Navratri 2020: नवरात्रि में मखाना खाने से नहीं होती ये 6 गंभीर बीमारियां, शरीर को मिलता है पूरा पोषण

नवरात्र के नौ दिनों में बहुत से लोग व्रत रखते हैं ऐसे में शरीर में कई पोषक तत्वों की कमी हो जाती है। जानें इस कमी को दूर करने का तरीका। 

Atul Modi
Written by: Atul ModiPublished at: Sep 21, 2017Updated at: Oct 15, 2020
Navratri 2020: नवरात्रि में मखाना खाने से नहीं होती ये 6 गंभीर बीमारियां, शरीर को मिलता है पूरा पोषण

नौ दिनों तक चलने वाला नवरात्रि पर्व बहुत ही पवित्र माना जाता है। हिंदू धर्म में इस धार्मिक त्‍योहार का अलग ही महत्‍व है। इन नौ दिनों में मां दुर्गा के अलग-अलग नौ रूपों की पूजा होती है। ज्‍यादातर लोग न देवी की पूजा और आराधना करते हैं। इस दौरान लोग सात्विक भोजन का सेवन करते हैं। कई लोग प्याज, लहसुन का परहेज करते हैं, तो वहीं कई लोग व्रत में फलाहार ही करते हैं। ऐसे में शरीर में कई अच्‍छे पोषक तत्व मिलते हैं तो वहीं कुछ की कमी भी रह जाती है।

इन पोषक तत्वों की कमी से कई तरह की बीमारियों का सामना भी करना पड़ सकता है, इसलिए ये जरूरी हो जाता है कि ऐसे खाद्य पदार्थों का सेवन किया जाए, जिससे पोषक तत्वों की पूर्ति के साथ ऊर्जा भी मिले। मखाना, जिसे आप ड्राई-फ्रूट के साथ हल्का-फुल्का स्नैक्स भी कह सकते हैं, इसे खाने से बीमारियों से बचाव होता है। आप इसे व्रत में भी खा सकते हैं। इसे आप शुद्ध देसी घी में भूनकर सेंधानमक के साथ सेवन कर सकते हैं। 

डायबिटीज

अगर आप जल्द से जल्द डायबिटीज को खत्म करना चाहते है और सेहत के अन्य लाभ पाना चाहते हैं, तो सुबह खाली पेट चार मखाने खाएं। इनका सेवन कुछ दिनों तक लगातार करें। आप मखाने के चार दानों का सेवन करके शुगर से हमेशा के लिए निजात पा सकते है। इसके सेवन से शरीर में इंसुलिन बनने लगता है और शुगर की मात्रा कम हो जाती है। फिर धीरे-धीरे शुगर रोग भी खत्म हो जाता है। 

दिल की बीमारियां

मखाना हार्ट अटैक जैसी गंभीर बीमारियों में भी फायदेमंद है। इनके सेवन से दिल स्वस्थ रहता है और पाचन क्रिया भी दुरूस्त रहती है।    

किस उम्र में कितना दूध पीना सही है, जानिए

तनाव  

मखाने के सेवन से तनाव दूर होता है और अनिद्रा की समस्या भी दूर रहती है। रात को सोने से पहले दूध के साथ मखानों का सेवन करें और खुद फर्क महसूस करें। 

जोड़ों का दर्द

मखाने में कैल्शियम भरपूर मात्रा में होता है. इनका सेवन जोड़ों के दर्द, गठिया जैसे मरीजों के लिए काफी फायदेमंद साबित होता है। 

कोलेस्ट्रॉल और ब्लड प्रेशर कम करता है अखरोट, ये हैं 8 जबरदस्‍त फायदे 

पाचन क्रिया  

मखाना एंटी-ऑक्सीडेंट से भरपूर होता है, जो सभी आयु वर्ग के लोगों को आसानी से पच जाता है। इसके अलावा फूल मखाने में एस्ट्री जन गुण भी होते हैं, जिससे यह दस्त से राहत देता है और इससे भूख भी बढ़ती है। 

Read More Articles On Festival Special In Hindi

Disclaimer