Doctor Verified

डायब‍िटीज में दर्द होता है कंधा, तो बदलें ये 5 आदतें

Shoulder Pain in Diabetes: डायब‍िटीज में कंधा दर्द होने से व्‍यक्‍त‍ि की द‍िनचर्या प्रभाव‍ित होती है। इस लेख में बताई 5 आदतों को तुरंत बदल दें।

Yashaswi Mathur
Written by: Yashaswi MathurUpdated at: Nov 30, 2022 13:46 IST
डायब‍िटीज में दर्द होता है कंधा, तो बदलें ये 5 आदतें

3rd Edition of HealthCare Heroes Awards 2023

ज‍िन लोगों को डायब‍िटीज होती है, उन्‍हें शुगर का स्‍तर कंट्रोल करने की सलाह दी जाती है। डायब‍िटीज का स्तर बढ़ने से शरीर से जुड़ी कई समस्‍याएं नजर आने लगती हैं। जैसे कंधों में दर्द महसूस होना। कंधे की जकड़न या दर्द ज‍िसे हम फ्रोजन शोल्‍डर भी कहते हैं, ये डायब‍िटीज का एक लक्षण भी है। ज‍िन लोगों के शरीर में शुगर का स्तर न‍ियंत्र‍ित नहीं होता है, उनमें कोलेजन का रूप बदल सकता है। इससे कंधे में दर्द महसूस होता है। कंधे के दर्द से बचने के ल‍िए रोजमर्रा से जुड़े 5 आसान बदलावों पर आपको गौर करना चाह‍िए। केवल 5 आदतों को बदल देने से आप मसल्‍स पेन की समस्‍या से बच सकते हैं। इस बारे में हम आगे जानेंगे। इस व‍िषय पर बेहतर जानकारी के ल‍िए हमने लखनऊ के केयर इंस्‍टिट्यूट ऑफ लाइफ साइंसेज की एमडी फ‍िजिश‍ियन डॉ सीमा यादव से बात की।   

shoulder pain in hindi

1. व‍िटाम‍िन्‍स का सेवन न करना 

व‍िटाम‍िन्‍स की कमी के कारण भी डायब‍िटीज होने पर ज्‍वॉइंट्स या कंधों में दर्द महसूस हो सकता है। दर्द से बचने के ल‍िए जरूरी व‍िटाम‍िन्‍स की मात्रा शरीर में चेक करवाएं। अक्‍सर व‍िटाम‍िन डी और व‍िटाम‍िन बी12 की कमी के कारण हाथ-पैर, मसल्‍स या कंधे के ह‍िस्‍से में दर्द महसूस होता है। ये व‍िटाम‍िन्‍स हड्ड‍ियों और मांसपेश‍ियों को सेहतमंद बनाए रखने का काम करती हैं। जो लोग हेल्‍दी डाइट नहीं लेते, उन्‍हें डॉक्‍टर व‍िटाम‍िन्‍स के सप्‍लीमेंट्स लेने की सलाह देते हैं। 

2. डायब‍िटीज फ्रेंडली डाइट न लेना 

डायब‍िटीज में कंधे का दर्द होना सामान्‍य नहीं है। इसका कारण गलत डाइट भी हो सकती है। हेल्‍दी डाइट न लेने से शुगर का स्‍तर बढ़ जाता है। शुगर लेवल बढ़ने से मसल्‍स में पेन होने लगता है। अपनी डाइट में होल ग्रेन्‍स का सेवन बढ़ाएं। इसके अलावा ताजी सब्‍ज‍ियां और फल खाएं। ज्‍यादा डेयरी उत्‍पादों का सेवन करने से बचना चाह‍िए। 

इसे भी पढ़ें- क्यों होता है कंधों में दर्द? जानें लक्षण और कारण      

3. कसरत न करने की आदत 

ब्‍लड शुगर लेवल को कंट्रोल करने का सबसे आसान तरीका है कसरत करना। लेक‍िन कसरत करने की आदत नहीं है, तो डायब‍िटीज के दौरान होने वाली शारीर‍िक समस्‍याएं बढ़ जाती हैं। कंधे और मसल्‍स में दर्द दर करने के ल‍िए कसरत करें। इससे शरीर में लचीलापन रहेगा और दर्द व सूजन से छुटकारा म‍िलेगा।   

4. डायबि‍टीज की जांच न करना 

कंधे में होने वाले दर्द से बचना चाहते हैं, तो समय-समय पर शुगर की जांच करते हैं। होम क‍िट या शुगर की मशीन की मदद से डायब‍िटीज चेक करें और उसे नोट करके कंपेयर करें। महीने में आधे या आधे से ज्‍यादा द‍िन शुगर लेवल बढ़ा हुआ आता है, तो संभल जाएं। डॉक्‍टर से सलाह लें और डायब‍िटीज कंट्रोल करने के ट‍िप्‍स फॉलो करें। इसके अलावा मीठी चीजों का सेवन ब‍िल्‍कुल न करें। मीठी चीजों का सेवन करने से शुगर का स्‍तर बढ़ जाता है। शुगर का स्‍तर बढ़ने से कंधे की तकलीफ डबल हो जाएगी।  

5. नींद पूरी न करने की आदत 

नींद की कमी के कारण भी डायब‍िटीज में कंधे या मसल्‍स का दर्द परेशान कर सकता है। नींद की कमी के कारण शरीर में इंफ्लेमेशन यानी सूजन बढ़ जाती है। सूजन बढ़ने से मसल्‍स में दर्द होता है। ज‍िन लोगों को डायब‍िटीज है, उन्‍हें हर द‍िन 7 से 8 घंटे की नींद पूरी करनी चाह‍िए। डायब‍िटीज होने पर व्‍यक्‍ति के ब्‍लड में शुगर की मात्रा कभी भी असंतुलि‍त हो सकती है, ऐसे में दर्द और शरीर में नजर आने वाली सूजन बढ़ सकती है।     

ऊपर बताई इन 5 आदतों को बदल दें ताक‍ि डायब‍िटीज में होने वाले कंधे के दर्द से बचाव हो सके। लेख पसंद आया हो, तो शेयर करना न भूलें।       

Disclaimer