चीन में आई नई संक्रामक बीमारी, अब तक हजारों लोग हो चुके हैं इस नए बैक्टीरियल इंफेक्शन का शिकार

कोरोना वायरस जैसी गंभीर महामारी के बाद चीन में आई एक और नई बीमारी। इस लेख से जानें, संक्रिमतों की संख्या, बीमारी के लक्षण, कारण आदि के बारे में...

सम्‍पादकीय विभाग
लेटेस्टWritten by: सम्‍पादकीय विभागPublished at: Sep 18, 2020Updated at: Sep 18, 2020
चीन में आई नई संक्रामक बीमारी, अब तक हजारों लोग हो चुके हैं इस नए बैक्टीरियल इंफेक्शन का शिकार

कोरोना महामारी के बाद चीन में एक और बीमारी ने हमला कर दिया है। इस बीमारी ने हजारों लोगों को अपनी चपेट में ले लिया है। बीमारी का नाम है ब्रुसेलोसिस। बता दें कि चीन में कई हजार लोग ब्रुसेलोसिस पॉजिटिव पाए गए हैं। इसकी पुष्टि एक चीनी अधिकारी द्वारा की गई है। अब सवाल ये है कि ब्रुसेलोसिस क्या है? अधिकारियों के मुताबिक पिछले साल एक बायोफार्मस्यूटिकल कंपनी में रिसाव (लीक) के बाद कई लोगों में ये संक्रमण दिखाई दिया। ये रिसाव साल 2019 में जुलाई महीने के अंत से अगस्त माह के आखिरी तक चला। इससे उत्तर-पश्चिम चीन (Northwest China) में कई हजार लोग बैक्टीरियल इंफेक्शन से संक्रमित पाए गए हैं। गांसु प्रांत की राजधानी लान्चो के स्वास्थ्य आयोग के अनुसार, 3,245 लोगों का टेस्ट पॉजिटिव पाया गया। हालांकि इस बीमारी से अभी तक किसी की मौत नहीं हुई है। पर इसका मतलब ये नहीं कि ये बीमारी खतरनाक नहीं है। 

new disease in china

कितने लोगों का हुआ टेस्ट-

बता दें कि शहर की आबादी 29 लाख है। लेकिन टेस्ट केवल 21,849 लोगों का हुआ है। ये वो लोग हैं, जिनमें लक्षण देखे गए हैं। शहर के लोग कोरोना वायरस के बाद अब इस बीमारी से काफी घबराए हुए हैं। 

इस बीमारी के लक्षण-

संयुक्त राज्य अमेरिका के रोग नियंत्रण और रोकथाम केंद्र Centers for Disease Control and Prevention (CDC) ने इसके लक्षण सबके सामने शेयर करे हैं। उनके अनुसार इस बीमारी को माल्टा फीवर या Mediterranean फीवर कहते  हैं। इसके लक्षण निम्न प्रकार हैं-

  1. सिरदर्द या मांसपेशियों में दर्द होना।
  2. बुखार और थकान होना। 
  3. इसके अलावा लक्षण पुराने हो सकते हैं जैसे गठिया या कुछ अंगों में सूजन होना।  
कैसे फैलता है ये संक्रमण-

यह एक संक्रामक जीवाणु रोग हैं। मानव को ये बीमारी किसी पशु के संपर्क में आने से होती है। संयुक्त राज्य अमेरिका के रोग नियंत्रण और रोकथाम केंद्र के मुताबिक, पशु के संपर्क में आने के बाद दो इंसान संक्रमित हो जाता है उससे ये बीमारी दूसरे इंसान में सांस के जरिये प्रवेश कर सकती है। यानी इसका मानव से मानव संचरण सांस के माध्यम से होता है। इसके अलावा लोग इस बीमारी से संक्रमित तब होते हैं जब वे दूषित भोजन खा लेते हैं। साथ ही संक्रमित मां के कारण उसके शिशु में भी ये बीमारी ब्रेस्ट फीडिंग के कारण हो सकती है। इस बीमारी से बचने के लिए भी मास्क का प्रयोग किया जा सकता है।

इसे भी पढ़ें- क्या आपकी जीभ का रंग भी बदलता है? लाल, सफेद, नीले जीभ के रंग से पता करें अपनी बीमारी

इस बीमारी को किससे है खतरा- 

वैसे तो ये बीमारी पुरुष और महिला दोनों के लिए हानिकारक है। लेकिन महिलाओं के मुकाबले इस बीमारी से पुरुषों को ज्यादा परेशानी हो सकती है। अगर किसी पुरुष को ये बीमारी होती है तो उन्हें बांझपन जैसी गंभीर बीमारी हो सकती है। 

Read More Articles on Health News in Hindi

Disclaimer