100 में से 90 लोग नहीं जानते होंगे 'हल्दी वाले दूध' की ये खास बात, एक्सपर्ट से जानें दूध पीने का सही तरीका

हल्दी वाला दूध कब पीना चाहिए और कैसे पीना चाहिए बता रहीं करीना कपूर खान की एक्सपर्ट रुजुता दिवेकर। 

Jitendra Gupta
Written by: Jitendra GuptaUpdated at: Feb 20, 2020 11:04 IST
100 में से 90 लोग नहीं जानते होंगे 'हल्दी वाले दूध' की ये खास बात, एक्सपर्ट से जानें दूध पीने का सही तरीका

चोट लगने या फिर मांसपेशियों में खिंचाव व तनाव आने पर आपने अक्सर अपनी दादी-नानी या फिर मम्मी के मुंह से सोना होगा 'बेटा हल्दी वाला दूध पी ले ठीक हो जाएगा'। ये शत-प्रतिशत बिल्कुल सही है कि हल्दी वाले दूध में गजब के फायदे होते हैं। अंग्रेजी भाषा में इसे टर्मरिक मिल्क कहते हैं लेकिन हिंदी भाषी लोग हल्दी वाले दूध इस पेय को किसी 'सुपर ड्रिंक' से कम नहीं मानते हैं। मौजूदा वक्त में भी हल्दी वाले दूध को उतना ही फायदेमंद माना जाता है जितना की पहले माना जाता है। यही कारण है कि पूरी दुनिया में हल्दी वाले दूध की शक्ति को माना और पहचाने जाना लगा है। हल्दी को उसके एंटी-बायोटिक, एंटी-इंफ्लेमेटरी और एंटी-ऑक्सीडेंट गुणों के लिए जाना जाता है। इस मसाले को गर्म दूध के साथ मिलाकर पीने से कई स्वास्थ्य समस्याओं में राहत मिलती है, मेटाबॉलिज्म को बेहतर बनाने के अलावा ये आपकी त्वचा को भी सुंदर बनाने का काम करता है। इसी वजह से पूरी दुनिया में हल्दी वाला दूध एक सेंशेन बन चुका है।

haldi wala doodh

भारत में सिर्फ आम लोग ही नहीं बल्कि बड़े-बड़े स्टार्स भी हल्दी वाला दूध पीते हैं। जी हां, बिल्कुल ठीक पढ़ा आपने। करीना कपूर खान जैसे कई फिल्मी सितारों की फिटनेस एक्सपर्ट रुजुता दिवेकर ने भी अपने इंस्टाग्राम अकाउंट पर इस 'सुपर ड्रिंक'  की खूबियां बताई हैं। दरअसल बहुत से लोग अपनी डेली डाइट में हल्दी वाला दूध शामिल करते हैं लेकिन सभी इस बात से वाकिफ नहीं है कि इसका सेवन कैसे करना है। इस ड्रिंक के बारे में ऐसी कई बातें हैं, जिन्हें इसके नियमित सेवन से पहले जानना आपके लिए बेहद जरूरी है। इसलिए रुजुता आपके साथ कुछ ऐसे टिप्स शेयर कर रही हैं, जो हल्दी वाले दूध का सेवन करने वाले लोगों को जानना बेहद जरूरी हैं। इस लेख में आप जानेंगे कि कैसे हल्दी वाला दूध पीना चाहिए ताकि आपको अधिक से अधिक लाभ मिलें। 

 
 
 
View this post on Instagram

FAQs for Guideline 6 – Haldi milk before bedtime 1. What kind of milk to use? Can we have haldi with oat milk? The milk to use is the regular, full fat milk from your local dairy. The one with no labels, packaging and brands. But in case you live in areas where it’s tough to access that then look for milk from free grazing cows. The best kind of milk is the one that goes bad (in a couple of hours when not refrigerated). As far as oat, almond, soy, etc, milks go, they aren’t really environmentally sustainable. But can you add haldi to it? Yes, you totally can. 2. What kind of haldi to use? Well, the normal haldi powder. Ideally buy from places that sell locally and naturally grown haldi. And if you would like a more romantic answer then the haldi that grows in the shade of a banana tree with a mirchi and genda phool growing next to it. 3. Will having milk in the night lead to cough and cold? No, it won’t. Adding a pinch of haldi along with pepper or nutmeg ensures that. In fact, it can even help with common colds and coughs. 4. Is milk at bedtime ok if I want to lose weight? Yes, totally. Haldi and milk is a powerful combination of essential fatty acids, antioxidants and anti-inflammatory agents. Together they will ensure that your fat loss is accelerated. 5. If we take haldi doodh in the morning, will it give the same results? Same same but different. One of the main purposes of haldi milk is to accelerate recovery and that happens when its had just at bedtime. It allows you to optimize your hormonal balance that results in you waking up lesser in the middle of the night and waking up fresher, younger, with each passing day. 6. Will haldi milk work for PCOD patients also? Yes, absolutely. Especially if you are struggling with the cystic acne. In which case, don’t forget the pinch of aliv seeds with it. 7. Will having Haldi every day create heat in the body? If you have it in random amounts, yes, it can even lead to acidity and bloating. But as a pinch with your milk, as a tadka in your sabzis and dals, it remains a safe herb for people of all ages and conditions. #12week2020 #haldimilk

A post shared by Rujuta Diwekar (@rujuta.diwekar) onFeb 16, 2020 at 11:22pm PST

हल्दी वाले दूध के बारे में जरूरी टिप्स, रुजुता दिवेकर के साथ

नियमित रूप से हल्दी दूध का सेवन

रुजुता का कहना है कि हल्दी वाले दूध के लिए हमेशा आपको नॉन ब्रांडेंड, रेगुलर फुल फैट मिल्क का उपयोग करना चाहिए, जो आपके आस-पास डेयरी पर मिलता हो। लेकिन अगर आप ऐसे किसी इलाके में रह रहे हैं, जहां रेगुलर मिल्क मिल पाना थोड़ा मुश्किल है तो गाय का ताजा दूध ढूंढने का प्रयास करें। उन्होंने बताया कि सबसे अच्छा दूध वो होता है, जिसे अगर कुछ देर तक फ्रीज में न रखा जाए तो ये कुछ घंटों में ही खराब हो जाता है।

इसे भी पढ़ेंः फटी एड़ियों को ठीक करेगा संतरे के छिलके और ब्राउन शुगर का स्क्रब, एक्सपर्ट से जानें स्क्रब बनाने का तरीका

प्राकृतिक रूप से उगाई हल्दी का प्रयोग करे

ऐसे हल्दी पाउडर को खरीदने का प्रयास करें, जिन्हें प्राकृतिक और स्थानीय रूप से उगाया गया हो खासकर जब कोई हल्दी का पौधा केले के पेड़ की छाया में मिर्ची के साथ उगी हो और उसके बगल में गेंदे का फूल उगा हुआ हो।

haldi wala doodh peeney ke fyade

 
 
 
View this post on Instagram

Guideline 6 - Have a glass of haldi milk every night In 2018, our guideline 6 was to start strength training at least once every week and over 60% respondents picked up strength training for the very first time and saw amazing results. But for exercise to work and to continue to work, we need to recover from the stimuli of exercise. In fact we need to recover from the stimuli and stresses of daily life to make meaning of our existence. This year through the fitness project we are reviving age old traditions and one such timeless tradition has been the haldi doodh at bedtime. Of course the food and weight loss industry has appropriated it (turmeric latte/ golden milk) and sold us pills, shots and whatnot of turmeric, curcumin or curcuma but magic of haldi doodh lies in its use and not abuse. Here are some of the reasons that a glass or a cup every night works wonders - 1. Allows for restful sleep. Especially in cases where sleep is broken multiple times for using the bathroom 2. Accelerates recovery. Allows for repair work to take place optimally 3. Improves immunity. Surely have it during every season change when flus and coughs are around 4. Allows for better hormonal balance. Especially useful if you have acne or unpredictable periods How to make it - - Add a pinch of haldi to milk while you are boiling it - Pour in a cup - Add sugar or jaggery to taste. - Drink it just before you sleep, ideally hot but even warm is good Special tips for - 1. Diabetes, heart disease, joint pain - add a pinch of nutmeg 2. Poor sleep and restless legs - add a few cashews 3. Low energy & acne - add a pinch of aliv seeds 4. Bad throat and infections - pinch of black pepper 5. Lactose intolerant - have it with buttermilk instead of milk. If you would like to not have dairy at all, have a pinch with a piece of dry coconut and jaggery but by 4-5 pm. Fill the week 5 tracker form - link in bio. Video in story. Note - For the properties of haldi to work, the proportion and the timing has to be just right. If you have too much or too little, it won’t have the benefits. So if you have it in on an empty stomach with water, pop pills or simply use a lot of it, pls stop.

A post shared by Rujuta Diwekar (@rujuta.diwekar) onFeb 12, 2020 at 3:03am PST

रात में हल्दी वाला दूध पीने के लिए मिलाएं ये अन्य मसाले

अगर आपको डर लग रहा है कि रात में हल्दी वाला दूध पीने के बाद आपको सर्दी या जुकाम न पकड़ ले तो आप इसमें हल्दी के साथ एक चुटकी काली मिर्च या फिर जायफल मिला लें। हैरत की बात ये है कि ये सुपर ड्रिंक आपको कई प्रकार के संक्रमण से भी बचाने में मदद कर सकता है। रात को सोते वक्त हल्दी वाला दूध पीने से वजन कम करने में भी मदद मिलती है क्योंकि हल्दी और दूध मिलकर एक ऐसा जबरदस्त कॉम्बिनेशन बन जाता है, जो जरूरी फैटी एसिड, एंटी-ऑक्सीडेंट और एंटी-इंफ्लेमेटरी गुणों से भरा होता है। हल्दी वाले दूध के अधिक फायदे लेने के लिए आप इसमें कालीमिर्च और जायफल जरूर मिलाएं।

रात में हल्दी वाला दूध पीना ज्यादा फायदेमंद

रुजुता के मुताबिक, आप चाहें तो हल्दी वाला दूध सुबह पी सकते हैं लेकिन रात में इसे पीना ज्यादा बेहतर होता है। सुबह में हल्दी वाला दूध पीना भी समान प्रभाव दिखाता है लेकिन रात की तुलना में परिणाम ज्यादा बेहतर सामने आते हैं। रात में हल्दी वाला दूध पीने का मुख्य कारण है कि ये आपके हार्मोन संतुलन को ऑप्टमाइज कर देता है, जिसके कारण आपको नींद बेहतर आती है और आप अगली सुबह फ्रेश उठते हैं। हर दिन के साथ यह प्रक्रिया बहुत अच्छी होती चली जाती है।

इसे भी पढ़ेंः नारियल तेल से कुल्ला करना आपके पाचन स्वास्थ्य को बना सकता है बेहतर, जानें कुल्ला करने का सटीक तरीका

पीसीओडी में फायदेमंद हल्दी वाला दूध

हल्दी दूध पीसीओडी मरीजों के लिए एक अच्छी ड्रिंक है खासकर उन महिलाओं के लिए जिन्हें मूत्राशय के मुंहासे होते हैं। इस मामले में आप इसमें एलिव बीज मिला सकते हैं, जो आपके लिए बेहद फायदेमंद साबित होंगे।

ज्यादा हल्दी वाला दूध पीना एक सही विचार नहीं

अगर आप रोजाना हल्दी वाला दूध पीते हैं तो आपको एसिडिटी और पेट फूलने की समस्या हो सकती है। हालांकि सब्जी या फिर दाल बनाते वक्त रोजाना थोड़ा सा दूध और हल्दी डालना बिल्कुल सुरक्षित है। इसलिए इस जानकारी का प्रयोग करें और हल्दी वाले जादुई दूध पीकर अपना स्वास्थ्य सुधारें।

Read More Articles On Miscellaneous in Hindi

Disclaimer