Summer tips: पसीने के कारण अंडरआर्म्स में स्किन इंफेक्शन का है खतरा, इन बातों का ध्यान रखें और बरतें सावधानी

ज्यादा पसीना निकलने के कारण इस मौसम में अंडरआर्म्स में स्किन इंफेक्शन हो सकता है। जानें कैसे पाएं इस इंफेक्शन से छुटकारा और कैसे रोकें इस समस्या को।

Anurag Anubhav
Written by: Anurag AnubhavPublished at: Apr 21, 2020
Summer tips: पसीने के कारण अंडरआर्म्स में स्किन इंफेक्शन का है खतरा, इन बातों का ध्यान रखें और बरतें सावधानी

गर्मियां शुरू हो गई हैं। इस मौसम में सबसे ज्यादा पसीना अंडरआर्म्स (कांख) में आता है। पसीने के कारण त्वचा में नमी आ जाती है, जिससे बैक्टीरिया को पनपने और बढ़ने का सही माहौल मिल जाता है। यही कारण है कि अंडरआर्म्स में पसीने के कारण आपको त्वचा की समस्याएं हो सकती हैं। आमतौर पर पसीने से होने वाले स्किन इंफेक्शन में छोटे-छोटे दाने या चकत्ते दिखते हैं और चुनचुनाहट होती है। इसके कारण टीशर्ट पहनने और काम करने में परेशानी होती है क्योंकि जैसे ही आपकी त्वचा का आपस में या कपड़े के साथ घर्षण होता है, चुनचुनाहट या जलन शुरू हो जाती है। आइए आज हम आपको बताते हैं कि अंडर आर्म्स के स्किन इंफेक्शन से बचाव के लिए क्या करना चाहिए और इसे कैसे ठीक किया जा सकता है।

खुजलाने पर और बढ़ सकता है इंफेक्शन

स्किन इंफेक्शन में होने वाली चुनचुनाहट या खुजली को दूर करने के लिए अगर आप इसे खुजलाते हैं, तो ये और ज्यादा फैल सकता है। इसलिए ये गलती कभी न करें। दरअसल ज्यादातर बैक्टीरियल इंफेक्शन को छूने पर ये शरीर के दूसरे हिस्सों में भी फैल सकते हैं। इसलिए बेहतर होगा कि इसकी चुनचुनाहट या खुजली दूर करने के लिए आप दूसरे तरीकों का इस्तेमाल करें।

इसे भी पढ़ें:- सामान्य गर्मी में भी आता है बहुत ज्यादा पसीना, तो हो सकते हैं ये 5 कारण

अंडरआर्म्स में गंदगी हो सकती है वजह

पसीना सभी को आता है। मगर स्किन इंफेक्शन का खतरा उन लोगों को ज्यादा होता है, जो अपने अंडरआर्म्स की ठीक से सफाई नहीं करते हैं। अंडरआर्म्स में गंदगी के कारण ही पसीना निकलने पर बैक्टीरिया के पैदा होने की ज्यादा संभावना होती है। इसलिए अंडरआर्म्स के बालों की रेगुलर सफाई करते रहना चाहिए और इन्हें बढ़ने नहीं देना चाहिए। इसके अलावा रोजाना नहाते समय साबुन से अच्छी तरह अंडरआर्म्स को भी साफ करना चाहिए।

अंडरआर्म्स स्किन इंफेक्शन से बचने के लिए इन बातों का रखें ध्यान

  • अंडरआर्म्स की त्वचा को सूखा और साफ रखें।
  • नहाने के बाद अंडरआर्म्स को सूखे तौलिए से अच्छी तरह साफ करें।
  • धूप में चलते जाते समय कोशिश करें कि सूती कपड़े पहनें ताकि आपका पसीना सूख सके।
  • बहुत अधिक गर्मी वाली जगह पर ज्यादा देर तक न रहें क्योंकि इससे बैक्टीरिया होने का खतरा बढ़ता है।
  • अगर आपको त्वचा का इंफेक्शन हो जाता है, तो एंटी-बैक्टीरियल साबुन का इस्तेमाल करें।

कैसे करें अंडरआर्म्स स्किन इंफेक्श का इलाज?

अंडरआर्म्स स्किन इंफेक्शन को ठीक करने के लिए आप कुछ दवाओं, क्रीम्स या घरेलू उपायों की मदद ले सकते हैं।

  • आमतौर पर ऐसे इंफेक्शन को ठीक करने के लिए डॉक्टर एंटीबायोटिक दवाओं का निर्देश देते हैं। मगर बिना डॉक्टर की सलाह के अपने से कोई दवा न लें।
  • इसके अलावा त्वचा के इंफेक्शन को रोकने के लिए जलन-खुजली कम करने के लिए एंटी-बैक्टीरियल क्रीम भी लगाई जा सकती है। क्रीम का चुनाव भी बिना डॉक्टर की सलाह के न करें।
  • अगर रैशेज सामान्य हैं, तो आप इसमें एक नींबू काटकर इसका रस लगा सकते हैं। नींबू के रस में एंटी-बैक्टीरियल गुण होते हैं इसलिए त्वचा के बैक्टीरिया समाप्त हो जाते हैं।
  • अपने खानपान में नैचुरल खट्टी सब्जियों और फलों की मात्रा बढ़ा दें ताकि आपको विटामिन सी मिले।
  • इसके अलावा खूब पानी पिएं, ताकि त्वचा हाइड्रेट रहे लेकिन गर्म जगह पर जाने से बचें।

Read More Articles on Skin care in Hindi




Disclaimer