मॉनसून में पाचन तंत्र को ठीक रखने के लिए करें इन 5 प्रोबायोटिक फूड्स का सेवन

Probiotic Foods:  प्रोबायोटिक फूड्स पाचन-तंत्र को स्वस्थ रखने में मदद करते हैं।

सम्‍पादकीय विभाग
स्वस्थ आहारWritten by: सम्‍पादकीय विभागPublished at: Jul 22, 2022Updated at: Jul 22, 2022
मॉनसून में पाचन तंत्र को ठीक रखने के लिए करें इन 5 प्रोबायोटिक फूड्स का सेवन

मॉनसून के आते ही पेट खराब होना, अपच और गैस जैसी समस्याएं काफी बढ़ जाती हैं। ऐसे में पाचन तंत्र को ठीक रखने के लिए प्रोबायोटिक फूड्स खाना फायदेमंद हो सकता है। प्रोबायोटिक फूड हमारे शरीर में गुड बैक्टीरिया बढ़ाने का काम करते हैं। शरीर में गुड बैक्‍टीरिया बढ़ने से हमारा डाइजेशन और इम्‍यूनिटी आदि ठीक रहता है। प्रोबायोटिक को फंक्शनल फूड्स भी कहा जाता है। मॉनसून में बैक्टीरिया अधिक सक्रिय हो जाते हैं, जिस कारण पेट से जुड़ी समस्याएं ज्यादा होने लगती हैं। आइए जानते हैं कौन से प्रोबायोटिक फूड्स खाकर आप हल्दी रह सकते हैं। 

इडली

इडली को आप नाश्ते और लंच में आसानी से खा सकते है। ये आसानी से पचती भी है। इडलीचावल और दाल को फर्मेंटेड करके तैयार किए जाता है, जिस कारण इसमे गुड बैक्टीरिया काफी अच्छी मात्रा में होते हैं। इडली में कोलेस्ट्रॉल और फैट नही होता, जिस कारण इसे हृदय रोग और हाई बीपी वाले पेशेंट भी आसानी से खा सकते है। 

दही

दूध से बनी दही हमारे शरीर में आसानी से पच जाती है, क्योंकि इसमे गुड बैक्टीरिया की मात्रा काफी ज्यादा होती हैं। दही का सेवन आप नाश्ते और लंच में कर सकते हैं। दही हमारे मेटाबॉलिज्म और इम्यूनिटी बढ़ाने में मदद करता है। इसे खाने से हमारा डाइजेशन अच्छा रहता है। दही को छाछ और लस्सी के रूप में भी सेवन कर सकते हैं।

अचार

घर के बना अचार भी एक प्रोबायोटिक फूड है, क्योंकि इसे भी फर्मेंट करके बनाया जाता है, जिससे इसमें काफी मात्रा में गुड बैक्टीरिया पाए जाते हैं। ये बैक्टीरिया पेट को हेल्दी रखने में मदद करते हैं। पारंपरिक रूप से बने अचार को नमकीन पानी में काफी समय तक रखकर फर्मेंट किया जाता है, जिससे इसमें गुड बैक्टीरिया की मात्रा बढ़ जाती है। ज्यादातर अचार में प्रचुर मात्रा में  विटामिन के और विटामिन ए होते हैं, जो शरीर के लिए काफी फायदेमंद होते हैं। ध्यान रखें अचार का सेवन बहुत ज्यादा भी न करें क्योंकि इसमें नमक ज्यादा होता है। बीपी के मरीजों को अचार का सेवन करने की सलाह नहीं दी जाती है। ये सेहत के लिए हानिकारक भी हो सकते हैं।

पनीर

पनीर में कैल्शियम काफी अच्छी मात्रा में पाया जाता है, जो शरीर की हड्डियों को मजबूत बनाता है। पनीर में  विटामिन बी12, कैल्शियम, फॉस्फोरस और सेलेनियम आदि भी पाए जाते हैं, जो शरीर को स्वस्थ रखने में काफी फायदेमंद हैं। पनीर भी एक तरह का प्रोबायोटिक फूड है, इसलिए ये पेट की परेशानियां दूर करने में सहायक है। पनीर को कच्चा,सब्जी, भुर्जी और सलाद के रूप में भी खाया जा सकता है।  

इसे भी पढ़ें- मॉनसून की इन 7 समस्याओं को दूर कर सकता है अदरक, जानें प्रयोग का तरीका

Probiotic Foods

योगर्ट

योगर्ट प्रोटीन से भरपूर होता है, जो शरीर को मजबूत रखने का काम करता है। अगर आप को चीज़ (Cheese) खाना पसंद है और डाइटिंग की वजह से उसे नहीं खा पाते, तो ऐसे समय में आप योगर्ट का सेवन करके खुद को हेल्दी रख सकते हैं। योगर्ट हाई ब्लड प्रेशर को भी कम करता है। योगर्ट में काफी मात्रा में गुड बैक्टीरिया पाए जाते हैं, जो पेट और  पाचनतंत्र को ठीक रखते हैं। 

All Image Credit- Freepik

Disclaimer