OMH HealthCare Heroes Awards: जानें कोरोना के खिलाफ कैसे 'तारा द पपेट' लोगों को करती है जागरूक

कोरोना वायरस के खिलाफ लोगों और बच्चों में जागरूकता फैलाने के लिए 'तारा द पपेट' ने की पहल, अफवाहों का सच लाने का किया काम।

Vishal Singh
विविधWritten by: Vishal SinghPublished at: Sep 24, 2020Updated at: Sep 29, 2020
OMH HealthCare Heroes Awards: जानें कोरोना के खिलाफ कैसे 'तारा द पपेट' लोगों को करती है जागरूक
Category : Awareness Warriors
वोट नाव
कौन : 'तारा द पपेट'
क्या : 'तारा द पपेट' यानी एक कठपुतली के माध्‍यम से कोरोना के प्र‍ति जागरूक किया।
क्यों : यू‍निक तरीके से लोगों को किया जागरूक।

दुनियाभर में तेजी से फैल रहा कोरोना वायरस का प्रकोप अभी भी नहीं थम रहा है, ऐसे में इस खतरनाक महामारी को लेकर सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर कई गलत धारणाएं और गलत सूचनाओं को प्रसारित किया गया। इससे कारण कई अनजान लोग इस अफवाहों का शिकार बन गए, क्योंकि कुछ लोग तेजी से फैल रही अफवाहों को सच मानने लगते हैं। लेकिन इस मुश्किल घड़ी में कुछ जागरूकता योद्धाओं ने इस मिथकों को तोड़ने का काम किया और लोगों को सच से रू-ब-रू करवाया। ऐसे ही कई जागरूकता योद्धाओं के रूप में कई लोग पहचानें गए। Onlymyhealth, छिपी हुई COVID-19 योद्धाओं की ऐसी प्रेरक कहानियों को सामने ला रहा है और इस हेल्थकेयर हीरोज अवार्ड्स ’ के लिए आयोजन कर रहा है। 

अफवाहों को दूर करती है 'तारा द पपेट'

'तारा द पपेट' (Tara The Puppet) यानी एक ऐसी कठपुतली जो कोरोना जैसी महामारी की सही चीजों के बारे में जानकारी देने और सोशल मीडिया पर फैले अफवाहों से अवगत कराने का काम कर रही थी। आपको बता दें कि 'तारा द पपेट' की कहानी जागरूकता योद्धाओं की श्रेणी में नामित है। आप इनकी खास और जागरूकता की कहानी को जरूर पढ़ें।

अनूठी पहला है 'तारा द पपेट'

बच्चों को कोरोना वायरस के खिलाफ जागरूक करने के लिए यूनिसेफ, उत्तर प्रदेश सरकार और 'कठपुतली' एक साथ सामने आए हैं। 'तारा द पपेट' एक अनूठी कठपुतली है जो भारत के हजारों बच्चों, माता-पिता और शिक्षकों तक पहुंचती है और उन्हें जागरूक करने का काम करती है। ये यूनिसेफ उत्तर प्रदेश पहल के साथ कठपुतली द्वारा घर पर बनाई गई। इसके एपिसोड को दूरदर्शन और ऑल इंडिया रेडियो पर प्रसारित भी किया गया। 

इसे भी पढ़ें: कोरोना को मात देने के बाद स्‍मृति ने लोगों की भलाई के लिए किया प्‍लाज्‍मा डोनेट

सोशल मीडिया पर लोगों को आया पसंद

ये पपेट कोरोना वायरस के बारे में बच्चों के लिए आसान शब्दों में साझा करती है कि वे इस बीमारी के बारे में क्या जानती है और वह घर पर खुद को आसानी से कैसे सुरक्षित रख रही है। बच्चों को मनोरंजन कराने के साथ ये पपेट हैंडवाश के गाने और सामाजिक दूरी की अहमियत को भी साझा करती है। आपको बता दें कि इस कठपुतली के लिए स्वास्थ्य विभाग का अभियान 'तारा है तैयार' भी सोशल मीडिया पर काफी लोकप्रिय हुआ और लोगों को काफी पसंद भी आया। ये वीडियो यूनिसेफ की संचार विकास टीम द्वारा तैयार किया गया था। 

इसे भी पढ़ें: कर्मी-बॉट रोबोट COVID-19 के दौरान मानव के भार को कम कर रहा है

बच्चों को आसान शब्दों में देती है जानकारी

दुनियाभर में तेजी से फैल रहे इस कोरोना काल में इस बीमारी को समझने में कई बड़े वैज्ञानिक भी परेशान हो गए और काफी समय बाद बच्चों के माता-पिता इसके बारे में जानकारी ले पाएं तो बच्चों के लिए ये कितना मुश्किल है। इसलिए बच्चों को इस तरह के मनोरंजन के साथ बीमारी से अवगत कराते हुए उनकी अफवाहों को दूर रखने के लिए ये एक अच्छा विकल्प बना रहा। 'तारा द पपेट' बच्चों को कोरोनोवायरस बीमारी की स्थिति के बारे में जानकारी देने का एक अनूठा लेकिन प्रभावी तरीका है। जिसे बच्चों के साथ-साथ माता-पिता भी पसंद कर रहे हैं। अगर आपको लगता है कि तारा को पुरस्कार जीतना चाहिए, तो उसे वोट दें।

Read More Articles On Miscellaneous In Hindi 

Disclaimer