एल्कोहल बना श्रीदेवी की मौत का कारण! जानें कैसे प्रभावित करती है शराब

By  , ओन्‍ली माई हैल्‍थ सम्पादकीय विभाग
Feb 28, 2018
Comment

Subscribe for daily wellness inspiration

Like onlymyhealth on Facebook!

Quick Bites

  • श्रीदेवी लंबे समय से कई हेल्थ परेशानियां झेल रही थी।
  • हार्ट बीट का अचानक रुक जाना कार्डियक अरेस्ट कहा जाता है।
  • फॉरेंसिक रिपोर्ट में उनके ब्लड में शराब के अंश पाए गए हैं।

बॉलीवुड की दिग्गज अभिनेत्री श्रीदेवी अब हमारे बीच नहीं हैं। बीते शनिवार को दुबई में दुनिया को अलविदा कहने बाद बुधवार को उनका अंतिम संस्कार है। मेडिकल रिपोर्ट में श्रीदेवी की मौत का कारण अचानक आया कार्डियक अरेस्ट बताया गया है। फॉरेंसिक रिपोर्ट में डॉक्टर्स को उनकी ब्र्लड में शराब के अंश मिले थे। यानि कि डॉक्टर्स का कहना था कि मौत के वक्त श्रीदेवी भयंकर नशे में थी। ऐसे में एक्सपर्ट्स कयास लगा रहे हैं कि अगर श्रीदेवी घटना वाले दिन नशे में नहीं होती तो शायद उनकी मौत् नहीं होती और वह हमारे बीच मौजूद होती। आपको बता दें कि एल्कोहल मानव शरीर का दुश्मन होता है। यह ना सिर्फ मस्तिष्क बल्कि दिल, लिवर समेत अन्य अंगों को भी बुरी तरह प्रभावति करता है। हर व्यक्ति को शराब का सेवन सीमित मात्रा में ही करना चाहिए। ऐसे में कह सकते हैं कि श्रीदेवी की मौत के लिए कई अन्य कारणों को जिम्मेदार ठहराया जा रहा है। मंगलवार को एक रिपोर्ट ने दावा किया था कि श्रीदेवी ने करब 29 सर्जरी कराई थी। जो उनकी मौत का कारण हो सकता है।

इसे भी पढ़ें : कार्डियक अरेस्ट नहीं, बल्कि इस वजह से हुई श्रीदेवी की मौत!

एल्कोहल ने ली श्रीदेवी की जान

रिपोर्ट्स के मुताबिक शनिवार यानि कि श्रीदेवी की मौत वाले दिन वह भयंकर नशे में थी। उनका नशे का स्तर इतना चरम पर था कि वह ठीक से उठ भी नहीं पा रही थी। ऐसे में कयास लगाए जा रहे हैं कि भयंकर नशे में धुत होकर जब वह बॉथरूम में गई तो गिररकर या बॉथटब में डूबकर उनकी मौत हो गई थी। यानि कि अगर श्रीदेवी उस दिन शराब के नशे में ना होती तो शायद आज वह हमारे बीच मौजूद होती।

शरीर की दुश्मन है शराब, जानें कैसे?

  • शराब का अधिक सेवन स्‍वास्‍थ्‍य के लिहाज से ठीक नहीं। अगर आप नियमित रूप से दो पैग पीते हैं तो इसके स्‍वास्‍थ्‍य लाभ हैं, लेकिन शराब का सेवन बहुत अधिक मात्रा में करने से दिमाग पर बुरा असर पड़ता है। अधिक शराब के सेवन से तार्किक क्षमता कम होती है। इसके अलावा अधिक शराब तनाव और अवसाद का कारण बनता है जो दिमाग के लिए ठीक नहीं।
  • शराब से जुड़े नुकसानों के बारे में तो हर कोई जानता होगा। लेकिन फिर भी हर कोई शराब का सेवन करता है। तो अगर आपको किडनी से जुड़ी कोई शिकायत हो गई है तो आज ही शराब पीना बंद करें। अधिक मात्रा में और रोजाना एल्कोहल का सेवन करने से लिवर और किडनी पर प्रतिकूल प्रभाव पड़ता है।
  • शराब का सेवन स्वास्थ्य पर गंभीर रूप से प्रभाव डालता है। इसके साथ ही यह जोखिम और न्यूनतम लाभ का सूचक है। इसे मौत और विकलांगता से जोड़ा गया है। 'एल्कोहॉलिज्म : क्लिनिकल एंड एक्सपेरीमेंटल रिचर्स' के नए अध्ययन में पाया गया है कि शराब के नशे ने अमेरिका में इससे संबंधित बीमारियां बढ़ा दी हैं।
  • दिन में चार ड्रिंक या इससे अधिक शराब का सेवन करने वाले लोगों को स्किन कैंसर का खतरा 55 प्रतिशत अधिक हो सकता है। बता दें कि एक ड्रिंक में 12.5 ग्राम एल्कोहल होता है जो एक ग्लास वाइन या आधा पिंट बीयर में होता है। एल्कोहल त्वचा को सूर्य की अल्ट्रावॉयलेट किरणों के आगे अधिक संवेदनशील बनाता है, जिससे उन्हें इन किरणों से तेजी से नुकसान होता है।
  • उम्र के चौथे और पांचवें दशक में जो पुरुष अधिक शराब का सेवन करते हैं, उन्‍हें आगे चलकर मस्तिष्‍क संबंधी परेशानियां अधिक होती हैं। वहीं दूसरी ओर महिलाओं में इसका कोई बड़ा दुष्‍प्रभाव नजर नहीं आया, भले ही उन्‍होंने कितनी ही मात्रा में शराब क्‍यों न पी हो।

ऐसे अन्य स्टोरीज के लिए डाउनलोड करें: ओनलीमायहेल्थ ऐप

Read More Articles On Healthy Living In Hindi

Loading...
Write Comment Read ReviewDisclaimer
Is it Helpful Article?YES230 Views 0 Comment
संबंधित जानकारी
  • सभी
  • लेख
  • स्लाइडशो
  • वीडियो
  • प्रश्नोत्तर