरल स्वीटनर से नहीं होता कोई नुकसान

मीठा खाने की आदत को अगर आप चाहे कि अचानक से छोड़ दें या फिर उसका सेवन कम कर दें तो ये काफी मुश्किल होता है। कई लोगों में मीठा खाने की आदत काफी ज्यादा होती है। लेकिन जिन लोगों को डायबिटिज की शिकायत है उनके लिए ये खतरनाक भी साबित हो सकता है। 

आर्टिफिशियल स्वीटनर का सेवन हमारे शरीर में सिर्फ नुकसान ही पहुंचाता है। ऐसे स्वीटनर आपके वजन को बढ़ाने का काम करते हैं और टाइप-2 डायबिटिज के खतरे को भी बढ़ाता है। इन सब चीजों से बचने के लिए आप आर्टिफिशियल स्वीटनर का प्रयोग छोड़ कर नेचुरल पदार्थों का सेवन कर सकते हैं जो मीठे की पूर्ति करते हैं। नेचुरल स्वीटनर से आपको न तो किसी तरह का कोई नुकसान होगा बल्कि ये आपकी सेहत के लिए भी फायदेमंद हो सकते है। 

SUGAR

टाइप-2 डायबिटिज एक ऐसी बीमारी है जो ज्यादातर लोगों में पाई जाती है और ये सिर्फ भारत में ही नहीं पूरे विश्व में लाखों लोग इसका शिकार होते हैं। जो लोग डायबिटिज के शिकार होते हैं वो लोग कम कैलोरी वाली आर्टिफिशियल स्वीटनर का सेवन शुरू करने लगते हैं। जबकि हाल ही में एक अध्ययन में पाया गया है कि कम कैलोरी वाले आर्टिफिशियल स्वीटनर आपकी सेहत के लिए हानिकारक है। आर्टिफिशियल स्वीटनर से भी आपका वजन बढ़ता है और जो लोग डायबिटिज के शिकार नहीं है उन लोगों में भी टाइप-2 डायबिटिज का खतरा भी बढ़ता है। 

अगर आप टाइप-2 डायबिटिज के शिकार है और आप कोशिश कर रहे हैं कि कम मात्रा में आर्टिफिशियल स्वीटनर का सेवन करें तो इससे बेहतर है कि आप उन स्वीटनर्स को छोड़ कर उन चीजों का सेवन करें जो नेचुरल मीठे होते हैं। आप मिठा करने वाली नेचुरल चीजों का सेवन अपनी डाइट में शामिल कर सकते हैं। हम आपको कुछ ऐसे ही नेचुरल स्वीट पेय के बारे में जानकारी देंगे जिसका सेवन कर आपकी सेहत पर किसी तरह का कोई खतरा नहीं होगा। 

हर्बल टी(Herbal tea)

आप आर्टिफिशियर स्वीटनर को त्याग कर हर्बल टी को अपनी रोजाना के खानपान में शामिल कर सकते हैं। हर्बल टी प्राकृतिक तरीके से मीठी होती है, खास सर्दियों में ज्यादा होती है। हर्बल टी जैसे कि हिबिस्कस टी(hibiscus tea), बैरी टी(berry tea) आदि इन सभी में प्राकृतिक मिठास होती है। इन टी में विटामिन और मिनरल काफी मात्रा में होते हैं जो कि आपके शरीर में फैले कीटाणुओं से लड़ते हैं और आपके इम्यून सिस्टम को मजबूत करने का काम करते हैं। अगर आप चाहते हैं कि थोड़ा और मीठा हो तो आप इसके लिए शहद का भी प्रयोग कर सकते हैं। 

SUGAR

इसे भी पढ़ें: टाइप-2 डायबिटिज के खतरे को कम करती है फिल्टर कॉफी? जानें कैसे उबली हुई कॉफी से अलग है फिल्टर कॉफी

बादाम चॉकलेट दूध(Almond chocolate milk)

बादाम दूध एक तरह से प्राकृतिक मीठा होता है, और इसे आप ऐसे ही पी सकते हैं। अगर आप दूध को थोड़ा मीठा करना चाहते हैं तो आप इसमें डार्क चॉकलेट या फिर मिल्क चॉकलेट का एक टुकड़ा भी डाल सकते हैं। बादाम चॉकलेट दूध का सेवन आप सर्दियों में करेंगे तो ये आपके लिए फायदेमंद होगा। 

इसे भी पढ़ें: डायबिटिज को कंट्रोल करने में फायदेमंद हैं शरीर के ये एक्यूप्रेशर पॉइंट्स, जानें किस अंग से मिलता है फायदा

फ्रूट जूस(Fruit juices)

अगर आप सोचते हैं कि आपको फ्रूट खाने चाहिए तो आप इसकी जगह फ्रूट जूस का सेवन कर सकते हैं। फलों में काफी मात्रा में फाइबर मौजूद होता है। फलों में आप संतरा, कीवी जैसी चीजों का सेवन कर सकते हैं, जिसमें की ज्यादा मात्रा में विटामिन सी मौजूद होता है और ये आपके शरीर में इम्यून सिस्टम को भी मजबूत करने का काम करते हैं। इसके अलावा ये आपके शरीर में ब्लड शुगर लेवल पर भी कोई असर नहीं करते है। 

Read More Article On Diabetes In Hindi

Disclaimer