खून की नसों और आपकी आंतों को हेल्दी रखेगा ल्यूक कौटिन्हो का ये घरेलू नुस्खा, इम्यूनिटी भी होगी दुरुस्त

न्यूट्रिशिनिस्ट ल्यूक कौटिन्हो ने दो ऐसी चाय के बारे में बताया है, जो आपके स्वास्थ्य के लिए किसी 'वरदान' से कम नहीं है। 

Jitendra Gupta
Written by: Jitendra GuptaPublished at: Jan 28, 2020
खून की नसों और आपकी आंतों को हेल्दी रखेगा ल्यूक कौटिन्हो का ये घरेलू नुस्खा, इम्यूनिटी भी होगी दुरुस्त

शरीर को स्वस्थ रखने के लिए सही खान-पान बहुत ज्यादा जरूरी है लेकिन मौजूदा वक्त में ऐसा मुमकिन नहीं है। क्यों ? इसके पीछे एक बड़ी वजह है। दरअसल युवाओंस, बच्चों और महिलाओं को जंक फूड, तला भुना खाने और चटपटी चीजों का आनंद लेने की आदत पड़ गई है। यही कारण है कि मौजूदा वक्त में 30 की उम्र में आते-आते लोग डायबिटीज, ह्रदय रोगों और अन्य जीवनशैली से जुड़ी बीमारियों का शिकार हो रहे है। हालांकि खान-पान की स्वस्थ आदतों को अपनाकर इन सभी रोगों से दूर रहा जा सकता है। न्यूट्रिशिनिस्ट ल्यूक कौटिन्हो आपको इन बीमारियों से बचे रहने का एक अचूक तरीका बताने जा रहे हैं, जो आपको स्वस्थ बनाए रखने में मदद कर सकता है।

न्यूट्रिशिनिस्ट ल्यूक कौटिन्हो ने एक इंस्टाग्राम पर अपने एक पोस्ट में डीएनए को सुरक्षित रखने, इम्यूनिटी बढ़ाने, रक्त वाहिकाओं को स्वस्थ बनाने और माइक्रोबायोम व आंतों की कोशिकाओं को स्वस्थ रखने के आसान तरीके के बारे में बताया है।

ल्यूक का कहना है कि इन मशहूर पेय पदार्थों का सेवन लगभग दशकों से किया जाता आ रहा है। लेकिन इन पेय पदार्थों को मौजूदा पीढ़ी ने खराब कर दिया है। फिर चाहे इनमें हार्मोन से भरे दूध को मिलाना हो या व्हाइट शुगर को या फिर फ्लेवर को। सभी ने इन पेय पदार्थों को फायदेमंद तत्वों को कम करने का काम किया है।

ल्यूक के इंस्टाग्राम पोस्ट के मुताबिक, जब हम हमारे शरीर के रक्षा तंत्र को मजबूत बनाने की बात करते हैं, जो हमारे शरीर को चलाने का काम करता है तो आप इन युवाओं की पसंदीदा और सेहतमंद चाय के साथ जाकर कुछ गलत नहीं कर रहे हैं। अगर आपको कैफीन से दिक्कत है तो इन्हें मत पीजिए। ल्यूक का कहना है कि बदलाव ही सबकुछ है और गुणवत्ता भी।

ल्यूक ने डीएनए को सुरक्षित रखने, इम्यूनिटी बढ़ाने, रक्त वाहिकाओं को स्वस्थ बनाने और माइक्रोबायोम व आंतों की कोशिकाओं को स्वस्थ रखने के लिए दो हेल्दी चाय के बारे में जानकारी दी है। ये चाय न केवल हमारे स्वास्थ्य को दुरुस्त रखने में मदद करती है बल्कि हमें कई रोगों से दूर रखने का भी काम करती हैं। ये चाय है माचा ग्रीन टी और होल लीफ ब्लैक टी।

न्यूट्रिशिनिस्ट ल्यूक का कहना है कि अगर इन दो पेय पदार्थों को सही तरीके से बनाया जाए और सही वक्त पर नियमित रूप से पीया जाए तो खुद को बड़ी आसानी से स्वस्थ रखा जा सकता है। इतना ही नहीं ऐसा करने से आपको डीएनए को सुरक्षित रखने, इम्यूनिटी बढ़ाने, रक्त वाहिकाओं को स्वस्थ बनाने और माइक्रोबायोम व आंतों की कोशिकाओं को स्वस्थ बनाए रखने में मदद मिलती है।

इसे भी पढ़ेंः पैरों में कंपकपी और झनझनाहट से हैं परेशान? तो इन 4 घरेलू नुस्खों से इस समस्या को करें दूर, मिलेगा आराम

tea

माचा ग्रीन टी को बनाने का तरीका

ल्यूक के मुताबिक,  माचा ग्रीन टी आम ग्रीन टी से अधिक शक्तिशाली होती है।

माचा पाउडर को छान लें। छाने हुए 1 से 2 चम्मच माचा को एक कप में डालें।

उसमें आधा कप पानी मिलाएं। अच्छे परिणाम के लिए हल्के गर्म पानी का ही प्रयोग करें। 

इस मिश्रण को तब तक हिलाएं जब तक चाय तैयार न हो जाए। 

तैयार है आपकी माचा चाय और इसे हल्के गुनगुने होने पर पीएं।

tea

होल लीफ ब्लैक टी बनाने का तरीका

एक कप पानी लें। 

उसमें एक छोटा ब्लैक टी बैग डालें।

आप अपने स्वादानुसार चीनी या शहद का प्रयोग कर सकते हैं। 

ब्लैक टी बनाने के लिए केतली/बर्तन में पानी डालें और मध्यम आंच पर उबलने के लिए रखें।

पानी में उबाल आने पर चाय पत्ती डाल दें। 

ब्लैक टी में चीनी नहीं डालने से यह चाय और भी फायदेमंद हो जाती है। 

बर्तन को 4 से 5 मिनट तक ढककर धीमी आंच पर उबलने दें। 

जब चाय अच्छी तरह से उबल जाए तो कप में छान लें और पीएं।

इसे भी पढ़ेंः छाती में भारीपन और जमा बलगम को निकाल फेंकेगा ल्यूक कौटिन्हो का ये घरेलु नुस्खा, जानें करने का तरीका

दोनों चाय बनाते वक्त बरतें ये सावधानियां

न्यूट्रिशिनिस्ट ल्यूक के मुताबिक आपको ये चाय बनाते वक्त इन तरह की गलतियों से बचना चाहिएः

  • टी बैग का प्रयोग करने से बचें।
  • अच्छी क्वालिटी वाले टी बैग का ही इस्तेमाल करें। 
  • बेहतर होगा कि ताजी चाय का ही सेवन करें।

चाय का सेवन करते वक्त बरतें ये सावधानियां

न्यूट्रिशिनिस्ट ल्यूक के मुताबिक आपको इस तरह से इन चाय का सेवन करना चाहिए

  • दिन में दो से तीन कप ही चाय पीएं।
  • दूध न मिलाएं। 
  • खाली पेट चाय न पीएं। 
  • अगर ये आपको सूट नहीं करती तो इसे पीने की कोशिश न करें।

Read More Articles On Home Remedies In Hindi

Disclaimer