कब्ज से हैं परेशान तो गेहूं की जगह खाएं राजगिरा (रामदाना) का आटा, जानें इसे खाने के 8 फायदे

डायबिटीज में यूं तो लोग चोकर वाला आटा या फिर चने की दाल का आटा खाने को कहते हैं। पर आप इनकी जगह राजगिरा का आटा खा सकते हैं। जानते हैं इसके अन्य फायदे।

Pallavi Kumari
Written by: Pallavi KumariPublished at: Oct 12, 2021
कब्ज से हैं परेशान तो गेहूं की जगह खाएं राजगिरा (रामदाना) का आटा, जानें इसे खाने के 8 फायदे

राजगिरा या रामदाना (amaranth) के लड्डू तो आपने खूब खाए होंगे। पर क्या आपने कभी इसका आटा (amaranth atta) खाया है? दरअसल, राजगिरा या अमरनाथ असल में ओट्स गेहूं या चावल जैसा अनाज नहीं है। इसका एक पौधा होता है जिसे कई जगहों पर चौलाई भी कहते हैं और रामदाना उनकी कलियों में होते हैं।  रागगिरा में सबसे ज्यादा प्रोटीन और फाइबर होता है, जो कि स्वास्थ्य के लिए कई प्रकार से काम करते हैं। पर आज हम बात राजगिरा के आटे की करेंगे जो कि डायबिटीज से लेकर मोटापे तक के रोगियों के लिए बहुत फायदेमंद है। इसके अलावा इसमें कुछ ऐसे विटामिन और मिनरल्स भी हैं जिसकी वजह से इसे एक खास सुपरफूड माना जाता है। तो, आइए आज विस्तार से जानते हैं कि सेहत के लिए  राजगिरा का आटा कितना फायदेमंद है। पर उससे पहले जानते हैं इसके कुछ खास पोषक तत्व। 

 Inside2rajgiraattabenefits

image credit: Nutty Yogi

राजगिरा (रामदाना) के आटे के खास पोषक तत्व

राजगिरा (रामदाना) कई आवश्यक विटामिनों का भी एक अच्छा स्रोत है, जिनमें विटामिन ए, सी, ई, के, बी5, बी6, फोलेट, नियासिन और राइबोफ्लेविन शामिल हैं। ये एंटीऑक्सीडेंट के रूप में कार्य करते हैं। इसके अलावा इसमें प्रोटीन, मैंगनीज, मैग्नीशियम, फास्फोरस और आयरन भी शामिल हैं। 

राजगिरा का आटा खाने के फायदे-Rajgira atta benefits in hindi

1. एनर्जी बूस्टर है राजगिरा का आटा

अगर आप अपने नाश्ते में कुछ एनर्जी बूस्टर चीज बनाना चाहते हैं तो आपको राजगिरा का आटे से पराठा और हलवा आदि बना कर खाना चाहिए। जी हां, ऐसा इसलिए क्योंकि राजगिरा के आटे में कार्ब्स की एक अच्छी मात्रा होती है। साथ ही ये प्रोटीन से भरपूर है जो कि शरीर को एक किक स्टार्ट देता है। इसे खाने से आपको अच्छी खासी एनर्जी मिलेगी और आपको दिन भर भूख भी नहीं लगेगी। साथ ही इसमें फाइबर भी होता है जो कि सुबह से ही आपका पेट भरा रखेगा और आपको बार-बार खाने की क्रेविंग नहीं होगी।

इसे भी पढ़ें : नारियल का लड्डू खाएं और बनाएं सेहत, डायटीशियन से जानें इसके 6 फायदे और आसान रेसिपी

2. सूजन कम करता है

जब हमारे शरीर को चोट लगती है या फिर इंफेक्शन हो जाता है तो हमारा इम्यून सिस्टम सूजन के रूप में रिएक्ट करता है। पर अगर शरीर में बार-बार सूजन रहने लगे तो ये परेशानियां पैदा कर सकता है। ऐसे में आपको शरीर का सूजन कम करने के लिए राजगिरा का आटा खाना चाहिए। दरअसल, इसमें पेप्टाइड्स और एंटी इंफ्लेमेटरी गुण होते हैं जो कि दर्द को कम करने के साथ सूजन को कम कर सकते हैं। साथ ही इसमें कुछ ऐसे एंटीबॉडी होते हैं जो कि सूजन से लड़ने में शरीर की मदद करते हैं। 

 Insideswelling

image credit: freepik

3. कब्ज की समस्या को दूर करता है

अगर आपको बार-बार कब्ज की समस्या हो जाती है तो आपको राजगिरा का आटा खाना चाहिए। ध्यान रहे कि इसे दरदरा करके पीसे और तब इस्तेमाल करें। दरअसल, राजगिरा के आटे में फाइबर की एक अच्छी मात्रा होती है जो कि मेटाबोलिज्म को तेज करने के साथ आपके मल में थोक जोड़ता है। इससे मल मुलायम हो जाता है और कब्ज की दूर होने लगती है। इस तरह रेगुलर इसका आटा लेने से आपको बॉवेल मूवमेंट सही हो जाता है और आप सूजन, कब्ज, ऐंठन और कई अन्य बीमारियों से बचे रहते हैं। 

4. मोटापा घटाता है 

राजगिरा (रामदाना) के आटे में फाइबर और प्रोटीन दोनों है। ये दोनों ही वेट लॉस में एक जरूरी भूमिका निभाते हैं।  दरअसल, प्रोटीन जहां भूख को नियंत्रित करने और एक्सरसाइज आदि करने में हमारी सहायता करता है वहीं फाइबर मेटाबोलिज्म को तेज करता है। इस तरह आप अच्छे से खाना पचा कर और भूख कंट्रोल करके मोटापा घटा सकते हैं। साथ ही  राजगिरा (रामदाना) के आटे लाइसिन से भरपूर है, जो कि शरीर के लिए एक जरूरी अमीनो प्रोटीन है जो कि एक हेल्दी मेटाबोलिज्म के अलावा क्रेविंग आदि को भी कंट्रोल करने में एक प्रमुख भूमिका निभाता है। 

5. हड्डियों के लिए फायदेमंद

कैल्शियम और फॉस्फोरस से भरपूर होने के कारण, राजगिरा का आटा हड्डियों के लिए भी फायदेमंद है। दरअसल, ये आपकी हड्डियों को मजबूत बनाने में मदद करता है और ऑस्टियोपोरोसिस की रोकथाम में मदद करता है।  चूंकि इसमें लाइसिन भी है तो ये शरीर को कैल्शियम अवशोषित करने में भी मदद करता है। साथ ही लाइसिन मांसपेशियों को मजबूत बनाने में भी मददगार है। इसलिए हड्डियों को स्वस्थ रखने के लिए आपको राजगिरा का आटा जरूर खाना चाहिए। 

6. डायबिटीज में है फायदेमंद

डायबिटीज के रोगी अक्सर दो चीजों से परेशान रहते हैं। पहला असंतुलित ब्लड शुगर और दूसरा डायबिटी में कब्ज की समस्या। ऐसे में राजगिरा का आटा खाना आपके लिए फायदेमंद हो सकता है। दरअसल, इसका फाइबर ब्लड शुगर में अचानक बढ़ोतरी को रोकता है और इसे धीमे-धीमे पचाने में मदद करता है। इस तरह जब शरीर इंसुलिन का प्रोडक्शन कम कर रहा होता है तो, ये डायबिटीज के रोगियों के लिए शुगर कम करने में मददगार होता है। साथ ही फाइबर से भरपूर होने के कारण ये कब्ज की समस्या को भी दूर करता है। 

 Inside3diabetes

image credit: freepik

7. इम्यूनिटी बूस्टर है

राजगिरा में विटामिन सी की एक अच्छी मात्रा होती है।  विटामिन सी इम्यून सिस्टम के लिए बेहद जरूरी है। इसे रेगुलर खाने से ये व्हाइट ब्लड सेल्स के प्रोडक्शन को बढ़ाकर इम्यून सिस्टम को मजबूत करने में मदद करता है। बता दें कि व्हाइट ब्लड सेल्स इंफेक्शन से लड़ने में काफी प्रभावी है। साथ ही  विटामिन सी कोशिकाओं की मरम्मत और तेजी से उपचार के लिए भी जरूरी है। तो, बीमारियों से बचे रहने के लिए राजगिरा का आटा जरूर खाएं। 

इसे भी पढ़ें : कश्मीरी लाल मिर्च, सामान्‍य लाल म‍िर्च से कैसे है अलग? जानें इस म‍िर्च के फायदे और खास बातें

8. कोलेस्ट्राल कम करता है

राजगिरा का आटा दिल के रोगियों के लिए फायदेमंद है। सबसे पहते तो इसका फाइबर कोलेस्ट्रॉल के स्तर को संतुलित करने में मदद करता है। साथ ही इसमें पाए जानते वाले फाइटोस्टेरॉल भी कोलेस्ट्रॉल के स्तर को कम करने में काफी मदद करते हैं। साथ ही इसमें पोटेशियम भी होता है जो कि ब्लड सेल्स को चौड़ा करने और ब्लड सर्कुलेशन को बेहतर बनाने में मदद करते हैं। पोटेशियम के वासोडिलेशन (Vasodilation) गुण ब्लड वेसेल्स और धमनियों के तनाव को कम करते हैं, जिससे ब्लड प्रेशर कम हो जाता है और दिल की बीमारियों से बचे रहते हैं। 

इसके अलावा राजगिरा का आटा त्वचा और बालों के लिए भी फायदेमंद है। ये त्वचा में कोलेजन को बढ़ावा देता है। तो, इसका आयरन बालों को झड़ने से रोकता है। इसके अलावा ये समस से पहले सफेद हो रहे बालों को भी रोकता है और इसका प्रोटीन बालों के टैक्सचर को बेहतर बनाता है। 

आप राजगिरा के आटे को अपनी डाइट में कई प्रकार से शामिल कर सकते हैं। जैसे कि आप इसकी रोटी बना सकते हैं, पराठा बना सकते हैं, स्नैक्स बना सकते हैं, हलवा बना सकते हैं और कुछ कुकीज और दूध में डाल कर दलिया भी बना सकते हैं। तो, अपनी डाइट में शामिल करें  राजगिरा का आटा और सेहत को दें इसके ये खास फायदे।

Main image credit: Terra Earthfood

Disclaimer