घर में लगाएं ये 5 औषधीय पौधे, छोटी-मोटी बीमारियां रहेंगी आप से दूर

आप अपनी समस्याओं का प्राकृतिक समाधान चाहते हैं, तो अपने आस-पास औषधीय पौधे लगाएं क्योंकि इनमें उपचार के अद्भुत गुण होते हैं।

 
Pallavi Kumari
Written by: Pallavi KumariPublished at: Mar 07, 2020Updated at: Mar 07, 2020
घर में लगाएं ये 5 औषधीय पौधे, छोटी-मोटी बीमारियां रहेंगी आप से दूर

स्वास्थ्य से जुड़ी हर छोटी परेशानी के लिए दवा लेना हमेशा सही नहीं होता। हमें कभी-कभी अपनी छोटी-छोटी बीमारियों के लिए घरेलू नुस्खों को भी अपना कर देखना चाहिए। वहीं अगर हम अपने घरों में कुछ मेडिसिनल प्लांट लगा लें, तो ये हमारी कई बीमारियों के लिए रामबाण इलाज साबित हो सकता है। आप आसानी से पौधों और जड़ी बूटियों की मदद से अपनी समस्याओं का खुद ही ध्यान रख सकते हैं। ऐसा इसलिए भी क्योंकि दवाएं कई साइड इफेक्ट्स के साथ आती हैं और कभी-कभी वे आगे स्वास्थ्य समस्याओं का कारण बन सकती हैं। इसलिए, अगर आप अपनी समस्याओं को स्वाभाविक रूप से प्रबंधित कर सकते हैं तो इन पौधों को घर में लगाना एक आदर्श समाधान हो सकता है। अगर आप प्राकृतिक तरीकों पर भरोसा रखते हैं, तो कुछ औषधीय पौधे हैं, जिनमें उपचार के अद्भुत गुण हैं। इन पौधों का उपयोग प्राचीन समय से उनके गुणकारी गुणों के लिए किया जाता है। आइए उनमें से कुछ पर एक नजर डालते हैं।

insideMEDICINE

गिंको बाइलोबा या जिन्‍कगो  (Ginkgo Biloba)

यह होम्योपैथी और चीनी चिकित्सा में व्यापक रूप से उपयोग किया जाता है। यह हल्के से मध्यम स्ट्रेस, सूजन, चिंता, अवसाद और दृष्टि समस्याओं का इलाज किया जा सकता है। यह ब्लड शुगर के स्तर को भी नियंत्रित कर सकता है और हड्डियों को तेजी से ठीक करने में मदद करता है। गिंको बाइलोवा की न सिर्फ पत्तियां, बल्कि इसकी शाखा से लेकर जड़ तक हर एक चीज उपयोग में आती हैं। इसकी पत्तियों से निकले अर्क से आंखों व ह्रदय से संबंधित कई बीमारियों का इलाज संभव है। अस्थमा, चक्कर, थकान व टिनिटस आदि बीमारियों के इलाज के लिए जिंको बाइलोबा का उपयोग सैकड़ों वर्षों से किया जा रहा है। लेकिन दीर्घकालिक उपयोग से थायरॉयड और लिवर कैंसर का खतरा बढ़ सकता है। 

insidemedicinalplant

इसे भी पढ़ें : तुलसी के पेड़ से करें मलेरिया का जड़ से इलाज

चाय का पेड़ (Tea Tree)

चाय के पेड़ से निकाला गया तेल त्वचा की स्थिति को हल्का कर सकता है जैसे कि हल्के मुंहासे, एथलीट फुट, छोटे घाव, रूसी और कीड़े के काटने इत्यादि। इसे अपनी त्वचा पर लगाने से पहले इससे एलर्जी की जांच करें। चाय के पेड़ का तेल हैंड सेंनिटाइजर के रूप में भी अच्छा काम कर सकता है। ये कीट निवारक भी है। ये चाय के पेड़ पेट के कीड़ों को दूर रखने में मदद कर सकता है। मामूली कट जाने पर और स्क्रैप के लिए एंटीसेप्टिक का काम कर सकता है। ये नाखून कवक से छुटकारा पाने में भी मदद करता है और आप इस खाने के बाद केमिकल-फ्री माउथवॉश के रूप में भी इस्तेमाल कर सकते हैं।

insideteatree

लैवेंडर (Lavender)

इस सुगंधित, बैंगनी फूल के तेल में एंटी-चिंता गुण होते हैं। यह संज्ञानात्मक क्षमता में भी सुधार करता है और आपको बेहतर नींद में मदद करता है। यह तेल रक्तचाप के स्तर को नियंत्रित कर सकता है, तनाव के स्तर को नीचे ला सकता है और माइग्रेन को रोक सकता है। इसके अलावा इसे घर में लगाने से आपको पोजिटिव फिलिंग्स भी मिलती है।

insidelevendar

कैमोमाइल (Chamomile)

यह आपको चिंता, तनाव, अनिद्रा और कैंसर से निपटने में मदद कर सकता है। लेकिन इसके इस्तेमाल से पहले आपको एलर्जी टेस्ट कराना होगा। ये ब्लड को पतला करने और हृदय से जुड़े जोखिमों में से एक ब्लॉकेज को दूर करने में मदद कर सकता है। वहीं अगर आपको इसे गंभीर बीमारी के लिए इस्तेमाल करना है, तो दवा के रूप में इस्तेमाल करने से पहले थोड़ा सावधान हो जाएं।

insidemedicineforbones

इसे भी पढ़ें : घर के आंगन में मौजूद इस 1 पेड़ की पत्तियों का पेस्ट तलवों पर लगाएं, बुखार से राहत पाएं

ईवनिंग प्रिमरोज (Evening Primrose)

इस फूल का तेल मल्टीपल स्केलेरोसिस के रोगियों के लिए जीवन की गुणवत्ता में सुधार कर सकता है। यह पीएमएस, त्वचा की स्थिति, मेनॉपोज, मधुमेह न्यूरोपैथी और रक्तचाप से निपटने में भी आपकी मदद कर सकता है। साथ ही साथ ये रक्त के थक्के बनाने वाली दवाओं के लिए भी काम आ सकता है पर गर्भवती महिलाओं के लिए सुरक्षित नहीं है। 

Read more articles on Home-Remedies in Hindi

Disclaimer