तेज चिल्लाने से खराब हो सकते हैं आपके वोकल कॉर्ड, डॉक्टर से जानें इससे होने वाली समस्याएं

अगर आप बहुत तेज चिल्लाते हैं या तेज बोलते हैं, तो डॉक्टर से जान लें इसके कुछ नुकसान।

Written by: Updated at: Oct 30, 2022 09:00 IST
तेज चिल्लाने से खराब हो सकते हैं आपके वोकल कॉर्ड, डॉक्टर से जानें इससे होने वाली समस्याएं

जब हम बोलते हैं या चिल्लाते हैं, तो हमारे गले से आवाज वोकल कॉर्ड के जरिये आती है। वोकल कॉर्ड को स्वरयंत्र भी कहते हैं। ये मुँह में फ्लेक्सिबल टिशू के ऊपर की ओर वॉइस बॉक्स के रूप में होता है। बताते चलें कि हमारी बॉडी की तरह वोकल कॉर्ड भी तनावग्रस्त और डैमेज हो सकता है। कई बार देखा जाता है कि लोग बहुत तेज आवाज में बोलते हैं या गुस्सा आने पर बहुत तेज चिल्ला कर बोलते हैं। ऐसा करने से व्यक्ति का वोकल कॉर्ड डैमेज हो सकता है। बता दें चिल्लाने से या तेज बोलने से गले का संक्रमण, वोकल कॉर्ड पैरालिसिस और गले में ब्लीडिंग आदि जैसी परेशानी हो सकती है। आइए जानते हैं आईसीपीए हेल्थ प्रोडक्ट के रिसर्चर डॉक्टर राजीव चित्गुप्पी से कि चिल्लाने से वोकल कॉर्ड में क्या समस्या आ सकती है और किन तरीकों से आप अपने वोकल कॉर्ड को ठीक रख सकते हैं। 

चिल्लाने से गले में हो सकती है ब्लीडिंग

कई सिचुएशन में तेज चिल्लाने से आवाज अचानक बदल जाती है। जो व्यक्ति तेज बोलते हैं उनके साथ ऐसी परेशानी होने का डर बना रहता है। बता दें तेज चिल्लाने से वोकल कॉर्ड में ब्लीडिंग हो सकती है और ब्लीडिंग के कारण वोकल कॉर्ड में गांठ बन जाती है, जिसकी वजह से आवाज बदल जाती है। 

इसे भी पढ़ें- आपके वोकल कॉर्ड को खराब कर सकती हैं ये 5 गलत आदतें, आवाज अच्छी रखनी है तो न करें गलतियां

वोकल कॉर्ड हो सकता है पैरालिसिस

कई बार बड़ी घटनाओं के कारण या अगर आप काफी समय से चिल्लाते आ रहें हैं, तो इससे आवाज चली जाती है। इसे वोकल कॉर्ड ट्रॉमा कहा जाता है। ऐसी स्थिति से बचने के लिए खुद की आवाज पर नियंत्रण रखना जरूरी है। ज्यादा चिल्लाने से आवाज बिगड़ सकती है। इससे वोकल कॉर्ड पैरालिसिस का भी खतरा बना रहता है। 

गले में हो सकता है कैंसर

अगर आप काफी समय से चिल्लाकर बोलते हैं तो ये आपके गले को प्रभावित कर सकता है। इस कारण आपको गले में पॉलीप्स और नोड्यूल बन सकते हैं और आपको थ्रोट कैंसर हो सकता है। 

vocal cord damage

इस तरह गलें को दें आराम

गुनगुना पानी पिएं

अगर आपका प्रोफेशन या काम ऐसा है जिसमें आपको आवाज लगानी पड़ती है और आप तेज बोलते हैं, तो आपको गुनगुना पानी पीना चाहिए। इससे आपके गले और वोकल कॉर्ड को आराम मिलेगा। यह गले की नसों की सिंकाई करके गले की सूजन को ठीक करता है।

गले की मसाज करें

चिल्लाने के बाद गले में दर्द हो जाता है। ऐसे में आप गले की मसाज कर सकते हैं। बता दें गले के पास उंगलियों से मसाज करें। इससे आपको राहत मिलेगी। साथ ही मसल्स को आराम मिलेगा। 

इसे भी पढ़ें- वॉइस डिसऑर्डर (आवाज में बदलाव) के क्या कारण हो सकते हैं? डॉक्टर से जानें इसके लक्षण और बचाव

गले के लिए करें ब्रीदिंग एक्सरसाइज

वोकल कॉर्ड को सही रखने के लिए योग और  ब्रीथिंग एक्सरसाइज करनी चाहिए। साथ ही गले की थकान भी कम होती ही। 

नोट: तेज बोलने से या चिल्लाने के बाद गले में करकश और बहुत खराश होती है, तो डॉक्टर को जरूर दिखाएं। इसकी वजह से गले में इंफेक्शन, टीबी, चेस्ट इंफेक्शन, फंगल इंफेक्शन और सुर के तार में ट्यूमर हो सकता है। 

Disclaimer