Doctor Verified

ब्रेस्ट कैंसर से जुड़े ये 8 मिथक हैं बहुत कॉमन, डॉक्टर से जानें सच्चाई

Breast Cancer Myths and Facts: ब्रेस्ट कैंसर (स्तन कैंसर) से जुड़े इन मिथकों पर आंख मूंदकर विश्वास करना घातक हो सकता है, डॉक्टर से जानें सच्चाई।

Prins Bahadur Singh
Written by: Prins Bahadur SinghUpdated at: Oct 11, 2022 16:31 IST
ब्रेस्ट कैंसर से जुड़े ये 8 मिथक हैं बहुत कॉमन, डॉक्टर से जानें सच्चाई

Myths and Facts Related to Breast Cancer: ब्रेस्ट कैंसर या स्तन कैंसर (Breat Cancer in Hindi) की बीमारी महिला और पुरुष दोनों में हो सकती है। लेकिन यह समस्या ज्यादातर महिलाओं में देखी जाती है। स्तनों में कैंसर कोशिकाओं के बढ़ने की वजह से इस तरह के कैंसर की शुरुआत होती है। आमतौर पर ब्रेस्ट कैंसर में कैंसर कोशिकाएं एक ट्यूमर बनाती हैं और स्तनों पर गांठ का रूप ले लेती हैं। दुनियाभर में ब्रेस्ट कैंसर की वजह से होने वाली मौतें, कुल मौतों में पांचवे स्थान पर हैं। ब्रेस्ट कैंसर की बीमारी के बारे में जागरूकता की कमी के कारण महिलाओं इस बीमारी का गंभीर रूप से शिकार हो रही हैं। इसके अलावा ब्रेस्ट कैंसर से जुड़ी तमाम बातें इंटरनेट और सोशल मीडिया पर कही जाती हैं, जिनपर आंख मूंदकर भरोसा करना घातक हो सकता है। ब्रेस्ट कैंसर से जुड़े कॉमन मिथक (भ्रामक बातें) और उनकी सच्चाई जानने के लिए Onlymyhealth ने फोर्टिस हॉस्पिटल मुलुंड और फोर्टिस हॉस्पिटल वाशी की ऑन्कोलॉजिस्ट डॉ. उमा डांगी से संपर्क किया। आइए डॉ. उमा से नाजते हैं ब्रेस्ट कैंसर से जुड़े कॉमन मिथ और उनकी सच्चाई।

ब्रेस्ट कैंसर से जुड़े कॉमन मिथक और उनकी सच्चाई- Breast Cancer Myths and Facts in Hindi

ब्रेस्ट कैंसर से जुड़े कुछ कॉमन मिथक या भ्रामक बातें और उनकी सच्चाई इस तरह से हैं-

1. मिथक: ब्रेस्ट कैंसर की फैमिली हिस्ट्री नहीं होने पर मुझे इसका खतरा नहीं है

सच्चाई:  ब्रेस्ट कैंसर को लेकर प्रचलित कॉमन मिथक यह है कि बिना पारिवारिक इतिहास के आपको ब्रेस्ट कैंसर का खतरा नहीं रहता है। इस बात की सच्चाई बिलकुल इसके विपरीत है। ब्रेस्ट कैंसर के ज्यादातर मामलों में पहले से कोई पारिवारिक इतिहास नहीं मिलता है।

Myths and Facts Related to Breast Cancer

इसे भी पढ़ें: महिलाओं में ब्रेस्ट कैंसर के लक्षण क्या होते हैं? जानें इसके जांच और इलाज के तरीके

2. मिथक:  ब्रा पहनने से ब्रेस्ट कैंसर हो सकता है

सच्चाई: सोशल मीडिया और इंटरनेट पर यह बात बहुत ज्यादा फैली हुई है कि ब्रा पहनने के कारण ब्रेस्ट कैंसर की बीमारी हो सकती है। जबकि वैज्ञानिकों या डॉक्टरों को अभी तक इस बात के कोई पुष्ट प्रमाण नहीं मिले हैं। इसलिए ऐसा कहना कि ब्रा पहनने से ब्रेस्ट कैंसर होता है, बिलकुल गलत होगा।

3. मिथक:  वजन कंट्रोल, व्यायाम करने और हेल्दी डाइट लेने वाले लोगों को ब्रेस्ट कैंसर के बारे में चिंता नहीं करनी चाहिए

सच्चाई: ब्रेस्ट कैंसर के जोखिम को कम करने के लिए वजन कंट्रोल में रखना, हेल्दी डाइट का सेवन करना और नियमित रूप से व्यायाम करना व शराब का सेवन सीमित करना फायदेमंद होता है, लेकिन ऐसा करने का मतलब यह नहीं है कि आपको ब्रेस्ट कैंसर नहीं हो सकता है।

4. मिथक: ब्रेस्ट कैंसर होने पर हमेशा गांठ बनती है 

सच्चाई: ब्रेस्ट कैंसर की बीमारी के बारे में यह कहा जाता है कि इस समस्या की शुरुआत होने पर आपके स्तनों पर गांठ बनती है, लेकिन ब्रेस्ट कैंसर के शुरुआती स्टेज में ऐसा नहीं होता है।

इसे भी पढ़ें: स्तन में होने वाली गांठ हो सकती है 'ब्रेस्ट कैंसर' का संकेत, जानें क्या है इसके मुख्य लक्षण और बचाव

5. मिथक: हर साल मैमोग्राम टेस्ट कराने से ब्रेस्ट कैंसर का पता शुरूआती स्टेज में चल जाता है

सच्चाई: मैमोग्राफी टेस्ट ब्रेस्ट कैंसर की पहचान के लिए सबसे जरूरी टेस्ट माना जाता है, लेकिन शुरूआती स्टेज में यह जरूरी नहीं है कि मैमोग्राफी टेस्ट से इसका पता किया जा सकता है।

6. मिथक: सिर्फ महिलाओं को ही ब्रेस्ट कैंसर होता है

सच्चाई: ऐसा कहा जाता है कि ब्रेस्ट कैंसर सिर्फ महिलाओं को ही होता है, लेकिन महिलाओं के अलावा यह समस्या पुरुषों में भी हो सकती है।

7. मिथक: ब्रेस्ट कैंसर सिर्फ मध्यम उम्र और ज्यादा उम्र की महिलाओं को होता है

सच्चाई: ऐसा बिलकुल भी नहीं है, ब्रेस्ट कैंसर की समस्या किसी को भी किसी भी उम्र में हो सकती है।

8. मिथक: डिओडोरेंट्स की वजह से ब्रेस्ट कैंसर होता है

सच्चाई: डिओडोरेंट्स और एंटीपर्सपिरेंट को लेकर यह कहा जाता है कि इसकी वजह से आपको ब्रेस्ट कैंसर हो सकता है, हालांकि अभी तक इस बात की पुष्टि के लिए कोई भी वैज्ञानिक प्रमाण नहीं मिले हैं।

इसे भी पढ़ें: ब्रेस्ट कैंसर से बचाव के लिए महिलाएं खाएं ये 5 फूड्स, कैंसर सेल्स पनपने का खतरा होता है कम

स्तन कैंसर तब फैल सकता है जब कैंसर कोशिकाएं रक्त या लसीका प्रणाली में पहुंच जाती हैं और शरीर के अन्य हिस्सों में पहुंच जाती हैं। ब्रेस्ट कैंसर के लक्षण दिखने पर डॉक्टर से तुरंत संपर्क करना चाहिए।

Disclaimer