चाय के साथ खाते हैं बिस्किट? ये बन सकता है कई बीमारियों की वजह

भारत में बहुत सारे लोग चाय के शौकीन हैं। खासकर सुबह और शाम की चाय शायद की कोई मिस करता हो और अगर, चाय के साथ बिस्किट मिल जाए तो ये मजा बढ़ जाता है।

Ashu Kumar Das
Written by: Ashu Kumar DasPublished at: Jul 21, 2022Updated at: Jul 21, 2022
चाय के साथ खाते हैं बिस्किट? ये बन सकता है कई बीमारियों की वजह

भारत में सुबह आंख खुलते ही ज्यादातर लोगों की शुरुआत चाय के साथ होती है। सुबह हो या फिर शाम, चाय के साथ बिस्किट भी मिल जाएं तो मजा दोगुना हो जाता है। सिर्फ बड़े ही नहीं, बच्चे भी चाय और बिस्किट बहुत ही चाव से खाते हैं। कई बार हल्की-फुल्की भूख को कंट्रोल करने के लिए भी लोग चाय और बिस्किट को ही अच्छा ऑप्शन मानते हैं। आज बाजार में मीठे, नमकीन, जीरा-अजवाइन और क्रीम फलेवर्स वाले कई तरह के बिस्किट मौजूद हैं। हालांकि ज्यादातर लोग आज भी इस बात से अनजान हैं कि चाय और बिस्किट का सेवन एक साथ करके वो कई बीमारियों का न्योता दे रहे हैं। 2019 में केंद्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय द्वारा एक सर्कुलर जारी किया गया था। इसमें कहा गया था कि सभी बैठकों में चाय के साथ कुछ हेल्दी फूड दिया जाए। मंत्रालय ने अपने सर्कुलर में कहा था कि चाय के साथ बिस्किट बिल्कुल न दिया जाए। आइए आज हम आपको बताते हैं कि चाय के साथ बिस्किट खाने से सेहत को क्या-क्या नुकसान पहुंच सकते हैं?

स्किन पर पड़ता है असर

चाय में पाया जाने वाला कैफीन और बिस्किट के शुगर जब एक साथ मिलते हैं, तो ये चेहरे को प्रभावित कर सकते हैं। बिस्किट और चाय का सेवन एक साथ करने से चेहरे पर पिंपल्स, एक्ने, उम्र से पहले झुर्रियां पड़ने की संभावना ज्यादा रहती है।

tea biscuit side effects

बढ़ सकता है शुगर लेवल

ब‍िस्‍क‍िट में शुगर और कार्ब्स की मात्रा ज्यादा होती है। अगर लंबे समय तक बिस्किट का सेवन किया जाए, तो ये शरीर में ब्लड शुगर लेवल को बढ़ा सकता है। ज्यादा शुगर होने के कारण यह रोग प्रतिरोधक क्षमता पर भी असर डाल सकता है।

इसे भी पढ़ेंः डीप फ्राई, कच्चा या उबालकर, किस तरह मशरूम खाना है ज्यादा हेल्दी? जानें एक्सपर्ट से

कब्ज और पेट संबंधित समस्याएं

आज बाजार में शुगर फ्री, डाइजेस्टिव, आटे और ओट्स से बनने वाले कई बिस्किट्स मौजूद हैं, जो हेल्दी होने का दावा करते हैं। लेकिन ये कितने हेल्दी हैं, इस बारे में कोई नहीं जानता। पारंपरिक बिस्किट को बनाने में तेल, मैदे और चीनी का इस्तेमाल किया जाता था। मैदे और तेल से बनने के कारण कई लोगों को बिस्किट का सेवन करने से कब्ज, सीने में जलन और पाचन संबंधित अन्य समस्याएं हो सकती हैं।

tea biscuit bad for health

दांतों में सड़न का कारण

जंक फूड खाने और दांतों की ठीक से सफाई न करने के कारण इन दिनों ज्यादातर शहरी लोगों के दांत कमजोर पड़ने लगे हैं। ऐसे में बिस्किट का सेवन  करना दांतों के लिए और भी ज्यादा नुकसानदायक साबित हो सकता है। ब‍िस्‍क‍िट में शुगर की मात्रा ज्‍यादा होती है। इसके कण अगर दांतों के बीच चिपक जाते हैं, तो बैक्टीरिया के उत्पादन का कारण बनते हैं, जो दांतों को कमजोर बनाते हैं। ,  इससे मसूड़ों और जीभ को भी नुकसान पहुंच सकता है। चाय के साथ बिस्किट खाने से दांत में कैविटीज पनप सकती हैं।

बढ़ सकता है मोटापा

चाय में मौजूद कैफीन और बिस्किट का शुगर आपका मोटापा और वजन बढ़ने का कारण हो सकते हैं। अगर आप सुबह खाली पेट चाय और बिस्किट का सेवन करते हैं, तो इससे शरीर में ज्यादा कैलोरी जाती है, जो मोटापे का कारण बन सकती है।

इसे भी पढ़ेंः मुझे चाय पीने की लत है, इससे छुटकारा कैसे पाएं? एक्सपर्ट से जानें जवाब

अगर आप चाय और बिस्किट को एक साथ खाते हैं, तो दिन में 2 पीस बिस्किट से ज्यादा न लें। जहां तक संभव हो शाम के समय चाय और बिस्किट का सेवन करने से बचें। चाय के साथ खाने के लिए कुछ हेल्दी स्नैक्स की तलाश करें। डायबिटीज, किडनी और दिल के मरीज बिस्किट का सेवन करने से पहले डॉक्टर या डाइटिशियन की सलाह जरूर लें।

Disclaimer