क्या आपके बच्चे का भी है गुस्सैल व्यवहार? तो डांट कर नहीं प्यार से ऐसे समझाएं

अगर आप भी अपने बच्चे के गुस्सैल व्यवहार से परेशान हैं तो आप ऐसे अपने बच्चे के गुस्से पर करें काबू। 

 

Vishal Singh
परवरिश के तरीकेWritten by: Vishal SinghPublished at: Dec 12, 2019Updated at: Dec 12, 2019
क्या आपके बच्चे का भी है गुस्सैल व्यवहार? तो डांट कर नहीं प्यार से ऐसे समझाएं

गुस्सा इंसान में बहुत ही आम भावना है। ये हम सब में कई बार और कहीं भी आ जाता है। ऐसा ही आजकल बच्चों में भी देखा जाता है। बच्चे भी खेलने कूदने और पढ़ने की उम्र में गुस्सा करने की आदत पाल लेते हैं। हालांकि बच्चों को इस बारे में पता नहीं होता की वो गुस्से में कैसा बर्ताव कर रहे हैं, इसलिए वो गुस्से में या तो चिल्लाते है या फिर नाराज होकर बैठ जाते हैं। 

कई बार बच्चों की जिद ही बच्चों के गुस्से का एक कारण बन जाता है। आपके लिए बच्चे का गुस्सा शांत कराकर उन्हें मना लेना ही काफी नहीं है। बल्कि आप अपने बच्चे को समझाने की कोशिश करें की वो अपने गुस्से या फिर अपनी जिद के साथ कैसे बर्ताव करें। अक्सर ऐसा होता है की बच्चे गुस्से में गलत बोल जाते हैं या फिर कुछ ऐसा करते हैं जो गलत होता है। 

ऐसे में आपको अपने बच्चे को समझाने की जरूरत है की क्या सही है और क्या गलत है। हम आपको इस लेख में कुछ ऐसे तरीके बताएंगे जिससे आप अपने बच्चे के गुस्से को कंट्रोल कर सकते हैं। 

आप अपने बच्चे को कभी भी सजा के तौर पर डांटे या मारे नहीं बल्कि आप उसे प्यार से भी समझा सकते हैं। अगर आप अपने बच्चे को इस चीज पर डांटते या फिर मारते हैं तो वो गुस्से में कुछ गलत कदम भी उठा सकता है या फिर कोई गलती कर सकता है। इससे आपके बच्चे पर गलत प्रभाव भी पड़ सकता है। 

इसे भी पढ़ें: गुस्‍सा करने से होती है ये जानलेवा बीमारी, इन 5 टिप्‍स से करें कंट्रोल

गुस्सा जताने का सही तरीका बताएं 

बच्चे अक्सर हर छोटी बातों पर अपनी नाराजगी जाहिर करते हैं, लेकिन गुस्सा करने और नाराजगी जाहिर करने में बहुत फर्क होता है। आप नाराजगी को अनदेखा कर सकते हैं, लेकिन आप बच्चे के गुस्से को कभी अनदेखा न करें। इससे भी ज्यादा इस बात पर ध्यान देना चाहिए की आपका बच्चा किस तरह गुस्से को जता रहा है। 

किसी की बात पर गुस्सा आना बहुत आम होता है। लेकिन आप अपने बच्चे का बर्ताव ऐसे बनाए की उसमें गुस्सा न हो और अगर गुस्सा हो भी तो उस पर कंट्रोल कर सके। बच्चे को अपने ही बर्ताव में गुस्से को सहने और पॉजिटिव तरीके से जताने का बर्ताव होना जरूरी है। इसलिए पैरेंट्स अपने बच्चे को सही तरीके से गुस्सा जताने का तरीका बताएं। जिससे की वो गुस्से में कोई गलत काम न करें। बच्चों को इस बात की शिक्षा दें की वो गुस्से में चिल्लाने के बजाए अगर लॉजिकल तरीके से अपनी बात कहेंगे तो ज्यादा फर्क पड़ेगा। 

गलत और सही का मतलब बताएं

बच्चे को इस बात की जानकारी देना बहुत जरूरी होता है की गुस्से में क्या करना और कहां तक करना सही है। कई बार बच्चे गुस्से में कुछ ऐसा बोल देते हैं या फिर कुछ ऐसा कर देते हैं जो उन्हें नहीं करना चाहिए था। जरूरी नहीं की पैरेंट्स को ही सिर्फ बच्चों के गुस्से पर काबू करने के बारे में पता होना चाहिए, बल्कि बच्चे के टीचर्स को भी इस बात की जानकारी होनी चाहिए। 

अगर आपकी बताई गई चीजों को पार करके बच्चा अपना गुस्सा जाहिर कर रहा है तो आपको इस पर तुरंत उसको समझाने की जरूरत है और उसे बताएं की वो गलत कर रहा है। 

इसे भी पढ़ें: सावधान, गुस्सा दे सकता है आपको हार्ट अटैक

जब आपका बच्चा गुस्सा करें तो आप उस समय उसे न समझाएं, आप अपने बच्चे के गुस्से को थोड़ा शांत होने के बाद उससे बात करें। गुस्सा शांत होने के बाद आप उसे बताएं की गुस्से में उनका बर्ताव गलत था। अगर आप उससे गुस्से में ही समझाएंगे तो वो समझने के बजाए और ज्यादा गुस्सा करेगा और उसका बर्ताव भी नहीं बदलेगा। 

Read More Article On Parenting in Hindi

Disclaimer