दालचीनी का ज्यादा सेवन करने से हो सकती हैं कई गंभीर समस्याएं

दालचीनी का अधिक मात्रा में सेवन करने से शरीर को कई समस्याएं हो सकती हैं। आइए जानते हैं इस बारे में-

Kishori Mishra
Written by: Kishori MishraPublished at: Jun 29, 2022Updated at: Jul 07, 2022
दालचीनी का ज्यादा सेवन करने से हो सकती हैं कई गंभीर समस्याएं

मसालों में दालचीनी की भी अपनी एक अलग विशेषता है। यह खाने का स्वाद बढ़ाने के साथ-साथ शरीर की कई समस्याओं को दूर कर सकता है। डाइट में दालचीनी को शामिल करने से ब्लड शुगर को कंट्रोल किया जा सकता है। साथ ही यह हृदय रोग के लिए जोखिमों को कम कर सकता है। इसके कई अन्य फायदे भी हो सकते हैं। लेकिन क्या आप जानते हैं कि अधिक मात्रा में दालचीनी का सेवन शरीर के लिए नुकसानदेह हो सकता है? जी हां, अगर आप जरूरत से ज्यादा दालचीनी का सेवन करते हैं, तो यह लिवर डिजीज और कैंसर के जोखिमों को बढ़ा सकता है। साथ ही इससे शरीर को कुछ अन्य समस्याएं भी हो सकती हैं। 

दालचीनी के नुकसान (Side Effects of Having Cinnamon in Excess)

दालचीनी का अधिक मात्रा में सेवन करने से मुंह में छाले, लो ब्लड शुगर, सांस से जुड़ी परेशानियां हो सकती  हैं। इसके साथ ही यह आपके शरीर को कई अन्य तरह से प्रभावित कर सकता है। आइए जानते हैं इस बारे में-

इसे भी पढ़ें - चेहरे पर लगाएं दालचीनी के ये 5 फेस पैक, म‍िलेंगे कई फायदे

लिवर को कर सकता है डैमेज (Liver Damage in Hindi)

दालचीनी का अधिक मात्रा में सेवन करने से लिवर डैमेज की समस्या हो सकती है। रिसर्च में बताया गया है कि पिसी हुई 1 चम्मच (2.7 ग्राम) कैसिया दालचीनी (दालचीनी की वैरायटी) में कूमारिन (coumarin) की मात्रा 7 से 18 मिलीग्राम होती है। कई रिसर्च में बताया गया है कि कूमारिन का अधिक मात्रा में सेवन करने से लिवर डैमेज हो सकता है।  

बढ़ा सकता है कैंसर का जोखिम (Cancer Risk in Hindi)

कैसिया दालचीनी में कूमारिन की मात्रा काफी ज्यादा होती है। कुछ अध्ययनों  के अनुसार शरीर में कूमारिन की अधिकता की वजह से कैंसर का खतरा बढ़ सकता है। रिसर्च में पाया गया है कि बहुत अधिक कूमारिन युक्त आहार का सेवन करने से से फेफड़े, लिवर और किडनी कैंसर होने की संभावना बढ़ सकती है।  

मुंह में छाले होने का खतरा (Mouth Ulcer) 

अधिक मात्रा में दालचीनी का सेवन करने से मुंह में छाले होने का खतरा रहता है। दरअसल, दालचीनी में  सिनामैल्डिहाइड (cinnamaldehyde) होता है। यह एक ऐसा यौगिक है, जिसके अधिक मात्रा में सेवन से एलर्जी की प्रतिक्रिया ट्रिगर होती है। मुंह में छाले के अलावा  सिनामैल्डिहाइड के सेवन से एलर्जी के अन्य लक्षण दिख सकते हैं, जैसे-

  • जीभ या मसूड़े में सूजन
  • जलन या खुजली होना
  • मुंह में सफेद दाग-धब्बे 

लो ब्लड शुगर (Low Blood Sugar in Hindi)

शरीर में ब्लड शुगर की मात्रा अधिक होना एक गंभीर समस्या है। अगर इसका समय पर इलाज न किया गया, तो यह डायबिटीज, हार्ट डिजीज और अन्य गंभीर समस्याओं को बढ़ा सकता है। वहीं, दालचीनी में ब्लड शुगर को कम करने की क्षमता होती है। रिसर्च से पता  चलता है कि दालचीनी ब्लड शुगर के स्तर को कम  करती है। ऐसे में अगर आप किसी शुगर लो करने वाली दवा के साथ दालचीनी का सेवन करते हैं, तो इससे  आपका ब्लड शुगर  अचानक बहुत ज्यादा कम हो सकता है, जो परेशानी भरा हो सकता है। 

सांस संबंधी परेशानी (Breathing Problems in Hindi)

दालचीनी का अधिक मात्रा में सेवन करने से सांस से जुड़ी परेशानी हो सकती है। दालचीनी में मौजूद सिनामैल्डिहाइड गले में खराश, जलन और सांस लेने में समस्या  उत्पन्न कर सकता है

दालचीनी स्वास्थ्य के लिए काफी हेल्दी होती है। हालांकि, ध्यान रखें कि अधिक मात्रा में इसका सेवन न करें। इससे आपकी समस्या बढ़ सकती है। साथ ही किसी तरह की बीमारी होने पर एक्सपर्ट की सलाह लेकर ही दालचीनी को अपने आहार में शामिल करें। 

 
Disclaimer