Doctor Verified

प्रेगनेंसी के दौरान नाभि के बाहर निकलने (आउटी बेली बटन) के क्या कारण हो सकते हैं?

प्रेग्नेंसी में आउटी बेली बटन कई महिलाओं में देखा गया है। यह एक सामान्य स्थिति होती है। आइए जानते हैं इस बारे में-

 

Kishori Mishra
Written by: Kishori MishraPublished at: Apr 12, 2022Updated at: Apr 12, 2022
प्रेगनेंसी के दौरान नाभि के बाहर निकलने (आउटी बेली बटन) के क्या कारण हो सकते हैं?

प्रेग्नेंसी के दौरान शरीर में कई तरह के बदलाव देखने को मिलते हैं। खासतौर पर इस दौरान कई महिलाओं का वजन घटना है। इसके अलावा शरीर के कई अंगों में भी बदलाव देखने को भी मिल सकता है। इन बदलावों में प्रेग्नेंसी के दौरान नाभि के आसपास उभार भी शामिल है। गर्भावस्था के कुछ सप्ताह बाद महिलाओं की नाभि में उभार आने लगता है। इस स्थिति को ही आउटी बेली बटन कहा जाता है। इसकी वजह से कई महिलाओं की नाभि में दर्द की परेशानी होती है। लेकिन आपको बता दें कि यह एक सामान्य स्थिति है, इसमें घबराने की जरूरत नहीं होती है। इस विषय पर जानकारी के लिए हमने नोएडा स्थित मदरहुड हॉस्पिटल की गायनाकोलॉजिस्ट डॉक्टर मनीषा रंजन से बातचीज की। आइए जानते हैं इसके बारे में विस्तार से-

क्या कहती हैं एक्सपर्ट ?

डॉक्टर बताती हैं कि प्रेग्नेंसी के दौरान आउटी बेली बटन होना सामान्य है। हालांकि, यह जरूरी नहीं है कि सभ महिलाओं के बेली बटन में उभार हो। आमतौर पर आउटी बेली बटन गर्भावस्था के दूसरे या तीसरे तिमाही में होता है। अगर आप इस अवस्था में हैं, तो यह चिंता का विषय नहीं है। आउटी बेली बटन सामान्यतौर पर किसी तरह का दर्द नहीं होता है। हालांकि, अगर आप प्रेग्नेंसी के दौरान कमरबंद या फिर टाइट कपड़े पहनते हैं, तो आपको दर्द हो सकता है। इसलिए कोशिश करें कि गर्भावस्था के दौरान ढीले कपड़े पहनें। 

इसे भी पढ़ें - डिलीवरी के बाद बेली बाइंडिंग का इस्तेमाल क्यों जरूरी है, जानें इससे होने वाले फायदे

प्रेग्नेंसी में आउटी बेली के कारण?

गर्भावस्था के दौरान शरीर में कई तरह के बदलाव देखने को मिलते हैं। खासतौर पर इस दौरान शरीर का वजन काफी तेजी से बढ़ता है। गर्भावस्था के दौरान जैसे-जैसे आपके बच्चे का वजन और आकार बढ़ता है, वैसे-वैसे गर्भ का आकार भी बढ़ता है। जिसकी वजह से आपका गर्भाशय फैलता है। इसके साथ ही गर्भावस्था में एमनियोटिक द्रव (गर्भ का पानी) का निर्माण होता है, यह द्रव्य एक सुरक्षात्मक तरल पदार्थ होता है, जो यूट्रस के अंदर शिशु को चारो ओर घेरे रखती है। इस द्रव की वजह से ही गर्भ में किसी तरह का दबाव और धक्के से शिशु का बचाव किया जा सकता है। इस द्रव्य के कारण नाभि पर दबाव पड़ता है, जिसकी वजह से प्रेग्नेंसी में बेली बटन बाहार आने लगता है। इसलिए इसे आउटी बेली बटन कहा जाता है। 

क्या प्रेग्नेंसी के बाद बेली बटन सामान्य हो जाती है?

हां, डिलीवरी के कुछ महीनों बाद आपकी बेली बटन सामान्य स्थिति में वापस आ जाती है। हालांकि, कुछ स्थितियों में यह थोड़ा सा फैला हुआ लग सकता है। लेकिन सभी के साथ ऐसा हो यह जरूरी नहीं होता है। 

आउटी बेली बटन की वजह से होने वाले दर्द से कैसे पाएं राहत?

आउटी बेली बटन की वजह से अगर आपकी नाभि में दर्द हो रहा है, तो इसका कारण नाभि में दबाव हो सकता है। इसलिए कोशिश करें कि नाभि में किसी तरह का दबाव न पड़े। सोते समय नाभि को सपोर्ट देने के लिए तकिए का इस्तेमाल करें। 

इसे भी पढ़ें - प्रेगनेंसी में कुछ महिलाओं को भूख कम क्यों लगती है ? डॉक्टर से जानें इसके कारण और उपाय

  • नाभि में किसी तरह की खुजली, जलन या दर्द की स्थिति होने पर तेल या लोशन का इस्तेमाल करें।
  • अगर आपने नाभि में किसी तरह की पियर्सिंग कराई है, तो प्रेग्नेंसी के दौरान इसे हटा लें।
  • प्रेग्नेंसी में हमेशा ढीले कपड़े पहनें। ताकि नाभि पर किसी तरह का प्रेशर न पड़े। 

गर्भावस्था के दौरान आउटी बेली बटन की परेशानी होना सामान्य है। हालांकि, कुछ स्थिति में अगर आपको इसमें किसी तरह का संक्रमण,  जलन, दर्द इत्यादि का सामना करना पड़ सकता है। इस स्थिति में तुरंत डॉक्टर से संपर्क करें। 

 

 

 

Disclaimer