Expert

मैग्नीशियम की कमी होने पर दिखाई देते हैं ये 7 लक्षण, जानें इसके स्रोत

Magnesium Deficiency Symptoms: शरीर में मैग्नीशियम की कमी होने पर कई संकेत और लक्षण देखने को मिलते हैं, जानें मैग्नीशियम की कमी दूर कैसे करें।

Vineet Kumar
Written by: Vineet KumarPublished at: Sep 01, 2022Updated at: Sep 02, 2022
मैग्नीशियम की कमी होने पर दिखाई देते हैं ये 7 लक्षण, जानें इसके स्रोत

Magnesium Deficiency Symptoms In Hindi: जब आप संतुलित और पोषक तत्वों से भरपूर आहार नहीं लेते हैं या जंक और प्रोसेस्ड फूड्स का सेवन अधिक करते हैं, तो इससे शरीर में पोषण की कमी हो जाती है। वर्तमान समय में खराब खानपान कुपोषण का सबसे बड़ा कारण है। लेकिन शरीर में कुछ पोषक तत्वों की कमी से सेहत पर कई गंभीर प्रभाव देखने को मिल सकते हैं। ऐसा ही शरीर के लिए एक जरूरी पोषक तत्व है मैग्रनीशियम। मैग्नीशियम एक मिनरल है, जो शरीर के कई कार्य में बहुत अहम भूमिका निभाता है। शरीर में मैग्नीशियम की कमी को मेडिकल भाषा में हाइपोमैग्नेसीमिया कहा जाता है।

आमतौर पर लोग मैग्नीशियम की कमी को गंभीरता से नहीं लेते हैं। लेकिन हम में से ज्यादातर लोग यह नहीं जानते हैं, कि लंबे समय में शरीर में मैग्नीशियम की कमी डायबिटीज, सीलिएक रोग, पोषक तत्वों का खराब अवशोषण, उल्टी-दस्त के साथ ही मानसिक स्थितियों का भी कारण बन सकती है। बहुत लोग अक्सर पूछते हैं कि मैग्नीशियम की कमी के लक्षण क्या होते हैं? साथ ही मैग्नीशियम की कमी दूर कैसे करें (magnesium ki kami kaise dur karen)? इसके बारे में अधिक जानकारी के लिए हमने क्लीनिकल न्यूट्रिशनिस्ट और डायटीशियन गरिमा गोयल से बात की। इस लेख में हम आपको मैग्नीशियम की कमी के 7 लक्षण (magnesium ki kami ke lakshan) और इसके खाद्य स्रोत बता रहे हैं, जिन्हें डाइट में शामिल करके आप मैग्नीशियम की कमी पूरी कर सकते हैं

Magnesium Deficiency Symptoms In Hindi

मैग्नीशियम की कमी के लक्षण- Magnesium Deficiency Symptoms In Hindi

  1. ब्लड प्रेशर कंट्रोल से बाहर और हाई रहना
  2. चिंता, तनाव और अवसाद जैसी मानसिक स्थितियों से आए दिन निपटना
  3. हार्ट रेट बढ़ना या अनियमित होना
  4. कमजोर, भंगुर हड्डियां और फ्रैक्चर के प्रति अधिक संवेदनशीलता
  5. मांसपेशियों में अकड़न, दर्द, ऐंठन और मरोड़ की समस्या होना
  6. बहुत अधिक थकान और शरीर में कमजोरी लगना
  7. सांस संबंधी समस्याएं जैसे अस्थमा आदि का सामना करना
देखें विडियो:

मैग्नीशियम रिच फूड्स- Magnesium Rich Foods In Hindi

  • हरी-पत्तेदार सब्जियां खाएं: हरी सब्जियों में मैग्नीशियम प्रचुर मात्रा में मौजूद होता है। आप साग, पालक, मेथी, सलाद के पत्ते, केल, शलजम आदि को डाइट में शामिल कर सकते हैं।
  • नट्स, बीज और ड्राई फ्रूट्स खाएं: बादाम, काजू, ब्राजील नट्स, अलसी, कद्दू और चिया के बीज के साथ ही छुहारा, अंजीर, मुनक्का, किशमिश आदि को अधिक सेवन करें।
  • फल खाएं: मैग्नीशियम से भरपूर फल जैसे केला, एवोकाडो आदि का सेवन करें। अपने आहार में ज्यादा फलों को शामिल करने की कोशिश करें।
  • दाल और फलियां खाएं: दालें पोषक तत्वों का भंडार होती हैं। साथ ही राजमा, छोले, मटर आदि में मैग्नीशियम की अच्छी मात्रा होती है।
  • डेयरी प्रोडक्ट्स और मीट खाएं: दूध, दही, पनीर, छाछ आदि में मैग्नीशियम की अच्छी मात्रा होती है। साथ ही मांस जैसे चिकन, मछली आदि में मैग्नीशियम भरपूर मात्रा में होता है

अगर आप उपरोक्त लक्षणों का अनुभव करते हैं, तो ऐसे में डॉक्टर से संपर्क करें, जिससे कि वह आपको जरूर उपचार और सप्लीमेंट्स का सुझाव दे सके। मैग्नीशियम की से जल्द छुटकारा पाने के लिए उपरोक्त फूड्स को डाइट में शामिल करें।

All Image Source: Freepik.com

(With Inputs: Dietitian Garima Goyal, MS, RD, CDE, Founder- Dt. Garima Diet Clinic , Ludhiana, Punjab)

Disclaimer